50 की उम्र के बाद पुरुषों की तुलना में ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित होने का खतरा अधिक होता है

दिल की बीमारी के बाद दुनिया में ऑस्टियोपोरोसिस दूसरी सबसे आम खतरनाक बीमारी है।...

50 की उम्र के बाद पुरुषों की तुलना में ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित होने का खतरा अधिक होता है

आज 20 अक्टूबर को है विश्व ऑस्टियोपोरोसिस दिवस

World osteoporosis day is on October 20

गाजियाबाद, 20 अक्तूबर। विश्व ऑस्टियोपोरोसिस दिवस विश्वभर में 20 अक्टूबर को मनाया जाता है। यह दिवस लोगों में ऑस्टियोपोरोसिस के निदान, रोकथाम और उपचार हेतु जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से मनाया जाता है। दिल की बीमारी के बाद दुनिया में ऑस्टियोपोरोसिस दूसरी सबसे आम खतरनाक बीमारी है।

यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल,कौशाम्बी के एम. डी. डॉ पी एन अरोड़ा, वरिष्ठ हड्डी रोग विशेषज्ञों डॉ  देवेंद्र दवे, डॉ मोहित जिंदल, डॉ अखिल कुलश्रेष्ठ, डॉ अमित शर्मा, डॉ अशोक कुमार शर्मा, डॉ मोहित मदान, डॉ अंकुर सिंघल ने मरीजों एवं जान सामान्य को ऑस्टियोपोरोसिस बीमारी के प्रति जागरूक किया और बताया कि ऑस्टियोपोरोसिस की विशेषता हड्डियों के ऊतकों की खराबी है, इस रोग में हड्डियां नाजुक एवं कमजोर हो जाती हैं, जिसके परिणामस्वरूप रीढ़ की हड्डी विशेषकर कूल्हे एवं कलाई के फ्रैक्चर होने का खतरा बढ़ जाता है।

महिलाओं को मुख्यतः पचास वर्ष की उम्र के बाद पुरुषों की तुलना में ऑस्टियोपोरोसिस से पीड़ित होने का खतरा अधिक होता है।

डॉक्टरों ने कहा कि इस बीमारी के रोकथाम हेतु कैल्शियम और विटामिन डी युक्त खाद्य पदार्थों जैसे कि दूध, दही एवं हरी पत्तेदार सब्जियों से भरपूर संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए।

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।