बोलीं आश्का गोरडिया, बिग बॉस में मेरी सेक्सुअलिटी को गलत तरीके से पेश किया गया

बोलीं आश्का गोरडिया, बिग बॉस में मेरी सेक्सुअलिटी को गलत तरीके से पेश किया गया...

एजेंसी

बोलीं आश्का गोरडिया, बिग बॉस में मेरी सेक्सुअलिटी को गलत तरीके से पेश किया गया

न्यूज़हेल्पलाइन – 8 जून 2018

टीवी अभिनेत्री आश्का गोरडिया का कहना है कि उनकी कामुकता को गलत तरीके से पेश किया गया, जिस कारण उन्हें अपने माता-पिता के सामने शर्मिदगी महसूस हुई।

जी टीवी के शो 'जज्बात संगीन से नमकीन तक' में आश्का और अभिनेत्री जूही परमार ने मनोरंजन जगत में अपने सफर के बारे में खुलकर बात की।

आशका ने एक बयान में कहा,

"मेरी सेक्सुअलिटी को गलत तरीके से पेश किया गया। एडिटिंग (दृश्यों में काट-छांट) के जरिए जानबूझकर इस रियलिटी शो (बिग बॉस) में मुझे लेस्बियन (समलैंगिक) दिखाया गया और यह मेरे लिए और मेरे माता-पिता के लिए बहुत शर्मिदगी भरा था। मैं अपनी साथी प्रतिभागी को बाम लगा रही थी, क्योंकि उसे एलर्जी हो गई थी।"

अभिनेत्री ने कहा कि वह कंबल के अंदर से उन्हें इसलिए बाम लगा रही थी, ताकि नेशनल टेलीविजन पर उनकी साथी प्रतिभागी असहज नहीं महसूस करें और उन लोगों ने इसे एकदम गलत तरीके से दर्शा दिया। उन लोगों ने ऐसे दिखाया, मानो कुछ और चल रहा है।

आश्का ने कहा कि हालांकि शो के मेजबान, दोस्तों और पूरी मीडिया बिरादरी ने उनका साथ दिया और उन्हें इस स्थिति से निकालने की पूरी कोशिश की। अभिनेत्री ने कहा कि वह इस अवसर का इस्तेमाल दुनिया को यह बताने के लिए करना चाहती हैं कि वह एक बेहद खूबसूरत शख्स के साथ शादी करके खुशहाल जिंदगी जी रही हैं।

जूही ने भी शो में ऐसे ही अपने एक अनुभव को याद करते हुए बताया कि उन्होंने अपने पूर्व पति सचिन के साथ कपल्स पर आधारित एक रियलिटी शो में जब हिस्सा लिया था तो संपादित दृश्यों को पूरी तरह से हैरतअंगेज तरीके से दिखाया गया, जिससे वास्तव में जो हो रहा था, उसका पूरा मतलब ही बदल गया।

उन्होंने कहा कि शो में उनकी छवि को नकारात्मक रूप में पेश किया गया, जबकि सचिन को 'बेचारा' दिखाया गया। जब उन्हें इसका पता चला तो उन्हें बहुत हैरानी हुई।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।