हस्तक्षेप > स्तम्भ > चतुर्दिक
मोदी सत्ता संघी भक्त और फासीवाद  एक विचार
मोदी, सत्ता, संघी, भक्त और फासीवाद : एक विचार

किसी भी प्रकार की स्वतंत्रता का फासिस्टों के लिये कोई मूल्य नहीं होता

अरुण माहेश्वरी
2018-05-20 12:42:24
खुल गया राज़  ऐसे गिरी कर्नाटक में भाजपा की सरकार फेल हो गए बीजेपी के चाणक्य
खुल गया राज़ : ऐसे गिरी कर्नाटक में भाजपा की सरकार, फेल हो गए बीजेपी के चाणक्य

खुल गया राज़ : ऐसे गिरी कर्नाटक में भाजपा की सरकार, फेल हो गए बीजेपी के चाणक्य

हस्तक्षेप डेस्क
2018-05-20 12:31:14
कर्नाटक में मोदी-शाह की नंगई को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती
कर्नाटक में मोदी-शाह की नंगई को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती

सत्ता हथियाने का यह विशुद्ध हिटलरी, अपराधी तरीका है। हिटलर ने इसी प्रकार जर्मनी की पार्लियामेंट में अपने अल्पमत को बहुमत में बदला था।

अरुण माहेश्वरी
2018-05-17 10:25:09
मार्क्स की शिक्षाएं पूंजीवाद के तमाम झंडाबरदारों को हमेशा अपने पर लटक रही तलवार की तरह सताती रहती हैं
मार्क्स की शिक्षाएं पूंजीवाद के तमाम झंडाबरदारों को हमेशा अपने पर लटक रही तलवार की तरह सताती रहती हैं

मार्क्सवाद के व्यवहारिक प्रयोगों के बारे में माओ त्से तुंग की इस बात का सबसे अधिक महत्व है कि 'साम्राज्यवादियों और प्रतिक्रियावादियों का एक ही तर...

अरुण माहेश्वरी
2018-05-12 16:08:46
क्या भारत के मुख्य न्यायाधीश को सच को छिपाने की बीमारी है
क्या भारत के मुख्य न्यायाधीश को सच को छिपाने की बीमारी है ?

दीपक मिश्रा ने अपने पद का दुरुपयोग करते हुए सबसे पहले तो खुद पर लग रहे आरोपों की जांच को खुद ही रोक दिया और फिर मोदी कंपनी से जुड़े सभी संवेदनशील...

अरुण माहेश्वरी
2018-05-09 17:09:55
भारत का प्रधानमंत्री इतना नीचे गिर कर ऐसी भाषा का प्रयोग कर सकता है
भारत का प्रधानमंत्री इतना नीचे गिर कर ऐसी भाषा का प्रयोग कर सकता है ?

तुगलक पढ़ा-लिखा व्यक्ति था। हमारे प्रधानमंत्री की समस्या है कि उनकी पढ़ाई का प्रमाणपत्र भी संदिग्ध है। ऊपर से आशाराम बापू जैसे लोगों की संगत का उ...

अरुण माहेश्वरी
2018-05-08 10:27:06
फिर पाकिस्तान की शरण में भाजपा-आरएसएस  जिन्ना ने एक पाकिस्तान बनाया ये भारत के टुकड़े-टुकड़े करके छोड़ेंगे
फिर पाकिस्तान की शरण में भाजपा-आरएसएस ! जिन्ना ने एक पाकिस्तान बनाया ये भारत के टुकड़े-टुकड़े करके छोड़ेंगे

अंग्रेजों के दलाल सावरकर के इन वंशधरों को कभी अंग्रेज अधिकारियों की तस्वीरों, मूर्तियों और उनके नाम पर महत्वपूर्ण इमारतों और स्थलों के नामकरण पर ...

अरुण माहेश्वरी
2018-05-07 16:44:16
कार्ल मार्क्स के जन्म के दो सौ साल और विमर्श का उल्लास
कार्ल मार्क्स के जन्म के दो सौ साल और 'विमर्श का उल्लास'

राइनलैंड-पैलेतिनेत राज्य के प्रधानमंत्री ने इस मौके पर कहा कि - हां, हम अपने शहर के इस बेटे के साथ हैं’। दोस्ती के प्रतीक के रूप में इस उपहार को ...

अरुण माहेश्वरी
2018-05-06 20:59:27
भारत के बौद्धिक जगत की एक बड़ी क्षति है डा अशोक मित्रा का जाना
भारत के बौद्धिक जगत की एक बड़ी क्षति है डा. अशोक मित्रा का जाना

डा. अशोक मित्रा हमारे बीच नहीं रहे। कल सुबह कोलकाता के एक अस्पताल में 90 साल की आयु में लंबी बीमारी के बाद उनका देहांत हो गया।

अरुण माहेश्वरी
2018-05-02 09:57:44
बता दो मोदीजी को विकल्प गर्भ में स्थापित हो चुका है होगा एक-एक पाई का हिसाब
बता दो मोदीजी को विकल्प गर्भ में स्थापित हो चुका है, होगा एक-एक पाई का हिसाब

जो लोग संघियों के खुद को सांत्वना देने वाले इस प्रचार को अक्सर दोहराते रहते हैं कि 2019 में उनका कोई विकल्प कहां है, यह टिप्पणी उन मासूम जनों के ...

अरुण माहेश्वरी
2018-05-01 13:09:43
मोदी दुनिया में घूम कर अपना समय काट रहे हैं जानते हैं कि पैरों के नीचे से जमीन निकल गई है
मोदी दुनिया में घूम कर अपना समय काट रहे हैं, जानते हैं कि पैरों के नीचे से जमीन निकल गई है

“यह मूर्खमंडली का शासन है। विदेश नीति इन पांच सालों में कोई दिशा पकड़ने के बजाय एक वृत्त में घूम गई है।

अरुण माहेश्वरी
2018-04-29 23:15:54
हैदराबाद में cpim में येचुरी की लाइन की जीत  यह भारतीय राजनीति की अनंत संभावनाओं का संकेत है
हैदराबाद में CPI(M) में येचुरी की लाइन की जीत : यह भारतीय राजनीति की अनंत संभावनाओं का संकेत है !

हैदराबाद में सीपीआई(एम) में येचुरी की लाइन की जीत पर : यह भारतीय राजनीति की अनंत संभावनाओं का संकेत है !

अरुण माहेश्वरी
2018-04-28 18:59:21
आरएसएस की तरह की एक जन्मजात वर्तमान संविधान-विरोधी सरकार द्वारा संविधान की रक्षा की बातें मिथ्याचार के सिवाय और कुछ नहीं
आरएसएस की तरह की एक जन्मजात वर्तमान संविधान-विरोधी सरकार द्वारा संविधान की रक्षा की बातें मिथ्याचार के सिवाय और कुछ नहीं

एक दिन पहले तक जो लोग न्यायपालिका को पंगु कर देने में पूरी ताकत से लगे हुए थे, आज अचानक ही न्यायपालिका की स्वतंत्रता और पवित्रता के झंडा-बरदार बन...

अरुण माहेश्वरी
2018-04-25 11:51:30
भाजपाआरएसएस को हराना ही अभी सीपीआईएम का मुख्य कर्तव्य
भाजपा/आरएसएस को हराना ही अभी सीपीआई(एम) का मुख्य कर्तव्य

आने वाले दो दिन सीपीआई(एम) के जीवन के बेहद महत्वपूर्ण दिन साबित होने वाले हैं। इसमें नई केंद्रीय कमेटी, पोलिट ब्यूरो का गठन होगा और महासचिव का भी...

अरुण माहेश्वरी
2018-04-21 17:11:40
सीपीआईएम की बाईसवीं कांग्रेस  यह सिद्धांतों की लड़ाई है या गुटबाजी
सीपीआई(एम) की बाईसवीं कांग्रेस : यह सिद्धांतों की लड़ाई है या गुटबाजी !

असली संकट अपनी बढ़ती हुई राजनीतिक-अदृश्यता से मुक्ति का है !

अरुण माहेश्वरी
2018-04-20 22:59:05
वामपंथ को अपनी ताकत को पहचानना होगा
वामपंथ को अपनी ताकत को पहचानना होगा

वैसे वामपंथ की ओर से किसी भी प्रकार की चुनौती के न होने ने आज की राजनीति में इतना योगदान जरूर किया है कि मोदी-आरएसएस पर सत्ता का नशा पूरी तरह से ...

अरुण माहेश्वरी
2018-04-14 23:12:45
भारत के अनैतिक राजनीतिज्ञों की मुट्ठी में आज पूरा मीडिया है जिसका अपना कोई जमीर नहीं
भारत के अनैतिक राजनीतिज्ञों की मुट्ठी में आज पूरा मीडिया है जिसका अपना कोई जमीर नहीं

​​​​​​​जब नागरिक सिर्फ एक डाटा बन जाए तो कोई रोबोट ही मनुष्यों के इस समाज का मालिक होगा ! जनतंत्र में नागरिकों को लेकर किया जाने वाला एक कारोबार ...

अरुण माहेश्वरी
2018-03-24 11:02:02
रवीन्द्रनाथ ने रामचंद्र गुहा की आंखें खोली फिर भी उनके लिये लेनिन की फांस बनी रह गई
रवीन्द्रनाथ ने रामचंद्र गुहा की आंखें खोली फिर भी उनके लिये 'लेनिन' की फांस बनी रह गई

इतिहासकार महोदय को इतिहास के उन परिवर्तनकारी क्षणों को देखने-समझने की समझ हासिल करना बाकी है जब स्थापित व्यवस्थाओं के ताने-बाने को पूरी तीव्रता स...

अरुण माहेश्वरी
2018-03-18 23:55:58