राफेल डील : माकपा ने पूछा क्या मोदी सरकार ने भारत के संसद को अन्य देशों के अधीन बना दिया है?

क्या मोदी सरकार ने भारत के संसद को अन्य देशों के अधीन बना दिया है? क्या भारत की संसद अब संप्रभु नहीं है? तो राफेल सौदे का कैग द्वारा लेखा परीक्षा नहीं किया जाएगा?...

राफेल डील : माकपा ने पूछा क्या मोदी सरकार ने भारत के संसद को अन्य देशों के अधीन बना दिया है?

नई दिल्ली, 20 जुलाई। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) ने सवाल किया है कि क्या भारत की संसद अब संप्रभु नहीं है?

संसद में मोदी सरकार के विरुद्ध आए अविश्वास प्रस्ताव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के राफेल डील पर सवाल उठाने पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन की सफाई पर सवाल उठाते हुए माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने अपने आढिकारिक फेसबुक पेज पर पत्रकार निधि राजदान के एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए लिखा -

“क्या मोदी सरकार ने भारत के संसद को अन्य देशों के अधीन बना दिया है?

क्या भारत की संसद अब संप्रभु नहीं है?

तो राफेल सौदे का कैग द्वारा लेखा परीक्षा नहीं किया जाएगा?

मोदी और उनकी सरकार की तरफ से दी जा रही दलीलें अब खत्म हो जाना चाहिए।

यह सार्वजनिक धन और एक रक्षा सौदा का मामला है जहां हमें भारतीयों को पूर्ण तथ्यों को जानना चाहिए। #Rafale”

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
hastakshep
>