टर्की से मोदी के डाक टिकट का रहस्य जानिये... तुर्की ने मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा नेता नहीं कहा

टर्की से मोदी के डाक टिकट का रहस्य जानिये। यह मोदी की किसी उपलब्धि का सम्मान नहीं है। तुर्की ने मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा नेता नहीं कहा...

अरुण माहेश्वरी

टर्की से मोदी के डाक टिकट का रहस्य जानिये। यह मोदी की किसी उपलब्धि का सम्मान नहीं है। 2015 में जी-20 की बैठक में वहाँ जितने देशों के राष्ट्र प्रमुख उपस्थित हुए थे, उन सबका अभिनंदन करते हुए जो डाक टिकट जारी किये गये, उनमें ही एक टिकट मोदी का भी था।

मोदी पर इस डाक टिकट को मोदी-शाह का आई टी सेल कुछ इस प्रकार प्रचारित कर रहा है मानो टर्की की सरकार ने मोदी की नोटबंदी और जीएसटी की दुनिया की महानतम उपलब्धियों का स्वागत करते हुए यह टिकट जारी किया है और देशवासियों को उनकी इन उपलब्धियों के लिये नोबेल पुरस्कार की भी उम्मीद करनी चाहिए!

नोट - तथ्य 

1. तुर्की ने मोदी को दुनिया का सबसे बड़ा नेता नहीं कहा

2. तुर्की की श्रृंखला में कुल 33 ऐसे टिकट थे जिनमें शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले सभी देश के प्रतिनिधियों की फोटो थी। यह तुर्की का महत्वपूर्ण अतिथियों का सम्मान करने का एक तरीका है।

3. 15 नवंबर, 2015 को टर्की में संपन्न जी 20 शिखर सम्मेलन में उपरोक्त स्टांप जारी किया गया था।

स्रोत -  The Turkish Modi Stamp Is From 2015 G20 Summit, It Was Issued Along With 32 Other World Leaders

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।