हस्तक्षेप > स्तम्भ > चतुर्दिक
एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’  एक फालतू एक्सीडेंटल फिल्म 
एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर’ : एक फालतू एक्सीडेंटल फिल्म 

अनुपम खेर मनमोहन सिंह की छवि को तो बिगाड़ पाने में सफल नहीं हुए, लेकिन एक अभिनेता के नाते उन्होंने खुद को दो कौड़ी का जरूर साबित कर दिया।

अरुण माहेश्वरी
2019-01-16 09:25:09
रोज लिखी जा रही मोदी शासन के अंतिम अध्याय की यह रोचक कहानी मोदी ने स्वीकार किया वह अब महज एक खोटा सिक्का है
रोज लिखी जा रही मोदी शासन के अंतिम अध्याय की यह रोचक कहानी, मोदी ने स्वीकार किया वह अब महज एक खोटा सिक्का है

मोदी ने यह स्वीकार लिया कि मोदी अब महज एक खोटा सिक्का है। उन्होंने राहुल गांधी पर सौ झूठी तोहमतें लगाई और फिर यह सवाल दागा कि क्या आप ऐसा प्रधान ...

अरुण माहेश्वरी
2019-01-13 20:22:45
उफ्फ  मोदी के दोस्त ट्रंप को भी 2019 से पहले ही विदेशों में मोदी की तथाकथित छवि पर कालिख पोतना थी
उफ्फ ! मोदी के दोस्त ट्रंप को भी 2019 से पहले ही विदेशों में मोदी की तथाकथित छवि पर कालिख पोतना थी ?

ट्रंप ने मोदी और भारत का मजाक उड़ाया... ट्रंप ने विदेशों में मोदी की तथाकथित छवि पर कालिख पोत कर मोदी के लिये 2019 को और कठिन बना दिया है

अरुण माहेश्वरी
2019-01-05 16:19:24
नोटबंदी एक अक्षम्य अपराध
नोटबंदी एक अक्षम्य अपराध

2016 की नोटबंदी न सिर्फ एक संपूर्ण विफलता थी बल्कि इससे अर्थ-व्यवस्था पर आघात की भारी कीमत अदा करनी पड़ी है, लोगों पर इसका बुरा असर पड़ा है, इससे...

अरुण माहेश्वरी
2018-12-30 14:49:27
2019  मोदी की सहायता नहीं कर पाएगा तथाकथित फेडरल फ्रंट
2019 : मोदी की सहायता नहीं कर पाएगा तथाकथित फेडरल फ्रंट

गुजरात, कर्नाटक चुनावों के बाद ही मोदी की अयोग्यता प्रकट होने लगी थी, उस पर हाल के पांच राज्यों के चुनाव परिणामों ने तो मोदी की वापसी पर गंभीर सव...

अरुण माहेश्वरी
2018-12-27 16:24:11
पांच राज्यों के चुनाव परिणाम  भारतीय राजनीति में मोदी के अंत की परिघटना के साफ संकेत
पांच राज्यों के चुनाव परिणाम : भारतीय राजनीति में मोदी के अंत की परिघटना के साफ संकेत

और मोदी ! 2019 के बाद पता नहीं किस अतल अंधेरे के जीव का जीवन जीयेंगे ! आरएसएस अपने सांस्कृतिक खोल में दुबक कर किसी नई साजिश की बुनावट में खो जायेगा।

अरुण माहेश्वरी
2018-12-20 00:09:40
बौहास आर्ट एंड डिजाइन स्कूल  क्रियात्मकता ही रूप को तय करती है
बौहास आर्ट एंड डिजाइन स्कूल : 'क्रियात्मकता ही रूप को तय करती है'

बुद्धिजीवियों के दमन का सिलसिला आज तक जारी है जब हम देखते हैं कि किस प्रकार चंद दिनों पहले ही अर्बन नक्सल के नाम पर कुछ श्रेष्ठ बुद्धिजीवियों को ...

अरुण माहेश्वरी
2018-12-18 11:45:27
मोदी शासन की उल्टी गिनती शुरू  अब समय ‘महागठबंधन’ की दिशा में बढ़ने का है
मोदी शासन की उल्टी गिनती शुरू : अब समय ‘महागठबंधन’ की दिशा में बढ़ने का है

हम भारत में 19 महीने के आंतरिक आपातकाल के साक्षी रहे हैं। लेकिन उस काल में भी किसी लेखक-बुद्धिजीवी की हत्या नहीं हुई थी।

अरुण माहेश्वरी
2018-12-12 12:59:47
2019 की लड़ाई में वामपंथ की भूमिका देखने लायक होगी  क्या प्रकाश करात को द्वंद्ववाद की न्यूनतम समझ भी नहीं
2019 की लड़ाई में वामपंथ की भूमिका देखने लायक होगी ! क्या प्रकाश करात को द्वंद्ववाद की न्यूनतम समझ भी नहीं !

आज भी प्रकाश करात अंध-कांग्रेस विरोध के चक्कर में उसी तरह फंसे हुए हैं, जैसे सीपीआई(एम) की पिछली हैदराबाद कांग्रेस के वक्त थे।

अरुण माहेश्वरी
2018-12-09 17:54:44
कृष्णमूर्ति का काम वही होगा जो अरविंद सुब्रह्मण्यन ने किया है — मोदी-जेटली के तुगलकीपन को सर्टिफिकेट देना
कृष्णमूर्ति का काम वही होगा, जो अरविंद सुब्रह्मण्यन ने किया है — मोदी-जेटली के तुगलकीपन को सर्टिफिकेट देना !

मोदी-जेटली को प्रमाणपत्र देने के लिए अब एक की जगह दूसरा सुब्रह्मण्यन ! अंततः कृष्णमूर्ति का काम वही होगा, जो अरविंद सुब्रह्मण्यन ने किया है — मोद...

अरुण माहेश्वरी
2018-12-09 10:15:45
सीबीआई बनाम सीबीआई विश्लेषण  पूरी तरह से बेपर्द हो गया मोदी का स्वेच्छाचार
सीबीआई बनाम सीबीआई विश्लेषण : पूरी तरह से बेपर्द हो गया मोदी का स्वेच्छाचार !

सीबीआई प्रमुख आलोक वर्मा ने मोदी के खास और परम भ्रष्ट अधिकारी आर के अस्थाना के खिलाफ भ्रष्टाचार के एक नग्न मामले में एफआईआर दायर की थी।

अरुण माहेश्वरी
2018-12-06 23:55:51
बकरे की मां कब तक खैर मनायेगी - सर्वोच्च न्यायालय में गुजरात फाइल्स का खौफ
बकरे की मां कब तक खैर मनायेगी - सर्वोच्च न्यायालय में 'गुजरात फाइल्स' का खौफ !

तुषार मेहता अपने मालिकों की इतनी सेवा करने में जरूर सफल हुए कि 7 दिसंबर को राजस्थान चुनाव के पहले इस रिपोर्ट को सामने नहीं आने दिये। लेकिन देखना ...

अरुण माहेश्वरी
2018-12-04 13:18:50
मोदी-विरोधी महागठबंधन में वामपंथ की पुरजोर मौजूदगी ही जनभावना के अनुकूल
मोदी-विरोधी महागठबंधन में वामपंथ की पुरजोर मौजूदगी ही जनभावना के अनुकूल

मोदी के खिलाफ महागठबंधन के प्रति जनता को आश्वस्त करना फासीवाद के खिलाफ लड़ाई का एक प्रमुख काम है

अरुण माहेश्वरी
2018-11-30 23:36:52
क्यों फिसल रहे हैं अमित शाह के पैर और मोदी की जुबान
क्यों फिसल रहे हैं अमित शाह के पैर और मोदी की जुबान

अब तो लाइलाज हो चुका है मोदी का बकबक का मर्ज... जितना इन्हें अपनी जमीन खिसकती दिखाई दे रही है, इनकी चाल-ढाल की गति उतनी ही तेज हो जा रही है।

अरुण माहेश्वरी
2018-11-25 12:47:51
‘हिन्दू ही राष्ट्र है’ का झूठा नारा और राष्ट्र की आबादियों की संरचना और सेकुलरिज्म
‘हिन्दू ही राष्ट्र है’ का झूठा नारा और राष्ट्र की आबादियों की संरचना और सेकुलरिज्म

जब आठ सौ साल पहले इंगलैंड में मुक्ति का महान घोषणापत्र ‘मैग्ना कार्टा’ तैयार हुआ था, तभी से धर्म के शासन के अंत और सेकुलर कानून के शासन की आधारशि...

अरुण माहेश्वरी
2018-11-24 12:21:40
मोदी से मुक्ति का समय आ ही गया है
मोदी से मुक्ति का समय आ ही गया है

कभी भी गुजरात में राजनीति के जमीनी नेता नहीं रहे मोदी

अरुण माहेश्वरी
2018-11-19 19:54:05
क्या मोदी को चुनाव के पहले ही जाना पड़ सकता है
क्या मोदी को चुनाव के पहले ही जाना पड़ सकता है ?

सुप्रीम कोर्ट द्वारा इस जांच की घोषणा के बाद मोदी का प्रधानमंत्री पद पर बने रहना क्या असंभव नहीं लगता है ?

अरुण माहेश्वरी
2018-11-15 10:58:09
मोदी की यह कैसी विक्षिप्त मनोदशा
मोदी की यह कैसी विक्षिप्त मनोदशा !

पागलपन में वे कभी गांधी को अपनाने की कोशिश करते हैं तो कभी पटेल पर हाथ मारते हैं,

अरुण माहेश्वरी
2018-11-10 15:35:35