हस्तक्षेप > स्तम्भ > इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
आतंक का दूसरा नाम  लोगों से विकास परियोजनाओं पर सवाल उठाने का अधिकार छीन रही हैं सरकारें
आतंक का दूसरा नाम : लोगों से विकास परियोजनाओं पर सवाल उठाने का अधिकार छीन रही हैं सरकारें

प्रदूषण के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोग आतंकवादी कैसे हो गए? कैसे आम लोगों के खिलाफ सरकार द्वारा बल प्रयोग करना आतंकवाद नहीं है?

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-07-24 12:13:55
दालों का उत्पादन और कीमतों में उतार-चढ़ाव  नीतियां बनाने में नाकाम रही सरकार
दालों का उत्पादन और कीमतों में उतार-चढ़ाव : नीतियां बनाने में नाकाम रही सरकार

दाल किसानों की खत्म नहीं होने वाली चिंताएं दालों के उत्पादन और कीमतों में होने वाले उतार-चढ़ाव से किसानों और उपभोक्ताओं को बचाने के लिए सतत नीत...

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-07-03 17:54:04
अच्छा ही है कश्मीर में दिखावे का अंत
अच्छा ही है कश्मीर में दिखावे का अंत

संघर्षविराम और अव्यावहारिक गठबंधन का अंत करके भाजपा ने अपने बहुसंख्यकवादी एजेंडे के लिए रास्ता साफ कर दिया है

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-06-30 12:29:35
विपक्षी एकता का गणित  2019 में भाजपा को हरा देगा एकजुट विपक्ष
विपक्षी एकता का गणित : 2019 में भाजपा को हरा देगा एकजुट विपक्ष

उत्तर प्रदेश उपचुनाव के नतीजे विपक्ष के लिए उम्मीद जगाने के साथ विपक्ष की परेशानियों का भी संकेत दे रहे हैं...फेल हो गई भाजपा की धर्म के आधार पर ...

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-06-14 18:48:31
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का छद्म उदारवाद  प्रणब मुखर्जी को बुलाकर rss ने क्या साबित करने की कोशिश की है
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का छद्म उदारवाद : प्रणब मुखर्जी को बुलाकर RSS ने क्या साबित करने की कोशिश की है?

अंबेडकरवाद ने दलितों को चुना जिनके दक्षिणपंथी विचारधारा से प्रभावित होने की संभावना है. खाली व्यक्तित्वों के सिद्धांतों से भरे व्यक्तित्वों को शा...

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-06-26 15:27:28
बस्तरिया बटालियन  सरकार एक गंदा और खतरनाक खेल रही है
बस्तरिया बटालियन : सरकार एक गंदा और खतरनाक खेल रही है

बस्तर में माओवादियों से लड़ने के लिए केंद्रीय अर्द्धसैनिक बलों ने स्थानीय आदिवासी बल तैयार किया है

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-06-05 22:35:04
आखिर यह ऐतिहासिक जरूरत क्यों पैदा हो गई कि मोदी सरकार की प्रतिष्ठा पर सवाल उठाया जाए
आखिर यह ऐतिहासिक जरूरत क्यों पैदा हो गई कि मोदी सरकार की प्रतिष्ठा पर सवाल उठाया जाए ?

सरकार की गरिमा इसमें होती है कि वह कड़वे सच का भी सामना करे। किसानों की आत्महत्या और उससे कृषकों में पैदा हो रही हताशा ऐसा ही एक कड़वा सच है। लेकिन...

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-06-05 19:34:14
क्यों उबला थूतूकुडी तूतीकोरिन  अनुत्तरित हैं 13 लोगों की मौत से जुड़े कई सवाल
कर्नाटक  फिर से भारतीय राजनीति का सामंतीकरण
कर्नाटक : फिर से भारतीय राजनीति का सामंतीकरण

भाजपा ने कर्नाटक में जैसा चुनाव प्रचार किया, उससे लगता है कि वह हर कीमत पर जीतना चाहती थी... भाजपा के ‘कांग्रेस मुक्त भारत’ अभियान में संयत भाषा ...

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-05-22 11:10:48
मुठभेड़ की आड़ में नरसंहार  दिए जाते रहेंगे विकास के नाम विनाश के जख्म
मुठभेड़ की आड़ में नरसंहार : दिए जाते रहेंगे विकास के नाम विनाश के जख्म

माओवादियों का कहना है कि जो मारे गए हैं, उनमें से 22 ही उनके कैडर से थे. ... गढ़चिरोली में ‘माओवादियों’ की नृशंस हत्या और ‘विकास’ पर

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-05-21 18:58:06
क्या कश्मीर का कुछ नहीं हो सकता केंद्र सरकार की वजह से बातचीत के सारे विकल्प खत्म हो रहे हैं
क्या कश्मीर का कुछ नहीं हो सकता? केंद्र सरकार की वजह से बातचीत के सारे विकल्प खत्म हो रहे हैं

यहां की मुस्लिम आबादी को भाजपा दबाना चाहती है और हिंदू राष्ट्र का अपना बड़ा लक्ष्य हासिल करना चाहती है. कश्मीर में फैली अशांति, हिंसा और अलगाववाद ...

इकाॅनोमिक ऐंड पाॅलिटिकल वीकली
2018-05-20 19:04:49