फेसबुक अब जियोफोन पर चलेगा

फेसबुक अब जियोफोन पर चलेगा... भारत में संभावित 50 करोड़ फीचर फोन उपयोगकर्ताओं को मिलेगा लाभ...

भारत में संभावित 50 करोड़ फीचर फोन उपयोगकर्ताओं को मिलेगा लाभ

मुंबई, 13 फरवरी, 2018: फेसबुक अब यानि जियोफोन पर कल से उपलब्ध होगा। फेसबुक ऐप का यह नया संस्करण विशेष रूप से Jio KaiOS के लिए बनाया गया है।

एक विज्ञप्ति में कहा गया है कि यह एक वेब आधारित ऑपरेटिंग सिस्टम है, जो जियोफोन के लिए खास तौर पर डिज़ाइन किया गया है। अब जियोफोन  उपयोगकर्ता फेसबुक एप के माध्यम से फेसबुक से जुड़ सकेंगे। यह भारत में संभावित 50 करोड़ फीचर फोन उपयोगकर्ताओं के लिए फेसबुक के दरवाज़े खोल देगा। नए एवं पुराने सभी जियोफोन उपभोक्ता फेसबुक एप को जियो एप स्टोर से डाउनलोड कर सकेंगे।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि जियोफोन के लिए यह नया फेसबुक एप एक बेहतरीन फेसबुक अनुभव प्रदान करेगा। जिससे उपयोगकर्ता उन लोगों के साथ जुड़ सकेंगे जो व्यक्तिगत रुप से उनके लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण हैं। यह पुश-नोटिफिकेशन, वीडियो और एक्सटरनल कंटेंट लिंक को स्पोर्ट करेगा। फेसबुक का यह एप खासतौर पर जियोफोन के कर्सर फंक्शन को स्पोर्ट करने के लिए ही बनाया गया है। फेसबुक की सबसे लोकप्रिय विशेषताओं, जैसे न्यूज़ फीड और तस्वीरों के लिए यह बेस्ट-इन-क्लास परफॉर्मेंस देगा।

विज्ञप्ति में कहा गया है कि “जियोफोन दुनिया का ऐसा सबसे सस्ता स्मार्टफ़ोन है, जिसे विशेष रूप से एक फीचर फोन से स्मार्टफोन तक माइग्रेट करने के लिए ट्रांसफ़ॉर्मल टैक्नोलॉजी के साथ बनाया गया है। फेसबुक तो एक शुरूआत है जियोफोन दुनिया के बेहतरीन एपस् को एक जगह लाएगा, यही जियोफोन का ग्राहकों से वायदा था। दुनिया के सबसे बड़े मोबाइल डेटा नेटवर्क, जियो को हर भारतीय को डिजिटल क्रांति से जोड़ने के उद्देश्य से ही बनाया गया है। जियोफोन इस जियो-आंदोलन का एक अभिन्न अंग है”- श्री आकाश अंबानी, निदेशक, जियो

विज्ञप्ति में कहा गया है कि फेसबुक के वाइस प्रेसिडेंट ऑफ मोबाइल पार्टनरशिप फ्रांसिस्को वरेला ने कहा कि

"हम जियो के साथ साझेदारी को लेकर उत्साहित हैं और जियोफोन का इस्तेमाल करते हुए करोड़ों लोगों के लिए यह सबसे अच्छा फेसबुक अनुभव प्रदान करने का मौका है। जियो जैसे भागीदारों के साथ काम करते हुए  हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि हर कोई, हर जगह कनेक्ट होने के लाभों का आनंद ले सके।"

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।