2019 के बाद आपकी लंगोटी, रोटी और बोटी नहीं मिलेगी क्योंकि मोदी के आदर्श हैं तालिबान और पोलपोट

यूजीसी भंग : मोदी सरकार का शिक्षा माफिया के सामने खुला समर्पण...

2019 के बाद आपकी लंगोटी, रोटी और बोटी नहीं मिलेगी क्योंकि मोदी के आदर्श हैं तालिबान और पोलपोट

यूजीसी भंग : मोदी सरकार का शिक्षा माफिया के सामने खुला समर्पण

जगदीश्वर चतुर्वेदी

यूजीसी भंग करके केन्द्र सरकार ने सीधे राज्यों के हकों पर हमला किया है। यह शिक्षा को समवर्ती सूची से निकालकर केन्द्र के अधीन ले जाने की साजिश है। यूजीसी को भंग करने के उच्च शिक्षा के क्षेत्र में गंभीर परिणाम होंगे। मोदी सरकार का शिक्षा माफिया के सामने खुला समर्पण है।

Taliban and Polpot are Modi's ideal

योजना आयोग भंग, रेल मंत्रालय खत्म, कॉलेजियम अधमरा, यूजीसी भंग, मंत्री मंडल अपाहिज, चुनाव आयोग की बोलती बंद, नोटबंदी से गरीब की कमर तोड़ी, जीएसटी से व्यापारियों को बेहोश किया, सातवें वेतन मान से मजदूरों की दौलत लूटी, बैंकों में प्रतिदिन घोटाले, हर स्तर पर दल-बदल, बड़े पैमाने पर विधायकों की खरीद-फरोख्त की, मीडिया की बोलती बंद की, वाराणसी में सैंकड़ों मंदिरों का विध्वंस। यही है मोदी सरकार की चार साल की उपलब्धियां। इस सबके बाद भी यदि मोदीजी आपको प्यारे हैं तो आप इंतजार करें। 2019 के बाद आपकी लंगोटी, रोटी और बोटी नहीं मिलेगी, मोदी के आदर्श हैं तालिबान और पोलपोट (Pol Pot, CAMBODIAN POLITICAL LEADER,) !!

(प्रो. जगदीश्वर चतुर्वेदी की एफबी टिप्पणियों के संपादित अंश)

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।