कश्मीर में मानवाधिकार हनन पर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को कांग्रेस ने किया खारिज

कश्मीर में मानवाधिकार हनन पर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को कांग्रेस ने किया खारिज...

कश्मीर में मानवाधिकार हनन पर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को कांग्रेस ने किया खारिज

नई दिल्ली, 14 जून। कश्मीर में मानवाधिकार हनन पर संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट को खारिज करते हुए कांग्रेस ने सरकार के रुख का समर्थन किया है और कहा है कि

"यह रिपोर्ट जम्मू और कश्मीर की स्थिति को बिना समझे तैयार की गई है।"

पार्टी ने यह भी कहा कि

"वह ऐसी रिपोर्ट की निंदा करती है।"

पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्विटर पर कहा,

"जम्मू और कश्मीर भारत का अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा है। हम संयुक्त राष्ट्र की मानवाधिकार रिपोर्ट भारत की संप्रभुता और राष्ट्रीय हितों को नुकसान पहुंचाने के निहित स्वार्थो के तहत पूर्वाग्रह से भरा प्रयास है, इसलिए इसे हम खारिज करते हैं।"

उन्होंने कहा,

"कांग्रेस पार्टी रिपोर्ट को खारिज करने के सरकार के कदम के साथ खड़ी है।"

श्री सुरजेवाला ने कहा कि यूएनएचआरसी ने यह रिपोर्ट दूर से बिना जमीनी स्थिति को जाने तैयार की है।

उन्होंने पूछा,

"यह रिपोर्ट जेईएम और हिजबुल मुजाहिदीन के आतंकवादियों को न्यायसंगत कैसे ठहराती है? क्या संयुक्त राष्ट्र को भारत में पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित आंतकवाद पर ध्यान नहीं देना चाहिए था?"

पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव शुक्ला ने कहा,

 "मैं समझता हूं कि राज्य की स्थिति को समझे बिना यह रिपोर्ट तैयार की गई है। ऐसी रिपोर्ट से आतंकवादी समूहों को बढ़ावा मिलता है। हम ऐसी रिपोर्ट की निन्दा करते हैं।"

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।