नागरिकता संशोधन विधेयक से पूर्वोत्तर जल रहा है, हम केंद्र में एक नई धर्मनिरपेक्ष सरकार को देखना चाहते हैं : लालदुहावमा

मिजोरम विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष ने कहा, हम केंद्र में एक नई धर्मनिरपेक्ष सरकार को देखना चाहते हैं, ताकि उत्तरपूर्व के लोग सुरक्षित हों...

एजेंसी

कोलकाता, 19 जनवरी। नागरिकता संशोधन विधेयक (Citizenship Amendment Bill) की आलोचना करते हुए जोरहम नेशनलिस्ट पार्टी (Jorham Nationalist Party) के नेता लालदुहावमा (Pu Lalduhoma) ने आज कहा कि इसके कारण समूचा पूर्वोत्तर 'जल रहा' है। उन्होंने क्षेत्र की सभी पार्टियों से भारतीय जनता पार्टी से संबंध तोड़ने की अपील की।

लालदुहावमा ने यहां ब्रिगेड परेड ग्राउंड में विपक्ष की रैली में कहा,

"अगर यह विधेयक अधिनियमित किया जाता है.. तो भारत वह स्थान नहीं रहेगा, जैसा यह है..इसलिए हम केंद्र में एक धर्मनिरपेक्ष सरकार चाहते हैं, ताकि इस विधेयक को वापस लिया जाए या उत्तरपूर्व को छूट प्रदान की जाए।"

लालदुहवमा मिजोरम विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष (Leader of Opposition in Mizoram Assembly) हैं।

उन्होंने कहा,

"मैं उत्तरपूर्व (northeast) की सभी क्षेत्रीय दलों से भाजपा से सभी प्रकार के संबंध तोड़ने और इस महान आंदोलन में शामिल होने की अपील करता हूं। आइए, हम सब मिलकर सांप्रदायिकता के खिलाफ लड़ाई में एकजुट हों।"

उन्होंने कहा,

"हम केंद्र में एक नई धर्मनिरपेक्ष सरकार को देखना चाहते हैं, ताकि उत्तरपूर्व के लोग सुरक्षित हों।"

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

North-East is burning with Citizenship Amendment Bill, we want to see a new secular government at the Center : Pu Lalduhoma

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।