हस्तक्षेप > स्तम्भ
मोदी से मुक्ति का समय आ ही गया है
मोदी से मुक्ति का समय आ ही गया है

कभी भी गुजरात में राजनीति के जमीनी नेता नहीं रहे मोदी

अरुण माहेश्वरी
2018-11-19 19:54:05
कम्युनिस्ट दल जब तक हिंदी का महत्व नहीं समझते वे हिंदी क्षेत्र में संकट में रहने को अभिशप्त हैं
कम्युनिस्ट दल जब तक हिंदी का महत्व नहीं समझते, वे हिंदी क्षेत्र में संकट में रहने को अभिशप्त हैं

हिंदी का प्रश्न राष्ट्रभाषा से नहीं, बल्कि वृहत्तर समाज के साथ संप्रेषण से जुड़ा है

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-11-19 19:13:16
क्या मोदी को चुनाव के पहले ही जाना पड़ सकता है
क्या मोदी को चुनाव के पहले ही जाना पड़ सकता है ?

सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस जांच की घोषणा के बाद मोदी का प्रधानमंत्री पद पर बने रहना क्या असंभव नहीं लगता है ?

अरुण माहेश्वरी
2018-11-15 10:58:09
क्या 2019 में 1996 दोहराया जाएगा
क्या 2019 में 1996 दोहराया जाएगा?

‘मोदी के मुकाबले कौन’ का झूठा सवाल .... राज्यस्तरीय व्यावहारिक गठबंधनों की फैडरेशन का ही होगा भाजपाविरोधी गठबंधन

राजेंद्र शर्मा
2018-11-14 10:09:21
अमेरिका में तो खेल हो गया मुंहबली ट्रंप की मनमानी पर लगेगी लगाम
अमेरिका में तो खेल हो गया, मुंहबली ट्रंप की मनमानी पर लगेगी लगाम

अमेरिका में सभी मानते हैं कि ट्रंप को काबू करने के लिए जरूरी था कि संसद में उनकी मनमानी वाले फैसलों को रोका जाए

हस्तक्षेप डेस्क
2018-11-13 12:03:37
ममता ने हमें झूठ का आदी बनाया मोदी ने उस पर हरी-भरी खेती की
ममता ने हमें झूठ का आदी बनाया मोदी ने उस पर हरी-भरी खेती की

राजनीति में संगठित और नियोजित झूठे प्रचार अभियानों को पहचानने का नजरिया विकसित किए बिना मोदी-ममता-केजरीवाल आदि से मुक्ति संभव नहीं है।

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-11-12 22:34:47
कहानी दो फैसलों की  आसिया बीबी और सबरीमाला
कहानी दो फैसलों की : आसिया बीबी और सबरीमाला

कुछ दशक पहले तक भारत का चरित्र अपेक्षाकृत लोकतांत्रिक, उदार एवं धर्मनिरपेक्ष था किंतु सन् 1990 के दशक से भारत में पाकिस्तान की तरह रूढ़िवाद हावी ह...

राम पुनियानी
2018-11-12 12:12:00
मोदी में अभी तक पीएम के सामान्य लक्षण संस्कार आदत और भाषण की भाषा नहीं
मोदी में अभी तक पीएम के सामान्य लक्षण, संस्कार, आदत और भाषण की भाषा नहीं

हिन्दुत्ववादी तानाशाही के 15 लक्ष्य

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-11-11 11:55:51
मोदी की यह कैसी विक्षिप्त मनोदशा
मोदी की यह कैसी विक्षिप्त मनोदशा !

पागलपन में वे कभी गांधी को अपनाने की कोशिश करते हैं तो कभी पटेल पर हाथ मारते हैं,

अरुण माहेश्वरी
2018-11-10 15:35:35
फिर मंदिर राग यानी असत्य का अट्टहास
फिर मंदिर राग यानी असत्य का अट्टहास

संघ परिवार के नेतृत्व में हिंदुत्ववादी ताकतें. जो छद्म हिंदू धर्म तथा हिंदू परंपरा गढ़ रही हैं, उसी के हिस्से के तौर पर एक नयी धार्मिक भाषा व शब्...

राजेंद्र शर्मा
2018-11-09 21:24:31
साधारण मनुष्य की महानता का महाख्यान 1917 की अक्तूबर क्रांति
साधारण मनुष्य की महानता का महाख्यान 1917 की अक्तूबर क्रांति

अक्तूबर क्रांति में मानव सभ्यता के इतिहास में पहली बार शासन अपने सिंहासन से उतरकर गरीब के घर पहुँचा था। गरीबों को उसने जीवन की वे तमाम चीजें दीं ...

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-11-08 21:08:46
मोदीजी  सावरकर और हिन्दू राष्ट्रवादी नेताजी के खिलाफ ब्रिटिश सेना का साथ दे रहे थे
भाषा आदमी की अपनी पहचान को खत्म करती है हेगेल ने कहा है शब्द वस्तु की हत्या के सबब होते हैं
भाषा आदमी की अपनी पहचान को खत्म करती है, हेगेल ने कहा है 'शब्द वस्तु की हत्या के सबब होते हैं'

पुरातनपंथी और जड़ विचारों से जकड़ा हुआ समाज न कभी किसी भाषा के विकास में सहयोगी बन सकता है और न संस्कृति के विकास में।

अरुण माहेश्वरी
2018-11-04 11:14:05
40 रुपये का सरदार पटेल का कोट और 431 करोड़ रुपये का प्रधानसेवक का कोट
40 रुपये का सरदार पटेल का कोट और 4.31 करोड़ रुपये का प्रधानसेवक का कोट !

जो सरदार पटेल आम हिंदुस्तानी की तरह अंतिम संस्कार चाहते थे, वैसे पटेल की आत्मा से क्या ज़बरदस्ती नहीं हुई ?

पुष्परंजन
2018-11-03 12:52:26
जेएनयू  लिबरल विश्वविद्यालय का अंत
जेएनयू : लिबरल विश्वविद्यालय का अंत

हमारे यहां उत्पादन संबंधों से शिक्षा का जितना संबंध है उससे ज्यादा अनुत्पादक संबंधों से उसका रिश्ता है, फलतः शिक्षा में जीवन में डिग्री अर्थहीनता...

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-11-03 11:25:06
संघ-मोदी बेहूदा तर्क दे रहे हैं कि पटेल किसी दल की थाती नहीं हैं जब स्वाधीनता संग्राम चल रहा था तो संघ कहाँ सोया हुआ था
संघ-मोदी बेहूदा तर्क दे रहे हैं कि पटेल किसी दल की थाती नहीं हैं, जब स्वाधीनता संग्राम चल रहा था तो संघ कहाँ सोया हुआ था ?

संघ-मोदी बेहूदा तर्क दे रहे हैं कि पटेल किसी दल की थाती नहीं हैं, जब स्वाधीनता संग्राम चल रहा था तो संघ कहाँ सोया हुआ था ?

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-10-31 17:21:16
आरबीआई और जेटली विवाद  जरूरत है अर्थनीति के पूरे सोच को समस्याग्रस्त बनाने की
आरबीआई और जेटली विवाद : जरूरत है अर्थनीति के पूरे सोच को समस्याग्रस्त बनाने की

मोदीजी के राज में बड़े पैमाने पर बैंकों का रुपया क्यों डूब रहा है...

अरुण माहेश्वरी
2018-10-31 09:59:24
प्राचीन हिन्दू धर्म का विरोधी है संघ का हिन्दू
प्राचीन हिन्दू धर्म का विरोधी है संघ का हिन्दू

सांस्कृतिक राष्ट्रवाद और सांप्रदायिकता

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2018-10-30 23:36:37