गोरखपुर में एक माह तक चलने वाले खिचड़ी मेले की क्या है विशेषता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मठ गोरखनाथ मंदिर में एक माह तक चलने वाले मकर संक्रांति मेले की शुरुआत हो गई है...

एजेंसी
गोरखपुर में एक माह तक चलने वाले खिचड़ी मेले की भव्यता आकर्षण का केंद्र

गोरखपुर, 3 जनवर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मठ गोरखनाथ मंदिर में एक माह तक चलने वाले मकर संक्रांति मेले की शुरुआत हो गई है। इस बार मेले में विदेशी व स्थानीय श्रद्धालुओं को लुभाने के लिए काफी आकर्षक व्यवस्था की गई है। इस मेले में बड़ी संख्या में श्रद्धालु नेपाल से गोरखनाथ मंदिर आते हैं और खिचड़ी चढ़ाकर बाबा गोरखनाथ की पूजा अर्चना करते हैं। इस बार तीन मेला स्पेशल ट्रेनें चलाई जा रही हैं। मंदिर प्रबंधक का अनुमान है कि इस बार भी नेपाल से हजारों की संख्या में श्रद्धालु आएंगे।

 

गोरख पीठाधीश्वर महंत योगी आदित्यनाथ मंदिर की खिचड़ी गुरु गोरथनाथ को चढ़ाएंगे। इसके बाद फिर नेपाल नरेश की खिचड़ी चढ़ाने की औपचारिकता पूरी की जाएगी। ये परंपरा यहां लंबे समय से चली रही है।

 

गोरख पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद से मेले का आकर्षण पहले के मुकाबले काफी बढ़ गया है। मेला प्रबंधन के मुताबिक बीते वर्ष मेले में आने वाले लोगों की तादाद करीब 20 फीसदी बढ़ गई थी। उम्मीद है कि इस वर्ष इसमें पांच से दस प्रतिशत का और इजाफा होगा।

 

लाइट एंड साउंड शो पर लगेगा 50 रुपए का टिकट

Light and sound show will cost 50 rupees

 

भीम सरोवर पर लाइट एंड साउंड शो का आयोजन किया गया है। इसके जरिए यहां नाथ पंथ व गुरु गोरखनाथ की महिमा का अद्भुत प्रदर्शन किया जा रहा है। बाबा गोरखनाथ मंदिर में मेले की शुरुआत नए साल से हो जाती है। यहां पर श्रद्धालु आते हैं। दर्शन करने के बाद मेले का लुफ्त उठाते हैं।

 

शाम को दर्शकों के लिए लाइट एंड साउंड शो को शुरू किया गया। यहां आने वाले श्रद्धालु अब नाथ परंपरा की अद्भुत झांकी को लाइट एंड साउंड शो के माध्यम से समझ सकेंगे।

 

गोरखनाथ मंदिर के मीडिया सहयोगी विनय कुमार गौतम ने बताया कि शो देखने के लिए 50 रुपए का टिकट लेना होगा। वरिष्ठ नागरिकों को पांच रुपए की छूट मिलेगी। वहीं, बच्चों और दिव्यांगों को कोई शुल्क नहीं देना होगा। शो में हरीश भिमानी ने आवाज दी है। इसके पहले वे महाभारत सीरियल में अपनी आवाज दे चुके हैं।

 

उन्होंने बताया कि शुरुआत में 300 लोग एक साथ बैठकर लाइट एंड साउंड शो का लुत्फ उठा सकते हैं। इस शो की अवधि 40 मिनट की होगी। 33 फीट के वॉटर स्क्रीन पर दर्शक इस शो का लुत्फ उठाएंगे। इसके साथ ही वे नाथ पंथ की महिमा के अद्भुत दर्शन भी कर सकेंगे।

 

नेपाल के राज नेता और अफसर भी खिचड़ी मेला में हिस्सेदारी करने गोरखनाथ मंदिर आते हैं। इस बार भी राजनेता व अफसरों के आने की उम्मीद है। इस की तैयारियों में पुलिस और जिला प्रशासन पूरी मुस्तैदी से लगा हुआ है।

 

मकर संक्रांति के दिन 15 जनवरी को गोरखनाथ के महंत और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की पूजा-अर्चना के बाद बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाने के लिए मंदिर के पट आम श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए जाएंगे।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

Khichadi Mela running for one month in Gorakhpur, Yogi Adityanath's monastery, Gorakhnath temple, Makar Sankranti Mela, Khichdi Mela of Gorakhpur, Pooja of Baba Gorakhnath, Bhim Sarovar, योगी आदित्यनाथ के मठ, गोरखनाथ मंदिर, मकर संक्रांति मेला, गोरखपुर का खिचड़ी मेला, बाबा गोरखनाथ की पूजा, भीम सरोवर, Makar Sankranti, Makar Sankranti in Hindi, sankranti, makar sankranti images, Happy Makar Sankranti, guru gorakhnath, happy makar sankranti image,

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।