हस्तक्षेप > स्तम्भ
आज मार्क्सवादी अंतोनियो ग्राम्शी का जन्मदिन है जिन्होंने कहा था सभी मनुष्य दार्शनिक हैं
आज मार्क्सवादी अंतोनियो ग्राम्शी का जन्मदिन है, जिन्होंने कहा था सभी मनुष्य दार्शनिक हैं

मार्क्स-लेनिन Marx-Lenin के बाद जिस मार्क्सवादी Marxist ने सबसे ज्यादा सारी दुनिया के मार्क्सवादियों को प्रभावित किया वे हैं ग्राम्शी।

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2019-01-22 22:55:22
दिल्ली विश्वविद्यालय में ठेका-शिक्षण का मुद्दा - निजीकरण की आंधी में देश के शिक्षकों का दायित्व-बोध भी उड़ गया
दिल्ली विश्वविद्यालय में ठेका-शिक्षण का मुद्दा - निजीकरण की आंधी में देश के शिक्षकों का दायित्व-बोध भी उड़ गया

कुलपति समेत विश्वविद्यालय के किसी प्रोफेसर-प्रिंसिपल को नहीं लगा कि अगर कैरियर की शुरुआत में उन्हें दशकों तक तदर्थ या ठेके पर रखा जाता तो वे जिस ...

डॉ. प्रेम सिंह
2019-01-21 22:28:18
आर्थिक रूप से पिछड़ों के लिए आरक्षण  एक और जुमला
आर्थिक रूप से पिछड़ों के लिए आरक्षण : एक और जुमला!

सरकार का इरादा यह कतई नहीं है कि ऊंची जातियों के गरीबों को आगे आने का अवसर मिले। योग्यता बड़ी या पैसा-यह खेल पिछले कई दशकों से चल रहा है और इनमें ...

राम पुनियानी
2019-01-21 21:12:17
आरक्षणहीनों के लिए आरक्षण  नीयत और नीति दोनों खोटी
प्रतिक्रांति के हमसफर  विकल्पहीन नहीं है दुनिया
प्रतिक्रांति के हमसफर : विकल्पहीन नहीं है दुनिया

केजरीवाल की जीत में धर्मनिरपेक्षता की जीत नहीं है, जैसा कि अति वामपंथियों से लेकर तरह-तरह के राजनीतिक निरक्षर जता रहे हैं।

डॉ. प्रेम सिंह
2019-01-18 21:45:24
छत्तीसगढ़  जवाहरलाल नेहरू की पार्टी अगर नेहरू नीति पर चलती है तो पत्रकार सुरक्षा कानून की शायद आवश्यकता नहीं होगी
छत्तीसगढ़ : जवाहरलाल नेहरू की पार्टी अगर नेहरू नीति पर चलती है तो पत्रकार सुरक्षा कानून की शायद आवश्यकता नहीं होगी

प्रेस की शान में चाहे जितने कसीदे लिखे गए हों, सच्चाई यह थी कि पत्रकारिता पूंजी की दासी बनती चली गई।

ललित सुरजन
2019-01-18 09:38:05
एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’  एक फालतू एक्सीडेंटल फिल्म 
एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ : एक फालतू एक्सीडेंटल फिल्म 

अनुपम खेर मनमोहन सिंह की छवि को तो बिगाड़ पाने में सफल नहीं हुए, लेकिन एक अभिनेता के नाते उन्होंने खुद को दो कौड़ी का जरूर साबित कर दिया।

अरुण माहेश्वरी
2019-01-16 09:25:09
रोज लिखी जा रही मोदी शासन के अंतिम अध्याय की यह रोचक कहानी मोदी ने स्वीकार किया वह अब महज एक खोटा सिक्का है
रोज लिखी जा रही मोदी शासन के अंतिम अध्याय की यह रोचक कहानी, मोदी ने स्वीकार किया वह अब महज एक खोटा सिक्का है

मोदी ने यह स्वीकार लिया कि मोदी अब महज एक खोटा सिक्का है। उन्होंने राहुल गांधी पर सौ झूठी तोहमतें लगाई और फिर यह सवाल दागा कि क्या आप ऐसा प्रधान ...

अरुण माहेश्वरी
2019-01-13 20:22:45
सामाजिक आतंक के खिलाफ थे स्वामी विवेकानंद संघ का असली लक्ष्य हिंदुत्व की रक्षा नहीं
सामाजिक आतंक के खिलाफ थे स्वामी विवेकानंद, संघ का असली लक्ष्य हिंदुत्व की रक्षा नहीं

घ के लोग सड़कों से लेकर मीडिया तक सांस्कृतिक आतंक (सांस्कृतिक आतंक) पैदा करते रहे हैं और समय-समय पर अभिव्यक्ति की आजादी पर हमले करते रहे हैं।

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2019-01-12 22:32:10
मोदी मंत्र  जब गठबंधन मुकाबिल हो तो सीबीआई निकालो
मोदी मंत्र : जब गठबंधन मुकाबिल हो तो सीबीआई निकालो !

खत्म हो रही है भाजपा की खुशफहमी... सपा-बसपा के मुकाबले भाजपा-सीबीआई... कुल मिलाकर भाजपा इस वक्त चौतरफा घिरी नजर आ रही है और इसलिए उस पर आरोप लग र...

देशबन्धु
2019-01-08 10:37:00
कहानी को अस्मिता की राजनीति से सबसे पहले मोहन राकेश ने जोड़ा
कहानी को अस्मिता की राजनीति से सबसे पहले मोहन राकेश ने जोड़ा

उनके विचारों में अनेक ऐसी बातें हैं जो हमारे लिए आज भी प्रासंगिक हैं। कहानी को अस्मिता की राजनीति (politics of identity) से सबसे पहले मोहन राकेश ...

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2019-01-07 12:25:23
उफ्फ  मोदी के दोस्त ट्रंप को भी 2019 से पहले ही विदेशों में मोदी की तथाकथित छवि पर कालिख पोतना थी
उफ्फ ! मोदी के दोस्त ट्रंप को भी 2019 से पहले ही विदेशों में मोदी की तथाकथित छवि पर कालिख पोतना थी ?

ट्रंप ने मोदी और भारत का मजाक उड़ाया... ट्रंप ने विदेशों में मोदी की तथाकथित छवि पर कालिख पोत कर मोदी के लिये 2019 को और कठिन बना दिया है

अरुण माहेश्वरी
2019-01-05 16:19:24
जोर का झटका धीरे से… पलट रही है राजनीतिक हवा
जोर का झटका धीरे से… पलट रही है राजनीतिक हवा

इसके लिए किसी सबूत की जरूरत तो नहीं होनी चाहिए कि मोदी सरकार के कार्यकाल के आखिरी विधानसभाई चुनावों में लगे जोरदार झटके से, मोदीकृत भाजपा के हाथ-...

राजेंद्र शर्मा
2018-12-31 12:42:46
नोटबंदी एक अक्षम्य अपराध
नोटबंदी एक अक्षम्य अपराध

2016 की नोटबंदी न सिर्फ एक संपूर्ण विफलता थी बल्कि इससे अर्थ-व्यवस्था पर आघात की भारी कीमत अदा करनी पड़ी है, लोगों पर इसका बुरा असर पड़ा है, इससे...

अरुण माहेश्वरी
2018-12-30 14:49:27
धर्म लोकप्रचलित तर्कपद्धति है धर्म उत्पीड़ित प्राणी की आह है एक हृदयहीन संसार का हृदय है - कार्ल मार्क्स
धर्म लोकप्रचलित तर्कपद्धति है, धर्म उत्पीड़ित प्राणी की आह है, एक हृदयहीन संसार का हृदय है - कार्ल मार्क्स

अनेक लोग हैं जो कार्ल मार्क्स के धर्म संबंधी विचारों को विकृत रूप में जानते और व्याख्यायित करते हैं। वे मार्क्स की धर्म संबंधी मान्यताओं को गलत द...

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-12-30 11:25:30
30 साल का “सहमत”
30 साल का “सहमत”

सहमत एक सांस्कृतिक संगठन है और वामपंथी राजनीतिक सांस्कृतिक सोच के अलमबरदार के रूप में सहमत ने हमेशा ही देश की राजनीतिक और सांस्कृतिक जीवन को प्रभ...

शेष नारायण सिंह
2018-12-28 20:03:19
क्या कहते हैं तीन कांग्रेसी मुख्यमंत्रियों के शपथग्रहण
क्या कहते हैं तीन कांग्रेसी मुख्यमंत्रियों के शपथग्रहण

अगले एक सप्ताह के भीतर विधानसभा के सत्र आहूत होंगे। मंत्रियों और विधायकों को जनता के प्रति अपना दायित्व निर्वाह करने में पूरे मन से जुट जाना चाहिए।

ललित सुरजन
2018-12-28 12:55:07
2019  मोदी की सहायता नहीं कर पाएगा तथाकथित फेडरल फ्रंट
2019 : मोदी की सहायता नहीं कर पाएगा तथाकथित फेडरल फ्रंट

गुजरात, कर्नाटक चुनावों के बाद ही मोदी की अयोग्यता प्रकट होने लगी थी, उस पर हाल के पांच राज्यों के चुनाव परिणामों ने तो मोदी की वापसी पर गंभीर सव...

अरुण माहेश्वरी
2018-12-27 16:24:11