क्या है इबोला वायरस, जिससे त्रस्त है अफ्रीका

क्या है इबोला वायरस, जिससे त्रस्त है अफ्रीका

What is the Ebola virus, which is stricken by Africa

नई दिल्ली, 03 नवंबर। इबोला वायरस गंभीर बीमारी का कारण बनता है जो इलाज न किए जाने पर अक्सर घातक होता है। इबोला वायरस बीमारी (ईवीडी) पहली बार 1976 में एक साथ दो प्रकोप में दिखाई दिया, पहला जो अब है नज़रा, दक्षिण सूडान और दूसरा, लोकतांत्रिक गणराज्य कांबो के  याम्बुकु में। बाद वाला प्रकोप इबोला नदी के पास एक गांव में हुआ, जिससे बीमारी इसका नाम उस नदी के नाम पर पड़ गया।

1976 में पहली बार इबोला वायरस की खोज के बाद से पश्चिम अफ्रीका में 2014-2016 का प्रकोप सबसे बड़ा और सबसे जटिल इबोला प्रकोप था। अन्य सभी की तुलना में इस प्रकोप में और अधिक मामले और मौतें हुईं, जिसके चलते यह विश्व की सुर्खियां बन गया।

यह अन्य देशों में भी फैल गया। गिनी Guinea से शुरू होकर यह सीमा से लगे देशों सिएरा लियोन और लाइबेरिया में बढ़ गया।

इबोला वायरस परिवार फिलोविरिडे में तीन प्रजातियां शामिल हैं: क्यूवा वायरस, मारबर्गविरस, और इबोला वायरस।

इबोला वायरस जीन के भीतर, पांच प्रजातियों की पहचान की गई है: ज़ैरे (Zaire), बुंडीबुगोयो (Bundibugyo), सूडान (Sudan), रेस्टोन (Reston) और ताई वन (Taï Forest)।

पहले तीन, बुंदीबुगोयो इबोला वायरस, ज़ैर इबोला वायरस, और सूडान इबोला वायरस से अफ्रीका में बड़े प्रकोप हुए हैं।

2014-2016 में पश्चिम अफ़्रीका में फैले भयंकर इबोला प्रकोप का कारण ज़ैयर इबोला वायरस प्रजाति से संबंधित था।

स्रोत - Who

नोट - यह समाचार किसी भी हालत में चिकित्सकीय परामर्श नहीं है। यह समाचारों में उपलब्ध सामग्री के अध्ययन के आधार पर जागरूकता के उद्देश्य से तैयार की गई रिपोर्ट मात्र है। आप इस समाचार के आधार पर कोई निर्णय कतई नहीं ले सकते। स्वयं डॉक्टर न बनें किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लें।) 

ख़बरें और भी हैं काम की

दस फीसदी स्कूली बच्चे हैं अस्थमा के शिकार, स्कूलों के लिए 11 भाषाओं में दिशानिर्देश जारी

अनदेखी न करें इन लक्षणों की, हो सकता है  साइलेंट हार्ट अटैक

40 वर्ष से कम उम्र में अगर ये लक्षण हैं, तो अनदेखी न करें, हो सकता है असिम्प्टोमैटिक हार्ट अटैक

वायु प्रदूषण से हर साल मरते हैं सात मिलियन लोग

क्या है वायु प्रदूषण और फेफड़ों का संबंध

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

Topoics - Ebola virus News in Hindi, Ebola virus Fact sheet, Ebola virus Detail, Ebola virus disease,

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
hastakshep
>