अब खेल नहीं बच्चा है सानिया की प्राथमिकता, लेकिन टोक्यो ओलम्पिक-2020 खेलने की चाहत

हाल ही में मां बनने का सुख प्राप्त करने वाली भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा ने कहा है कि अब उनकी कोशिश टेनिस कोर्ट पर वापसी करने की है। भारतीय टेनिस सनसनी ने कहा कि उनकी कोशिश टोक्यो ओलम्पिक-2020.....

एजेंसी
अब खेल नहीं बच्चा है सानिया की प्राथमिकता, लेकिन टोक्यो ओलम्पिक-2020 खेलने की चाहत

नई दिल्ली, 11 जनवरी। हाल ही में मां बनने का सुख प्राप्त करने वाली भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा ने कहा है कि अब उनकी कोशिश टेनिस कोर्ट पर वापसी करने की है। भारतीय टेनिस सनसनी ने कहा कि उनकी कोशिश टोक्यो ओलम्पिक-2020 खेलने की है और यह उन्हें हासिल करने वाला लक्ष्य लगता है। सानिया ने हालांकि इस बात को माना है कि वह वापसी को लेकर किसी तरह का दबाव नहीं लेना चाहतीं।

Sania's priority is no longer game

सानिया ने हैदराबाद से फोन पर एजेंसी से बातचीत में कहा,

"गर्भवती होना और मां बनना शायद मेरे लिए अभी तक की सबसे बड़ी खुशी है, लेकिन अब इस बात को दो महीने हो चुके हैं और मैंने वजन कम करना शुरू कर दिया है।"

फरवरी में आ रहे हैं सानिया के फिटनेस ट्रेनर

Sania's fitness trainer coming in February

सानिया ने कहा,

"मेरे फिटनेस ट्रेनर फरवरी में आ रहे हैं और मेरा लक्ष्य इस साल के अंत तक कोर्ट पर वापसी करना और प्रतिस्पर्धी टेनिस खेलना है।"

सानिया ने बीते साल अक्टूबर में बेटे को जन्म दिया था। सानिया और उनके पति पाकिस्तान के क्रिकेट खिलाड़ी शोएब मलिक ने बेटे का नाम उन्होंने इजहान मिर्जा मलिक रखा है।

सानिया के जीवन में उनका खेल हमेशा से उनकी प्राथमिकता रहा है। वह अपने खेल से अपना ध्यान हटाना नहीं चाहती हैं।

टोक्यो ओलम्पिक-2020 (Tokyo Olympic-2020) में खेलना चाहत

उन्होंने कहा, "एक टेनिस खिलाड़ी के तौर पर, आपकी जिंदगी काफी जल्दी बदलती है। हम नहीं जानते कि हम अगले दिन क्या करेंगे। लेकिन टोक्यो ओलम्पिक-2020 में खेलना मेरे दिमाग में है। ईमानदारी से कहूं तो अगर आप 2016 में मुझसे पूछते कि क्या मैं अगले ओलम्पिक में खेल पाऊंगी तो शायद मैं न कहती।"

उन्होंने कहा,

"लेकिन अगर मैं इस साल के अंत तक वापसी कर पाई तो बहुत संभावना है कि मैं ओलम्पिक खेल सकूं। मैं हालांकि अपने ऊपर ज्यादा दबाव नहीं लेना चाहती।"

सानिया ने कहा कि उन्हें अब अपने जीवन में चीजों के बीच संतुलन बनाना होगा।

उन्होंने कहा,

"हमें देखना होगा कि कैसे क्या होगा। मेरा लक्ष्य एक बार फिर फिट होना है। मैंने पहले ही काफी वजन कम कर लिया है और जल्द ही ट्रेनिंग शुरू करने वाली हूं। मुझे अभी काफी लंबा सफर तय करना है और इसलिए मैंने अपने आप को समय दिया है।"

अब खेल नहीं बच्चा है सानिया की प्राथमिकता

सानिया ने कहा कि पहले वह सिर्फ अपने बारे में सोचती थीं क्योंकि उनका पेशा इस बात की मांग करता है लेकिन अब उनकी प्राथमिकता अपने बच्चे को लेकर है।

उन्होंने कहा,

"मां बनने के बाद मुझे पता लगा कि मैं एक बहुत ही मतलबी व्यक्ति हो सकती हूं और मुझे इसके लिए किसी तरह का प्रयत्न करने की जरूरत नहीं है।"

टेनिस खिलाड़ी ने कहा, "मैं अब दुनिया में सब कुछ अपने बच्चे के लिए चाहती हूं, किसी और से कहीं ज्यादा, इसमें मैं भी शामिल हूं। मुझे लगता है कि यह स्वार्थीपन आप तब महसूस करते हो जब आपका बच्चा होता है।"

सानिया ने कहा कि वह इस समय अपने बेटे के साथ मां बनने का लुत्फ उठा रही हैं।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।