किसान मांगों पर देशव्यापी 'जेल भरो' आंदोलन कल 9 अगस्त को

'भारत छोड़ो' दिवस पर किसान व खेत मजदूर गिरफ्तारियां देकर गहराते कृषि संकट पर सरकार का ध्यान आकृष्ट कराएंगे...

किसान मांगों पर देशव्यापी 'जेल भरो' आंदोलन कल 9 अगस्त को

'भारत छोड़ो' दिवस पर किसान व खेत मजदूर गिरफ्तारियां देकर गहराते कृषि संकट पर सरकार का ध्यान आकृष्ट कराएंगे

लखनऊ, 8 अगस्त। कर्जमुक्ति, लागत का ड्योढ़ा दाम, स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट पर अमल, बंटाईदार किसानों के हितों की रक्षा के लिए कानून बनाने आदि किसान मांगों को लेकर नौ अगस्त गुरुवार को 'भारत छोड़ो दिवस' पर उत्तर प्रदेश समेत देश भर में जेल भरो आंदोलन होगा। इसका आह्वान भाकपा (माले) से जुड़े अखिल भारतीय किसान महासभा ने किया है।

यह जानकारी किसान महासभा के प्रदेश सचिव ईश्वरी प्रसाद कुशवाहा ने दी। कहा कि 'भारत छोड़ो' दिवस पर किसान व खेत मजदूर गिरफ्तारियां देकर गहराते कृषि संकट पर सरकार का ध्यान आकृष्ट कराएंगे। साथ ही, कृषि भूमि के अधिग्रहण पर रोक लगाने, पैदावार की सरकारी खरीद व समय से भुगतान की गारंटी करने, गन्ना बकाये का भुगतान करने, मनरेगा को मजबूती से लागू करने और भूमिहीनों को जमीन आवंटित करने की मांग भी उठाएंगे। जिला मुख्यालयों पर किसानों के साथ माले और खेत व ग्रामीण मजदूर सभा के कार्यकर्ता जेल भरो आंदोलन में भाग लेंगे। आंदोलन के समर्थन में भाकपा (माले) के राज्य सचिव सुधाकर यादव कार्यकर्ताओं सहित गुरुवार को रॉबर्ट्सगंज (सोनभद्र) में गिरफ्तारी देंगे।

बीएम सिंह की संयोजकत्व वाली अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने भी 9 अगस्त को आंदोलन की घोषणा की है। किसान महासभा इस समन्वय समिति का घटक संगठन है।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।