हस्तक्षेप > स्तम्भ > देशबन्धु
मायावती के कांग्रेस से कुट्टी के गहरे राजनीतिक अर्थ और स्वार्थ हैं
मायावती के कांग्रेस से कुट्टी के गहरे राजनीतिक अर्थ और स्वार्थ हैं

मायावती राजनीति की माहिर खिलाड़ी हैं और वे अच्छे से जानती हैं कि कांग्रेस से गठबंधन न करने का ऐलान और साथ ही कांग्रेस के दोष गिनाने से सीधा फायदा ...

देशबन्धु
2018-10-07 18:23:01
बोफोर्स पर जेपीसी सही तो राफेल पर ग़लत कैसे
बोफोर्स पर जेपीसी सही, तो राफेल पर ग़लत कैसे ?

राफेल डील 58 हज़ार करोड़ की है। बोफोर्स डील सिर्फ 1700 करोड़ की थी। जब बोफोर्स पर संयुक्त संसदीय समिति JPC बैठ सकती है तो राफेल में क्या परेशानी है ...

पुष्परंजन
2018-09-25 18:51:23
विश्व हिन्दी सम्मेलन या हिन्दुत्व सम्मेलन
विश्व हिन्दी सम्मेलन या हिन्दुत्व सम्मेलन ?

हिन्दी एक दुरभिसंधि का शिकार हो गई। हिन्दी के समूचा तंत्र पर मनुवादी सोच का कब्जा ऊपर से नीचे तक दिखाई देता है। जातीय, प्रांतीय और धार्मिक आस्थाओ...

ललित सुरजन
2018-09-14 09:22:39
एलजीबीटी पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला बंद होगी नैतिकता की ठेकेदारी
एलजीबीटी पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला, बंद होगी नैतिकता की ठेकेदारी

जस्टिस मल्होत्रा ने समाज को माफी मांगने वाली जो टिप्पणी की है, वह संकुचित सोच वालों के लिए सबक है।

देशबन्धु
2018-09-07 09:07:01
अपने आखिरी लेख में कुलदीप नैय्यर ने कहा था -केन्द्र को सुशासन और विकास पर ध्यान देना चाहिए न कि हिंदुत्व के दर्शन को फैलाने पर
अपने आखिरी लेख में कुलदीप नैय्यर ने कहा था -केन्द्र को सुशासन और विकास पर ध्यान देना चाहिए, न कि हिंदुत्व के दर्शन को फैलाने पर

कुलदीप नैय्यर का आखिरी लेख, जिसमें उन्होंने कहा था -केन्द्र को सुशासन और विकास पर ध्यान देना चाहिए, न कि हिंदुत्व के दर्शन को फैलाने पर

अतिथि लेखक
2018-08-23 11:13:03
भारतीय पत्रकारिता का एक और मजबूत स्तंभ अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का पहरुआ आज ढह गया
भारतीय पत्रकारिता का एक और मजबूत स्तंभ, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का पहरुआ आज ढह गया

कुलदीप नैयर : भारतीय पत्रकारिता का एक और मजबूत स्तंभ, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का पहरुआ आज ढह गया

देशबन्धु
2018-08-23 09:51:12
rbi ने माना नोटबंदी और gst ने देश के व्यापारियों की हालत कर दी पतली मोदी जी फिर भी आएंगे अच्छे दिन
#RBI ने माना #नोटबंदी और #GST ने देश के व्यापारियों की हालत कर दी पतली, मोदी जी फिर भी आएंगे अच्छे दिन ?

#GhumtaHuaAaina| News of the week | सप्ताह भर की चुनिन्दा ख़बरों का आईना | 19 August 2018 |#HASTAKSHEP

राजीव रंजन श्रीवास्तव
2018-08-19 23:10:10
जीतेंगे पीएम मोदी ही मोदी के मुकाबले नहीं फेंक पाएंगे इमरान
जीतेंगे पीएम मोदी ही, मोदी के मुकाबले नहीं फेंक पाएंगे इमरान

चुनाव जीतने के बाद भारत में नेता जिस तरह वायदों से पलटते हैं, पाकिस्तान उससे जुदा नहीं है। चुनाव के समय इमरान खान ने दो करोड़ नौकरियां देने का वाय...

पुष्परंजन
2018-07-28 11:54:34
मोहन भागवत नौकरी किसकी कर रहे हैं संघ प्रमुख को किससे डर लगता है
मोहन भागवत नौकरी किसकी कर रहे हैं? संघ प्रमुख को किससे डर लगता है ?

हालत यह है कि पीएम मोदी की सुरक्षा इज़राइल मॉनिटर कर रहा है।... काली पैंट और सफेद शर्ट में स्वयंसेवक ‘भारत माता की जय’ नहीं, ‘विश्व घर्म की जय’ के...

पुष्परंजन
2018-07-14 22:34:20
बीजेपी ने तो अपना खेल कर दिया अब बारी महबूबा मुफ़्ती की है पीडीपी तीन साल कैसे इनके साथ रही उसे तो एक्सपोज़ करेगी
बीजेपी ने तो अपना खेल कर दिया, अब बारी महबूबा मुफ़्ती की है, पीडीपी तीन साल कैसे इनके साथ रही उसे तो एक्सपोज़ करेगी !

अचानक, और इतना बड़ा फैसला क्या नागपुर के इशारे पर लिया गया ?

पुष्परंजन
2018-06-19 17:55:01
प्रणब मुखर्जी संघम् शरणम् गच्छामि
प्रणब मुखर्जी संघम् शरणम् गच्छामि !

प्रणब मुखर्जी संघम् शरणम् गच्छामि ! | News of the Week | Pranab Mukherjee at RSS headquarter | hastakshep | हस्तक्षेप

राजीव रंजन श्रीवास्तव
2018-06-11 18:05:33
किसानों के भाग्य रामदेव जैसे कहाँ हैं जो समर्थन के लिए संपर्क पर निकले अमित शाह को किसान याद आएं
किसानों के भाग्य रामदेव जैसे कहाँ हैं जो समर्थन के लिए संपर्क पर निकले अमित शाह को किसान याद आएं

समर्थन के लिए संपर्क पर निकले अमित शाह को मंदसौर याद न आया.. किसी को कोई फर्क नहीं पड़ता हर साल हजारों किसान आत्महत्या करते हैं

देशबन्धु
2018-06-10 12:39:00
उपचुनाव  मोदी भंवर में क्यों डूब रही भाजपा की लुटिया मोदीमुक्त भारत की तरफ बढ़ते देश के कदम
उपचुनाव : मोदी भंवर में क्यों डूब रही भाजपा की लुटिया, मोदीमुक्त भारत की तरफ बढ़ते देश के कदम

उपचुनाव : मोदी भंवर में क्यों डूब रही भाजपा की लुटिया, मोदीमुक्त भारत की तरफ बढ़ते देश के कदम

देशबन्धु
2018-06-05 08:49:37
पता नहीं हुक्मरानों को कब अक्ल आएगी कश्मीर कोई प्रयोगशाला नहीं है
पता नहीं हुक्मरानों को कब अक्ल आएगी, कश्मीर कोई प्रयोगशाला नहीं है

जम्मू-कश्मीर को राजनीतिक प्रयोग का मैदान या ताकत प्रदर्शन का अखाड़ा न समझा जाए, बल्कि वहां के लोगों को, खासकर युवाओं को भरोसे में लेकर, धैर्य के स...

देशबन्धु
2018-06-04 19:25:09
मोदी सरकार के चार साल  नए सिरे से जुमलों को गढ़ने की जरूरत क्यों
मोदी सरकार के चार साल : नए सिरे से जुमलों को गढ़ने की जरूरत क्यों ?

भ्रष्टाचार अपनी जगह बरकरार है। नोटबंदी के कारण जनवरी से लेकर अप्रैल 2017 तक अकेले 15 लाख लोगों की नौकरियां चली गईं।

देशबन्धु
2018-05-29 23:14:10
अबकी बार जुमलेबाज़ सरकार एक देश एक टैक्स भी आखिरकार जुमला ही साबित हुआ
अबकी बार जुमलेबाज़ सरकार, एक देश, एक टैक्स भी आखिरकार जुमला ही साबित हुआ

जिस मलेशिया का उदाहरण देकर सरकार ने जीएसटी को सही बताया था, वहां भी अब जीएसटी खत्म हो गया है

देशबन्धु
2018-05-24 11:52:26
गांधीवाद की राह चलें राहुल  राजनीति की बेईमानी को केवल गांधीवाद के तरीकों से ही रोका जा सकता
गांधीवाद की राह चलें राहुल : राजनीति की बेईमानी को केवल गांधीवाद के तरीकों से ही रोका जा सकता

येदियुरप्पा ने 17 मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने की भविष्यवाणी कर दी थी। यह तो पता नहीं कि बी एस येदियुरप्पा ज्योतिष शास्त्र के जानकार हैं या ...

देशबन्धु
2018-05-19 10:44:18
मोदी-शाह के नेतृत्व पर पूरी भाजपा समर्पित होकर चलती है वह समर्पण भाव कांग्रेस में क्यों नजर नहीं आता
मोदी-शाह के नेतृत्व पर पूरी भाजपा समर्पित होकर चलती है, वह समर्पण भाव कांग्रेस में क्यों नजर नहीं आता ?

कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से लेकर तमाम नेताओं को सोचना चाहिए कि आखिर वे एक-दूसरे की राह का रोड़ा बनकर आखिर भाजपा के लिए रास्ता क्यों साफ कर रहे हैं?

देशबन्धु
2018-05-16 09:53:17