क्या है सेप्टिसीमिया/ सेप्सिस और क्या है इसका उपचार

सेप्टिसीमिया को पूतिता, पूति, पूति जीवरक्तता भी कहा जा सकता है। यह एक प्रकार की रक्त-विषाक्तता blood poisoning है।...

क्या है सेप्टिसीमिया/ सेप्सिस और क्या है इसका उपचार

नई दिल्ली, 16 अक्तूबर। सेप्टीसीमिया (Septicemia) का प्रकोप तेजी से बढ़ा है। इस बीमारी का समय पर उचित इलाज नहीं हो पा रहा है और मृत्यु दर बहुत ज्यादा है। अगर इसके शुरुआती लक्षण और बचाव के बारे में जानकारी हो तो कई जीवन बच सकते हैं।

मेडिकल न्यूज़ टुडे के मुताबिक ऐसे लोग सेप्सिस/ सेप्टिसीमिया का आसानी से शिकार हो सकते हैं, जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर हो अथवा ऐसे लोग जो एचआईवी पॉजिटिव हों ये एड्स से पीड़ित हों, कैंसर से पीड़ित हों या कैंसर थेरेपी ले रहे हों।

सेप्टिसीमिया को पूतिता, पूति, पूति जीवरक्तता भी कहा जा सकता है। यह एक प्रकार की रक्त-विषाक्तता blood poisoning है।
 
अंग प्रत्यारोपण या किसी ऑपरेशन के बाद भी सेप्टिसीमिया का खतरा बढ़ सकता है।   

सेप्टिसीमिया क्या है और सेप्टिसीमिया का क्या उपचार है, इस पर हस्तक्षेप पर प्रकाशित कुछ ख़बरें आपको जागरूक कर सकती हैं। आप इन्हें निम्न लिंक्स पर पढ़ सकते हैं।

क्या है सेप्सिस/ सेप्टिसीमिया और क्या है इसका उपचार

क्या जूते का काटना भी सेप्सिस का कारण बन सकता है  ?

एक गर्भवती डॉक्टर, जिसने सेप्टीसीमिया की पहचान कर अपने पति की जान बचाई, कुछ घंटों बाद खुद उसी बीमारी से मर गई

क्या वेंटिलेटर से भी सेप्सिस/ सेप्टिसीमिया फैलने का खतरा रहता है ?

क्रोनिक किडनी डिजीज और सेप्सिस

(नोट – यह समाचार चिकित्सकीय परामर्श नहीं हैयह आम जनता में जागरूकता के उद्देश्य से किए गए अध्ययन का सार है। आप इसके आधार पर कोई निर्णय नहीं ले सकतेचिकित्सक से परामर्श करें। )

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।