सत्ता संरक्षण में हुई है भीम आर्मी नेता के भाई सचिन वालिया की हत्या, योगी सरकार जिम्मेदार

पूरे प्रदेश में राजपूत अपराधियों के संरक्षण में खड़ी है योगी सरकार-रिहाई मंच...

पूरे प्रदेश में राजपूत अपराधियों के संरक्षण में खड़ी है योगी सरकार-रिहाई मंच

भीम आर्मी नेता कमल वालिया के भाई की हत्या पर पूरे प्रदेश में होगा प्रतिरोध

लखनऊ, 9 मई 2018. रिहाई मंच ने भीम आर्मी के सहारनपुर जिला अध्यक्ष कमल सिंह वालिया के भाई सचिन वालिया के हत्या पर रोष प्रकट करते हुए कहा कि सहारनपुर समेत पूरे प्रदेश में सामन्ती अपराधियों को योगी सरकार का खुला संरक्षण प्राप्त है, दूसरी तरफ इन्साफ के लिए संघर्षरत लोगों के खिलाफ सत्ता संरक्षण में हमले हो रहे हैं. मंच पूरे सूबे इन्साफ पसंद तंजीमों के साथ मिलकर सचिन वालिया की हत्या का प्रतिरोध करेगा.

रिहाई मंच महासचिव राजीव यादव ने सचिन वालिया के हत्या पर दुःख प्रकट करते हुए कहा कि पूरे सूबे में सामन्ती तत्वों के मनोबल चरम पर हैं क्योंकि सामन्ती ताकतों के सरगना खुद मुख्यमंत्री हैं. योगी आदित्यनाथ पहले हिन्दू युवा वाहिनी के सामन्ती गुंडों के सरगना थे और अब मुख्यमंत्री के तौर पर राजपूत अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं. उन्होंने कहा की भीम आर्मी के नेताओं पर राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर रासुका लगाकर जेल बंद किया जाना एक रणनीति है ताकि नाइंसाफी के खिलाफ कोई बोले नही, दूसरी तरफ सहारनपुर समते पूरे सूबे में शासन-प्रशासन राजपूत अपराधियों न सिर्फ बचा रहा बल्कि उनके सहयोगी की भूमिका निभा रहा है.

रिहाई मंच ने मांग की कि भीम आर्मी के नेताओं को तत्काल सुरक्षा मुहौया करायी जाये. मंच  पूरे सूबे में तमाम इंसाफपसंद तंजीमो के साथ सचिन वालिया की हत्या पर प्रतिरोध करेगा. रिहाई मंच इस दुःख की घड़ी में भीम आर्मी के नेताओं के साथ खड़ा है.

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।