कारपोरेट राज के खात्मे के लिए धर्मनिरपेक्ष, वाम, जनपक्षधर, बहुजन संगठनों, पार्टियों का महागठबंधन अनिवार्य

कृपया जिग्नेश मेवाणी जैसे उम्मीदवारों का समर्थन करके राजनीतिक बदलाव की पहल करें...

कृपया जिग्नेश मेवाणी जैसे उम्मीदवारों का समर्थन करके राजनीतिक बदलाव की पहल करें

पलाश विश्वास

सभी धर्मनिरपेक्ष,वाम,जनपक्षधर,बहुजन संगठनों और पार्टियों से हमारी अपील है कि गुजरात विधानसभा चुनावों में बनासकांठा जिले के वडगाम निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार जिग्नेश मेवाणी का समर्थन करें। क्रोनी कैपिटलिज्म के नस्ली कारपोरेट राज का प्रतिरोध अनिवार्य जो लोग मानते हैं, वे कामेंट बाक्स में समर्थन व्यक्त करें और जो विरोध करते हैं, वे भी कृपया अपना ऐतराज दर्ज करायें। इससे कौन किसके हक में हैं और उनका अपना पक्ष क्या है, यह साफ हो जायेगा।

देश और अर्थव्यवस्था क्रोनी कैपिटैलिज्म, कारपोरेट राज के शिकंजे में है। इसका मुकाबला सामाजिक ताकतों की गोलबंदी से ही संभव है। दूसरा कोई विकल्प नहीं है। गुजरात में दलितों, बहुजनों के हाल में हुए आंदोलन के नेता जिग्नेश मेवाणी निर्दलीय उम्मीदवार बतौर इस कारपोरेट राज के खिलाफ चुनाव मैदान में हैं।

गुजरात में दलितों की पिटाई के बाद दलितों को पशुओं का चमड़ा न निकालने की शपथ दिलाने वाले जिग्नेश मेवाणी ने गुजारत की जमीन से मनुस्मृति विधान संविधान को खत्म करने के उपक्रम के प्रतिरोध की जो पहल की है, गुजरात चुनाव के ऐन मौके पर मंदिर मस्जिद विवाद की आड़ में धर्मोन्मादी ध्रुवीकरण के नस्ली सत्तावर्ग के विरुद्ध धर्मनिरपेक्ष, लोकतांत्रिक वाम बहुजन महागठबंधन की जमीन वहीं से पकती हुई नजर आयी है।

गौरतलब है कि दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने सोमवार को ऐलान कर दिया कि वे गुजरात विधानसभा चुनावों में बनासकांठा जिले के वडगाम निर्वाचन क्षेत्र से निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में लड़ेंगे।

राष्ट्रीय दलित अधिकार मंच नेता, सामाजिक कार्यकर्ता व वकील ने अपने ट्विटर हैडल से इसकी घोषणा की।

गौरतलब है कि इससे करीब घंटे भर पहले कांग्रेस अपने 76 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी कर चुकी थी। इसमें मेवानी को वडगाम से टिकट नहीं मिला।

इससे पहले मेवानी ने चुनाव लड़ने में रुचि नहीं दिखाई थी और कांग्रेस के प्रति समर्थन दिखाया था।

मेवानी ने यह घोषणा कांग्रेस द्वारा गुजरात विधानसभा चुनावों के लिए दूसरे चरण के लिए तीसरी सूची जारी के बाद की है।

मेवानी ने एक ट्वीट में कहा,

"दोस्तों, मैं गुजरात के बनासकांठा जिले के वडगाम-11 सीट से एक निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर लड़ रहा है। हम लड़ेंगे, हम जीतेंगे।"

बहरहाल कांग्रेस ने अपनी तीसरी सूची में वडगाम निर्वाचन क्षेत्र से किसी को भी टिकट नहीं दिया, इस सीट पर चुनाव 14 दिसंबर को होना है।

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।