हस्तक्षेप > स्तम्भ > पलाश विश्वास का रोज़नामा
निरंकुश जनसंहार ही राष्ट्रवाद की नई संस्कृति वतन सेना के हवाले up-बंगाल में भी हालात तेजी से कश्मीर जैसे बन रहे
निरंकुश जनसंहार ही राष्ट्रवाद की नई संस्कृति, वतन सेना के हवाले! UP-बंगाल में भी हालात तेजी से कश्मीर जैसे बन रहे

UP जीतने के बाद वहां मध्ययुगीन सामंती अंध युग में जिस तरह दलितों,  अल्पसंख्यकों,  स्त्रियों के खिलाफ युद्ध जारी है, उससे बाकी देश में युद्ध क्षेत...

पलाश विश्वास
2017-05-25 16:55:01
अच्छे दिन  जनसंख्या सफाये के लिए इससे बेहतर राजकाज और राजधर्म नहीं हो सकता
अच्छे दिन : जनसंख्या सफाये के लिए इससे बेहतर राजकाज और राजधर्म नहीं हो सकता

पृथ्वी विनाश के कगार पर है। इस पृथ्वी को बचाने के लिए मनुष्यता को बचाना बेहद जरूरी है। राजकाज, राजनय और अर्थव्यवस्था ग्लोबल शैतानी दुश्चक्र की रं...

पलाश विश्वास
2017-05-24 00:28:06
ये अच्छे दिन आपको मुबारक हम अपने बच्चों के कटे हुए हाथों और पांवों का हम क्या करेंगे
ये अच्छे दिन आपको मुबारक हम अपने बच्चों के कटे हुए हाथों और पांवों का हम क्या करेंगे?

रोजगार सृजन हो नहीं रहा है डिजिटल इंडिया की मुक्तबाजार व्यवस्था में रोजगार और आजीविका दोनों खत्म हो रहे हैं। आज भी युवा रोजगार की तलाश में यहां ...

पलाश विश्वास
2017-05-19 10:21:08
अस्मिता राजनीति को खत्म किये बिना मजहबी सियासत के शिंकजे से आम जनता को रिहा नहीं कर सकते
अस्मिता राजनीति को खत्म किये बिना मजहबी सियासत के शिंकजे से आम जनता को रिहा नहीं कर सकते

सत्ता रंगभेदी है और फासिस्ट है। यह सत्ता भी निरंकुश है जो दमन और उत्पीड़न के साथ साथ रंगभेदी नरसंहार के तहत आम जनता को कुचलने से परहेज नहीं कर...

पलाश विश्वास
2017-05-15 23:47:03
जब मेहनतकशों के हकहकूक भी खत्म हैं तो मई दिवस की रस्म अदायगी का क्या मतलब
जब मेहनतकशों के हकहकूक भी खत्म हैं तो मई दिवस की रस्म अदायगी का क्या मतलब?

जब मजदूर आंदोलन हैं ही नहीं, जब मेहनतकशों के हकहकूक भी खत्म हैं तो मई दिवस की रस्म अदायगी का क्या मतलब? सरकार अब मैनेजर की भूमिका में है हरियाण...

पलाश विश्वास
2017-05-01 18:55:09
दस दिगंत भूस्खलन जारी ज़िंदगी बड़ी होनी चाहिए लंबी चौड़ी नहीं
दस दिगंत भूस्खलन जारी... ज़िंदगी बड़ी होनी चाहिए, लंबी चौड़ी नहीं

ज़िंदगी जी लेने के बाद नई जिंदगी की शुरुआत मौत के बाद होती है और मौत के बाद कितनी लंबी जिंदगी किसी को मिलती है, मेरे ख्याल से कामयाबी की असल कसौट...

पलाश विश्वास
2017-04-29 18:55:37
अब पूरा देश गोडसे के राममंदिर में तब्दील है यही आज का सबसे भयंकर सच है
अब पूरा देश गोडसे के राममंदिर में तब्दील है, यही आज का सबसे भयंकर सच है

ममता के सर पर ग्यारह लाख का इनाम वाला वीडियो वाइरल तो मकसद पूरे भारत में दंगा भड़काने का है

पलाश विश्वास
2017-04-12 22:41:43
गाय के बराबर अधिकार तो मिलें नागरिक-मानवाधिकार हों या न हों  गोभक्तों में तब्दील है पूरा देश
गाय के बराबर अधिकार तो मिलें, नागरिक-मानवाधिकार हों या न हों ! गोभक्तों में तब्दील है पूरा देश

संविधान की रोज-रोज हत्या हो रही है और यह हकीकत है कि धर्म, भाषा, जाति, नस्ल, क्षेत्र चाहे कुछ हो भारत में हकीकत की जमीन पर मनुस्मृति राज है, जिसस...

पलाश विश्वास
2017-04-11 11:27:45
रामनवमी पर राम के नाम सशस्त्र बंजरंगी शक्तिपरीक्षण
रामनवमी पर राम के नाम सशस्त्र बंजरंगी शक्तिपरीक्षण

धार्मिक ध्रुवीकरण की सत्ता राजनीति ने बंगाल के चप्पे-चप्पे में बारुद सुरंगे बिछा दी हैं। इसके लिए सिर्फ संघ परिवार को दोषी ठहराना गलत है क्योंकि ...

पलाश विश्वास
2017-04-05 22:39:49
हे धर्म-रक्षकों शर्म करो
हे धर्म-रक्षकों, शर्म करो!

सबसे हैरतअंगेज है स्त्री संगठनों की निष्क्रियता जो स्त्री स्वतंत्रता के लिए अति मुखर हैं लेकिन न गुरमेहर और न मंदाक्रांता के बारे में उनमें कोई ह...

पलाश विश्वास
2017-04-01 00:33:10
राममंदिर को लेकर यूपी की सत्ता के जरिये फिर भारी हंगामा खड़ा करना मकसद है
राममंदिर को लेकर यूपी की सत्ता के जरिये फिर भारी हंगामा खड़ा करना मकसद है

कांशीराम उद्यान में मनुस्मृति सरकार की शपथ का इंतजाम बाबासाहेब को डिजिटल कैशलैस इंडिया में भीम ऐप बना देने की तकनीकी दक्षता है, जो बहुजन राजनीति ...

पलाश विश्वास
2017-03-22 00:02:01
मजहबी सिय़ासत की कयामत तो अब बस शुरू ही हुई है आगे-आगे देखते जाइये
मजहबी सिय़ासत की कयामत तो अब बस शुरू ही हुई है... आगे-आगे देखते जाइये

बहुगुणा परिवार के सारे लोग अब संघ परिवार के सिपाहसालार हैं तो महंत अजयसिंह बिष्ट बिना किसी राजनीतिक विरासत के पहाड़ से उतरकर मैदान में अपने प्रति...

हस्तक्षेप डेस्क
2017-03-19 21:53:49
पूर्वोत्तर में उग्रवादी-अलगाववादियों के सहारे खिलेगा कमल
पूर्वोत्तर में उग्रवादी-अलगाववादियों के सहारे खिलेगा कमल !

पूर्वोत्तर और पूर्वी भारत पर कब्जा करने का हिंदुत्व एजंडा उग्रवादी संगठनों की मदद से पूरा किया जा रहा है तो समझा जा सकता है कि राष्ट्र की एकता और...

पलाश विश्वास
2017-03-14 01:28:10
आगे त्रिपुरा और बंगाल की बारी है
आगे त्रिपुरा और बंगाल की बारी है

जाति धर्म के चुनावी समीकरण और मुक्तबाजारी धर्मनिरपेक्षता की राजनीति हिंदुत्व सुनामी पैदा करने में मददगार है। विधानसभाओं के नतीजे यही बताते हैं।

पलाश विश्वास
2017-03-13 14:09:29
जीत का जश्न मना लें आगे अनंत अमावस्या है
जीत का जश्न मना लें, आगे अनंत अमावस्या है !

अमेरिका और बाकी दुनिया में भारतीय मूल के लोगों पर हमले तेज हो रहे हैं तो स्वदेश में भी आजीविका और रोजगार पर कुठाराघात है। मुक्तबाजार में नोटबंदी...

पलाश विश्वास
2017-03-09 23:17:55
ट्रंप के नस्ली उन्मादी जिहाद के हक में हैं राजनीति राजनय और मीडिया
ट्रंप के नस्ली उन्मादी जिहाद के हक में हैं राजनीति, राजनय और मीडिया

असम में बंगाली शरणार्थियों की रैली उल्फा के खिलाफ, अब जेलभरो का ऐलान। आखिरी चरण के मतदान से पहले अमेरिका ने कहा, पाकिस्तान और बांग्लादेश खतर...

पलाश विश्वास
2017-03-07 22:03:18
बनारस में तोते की जान दांव पर है और कालाधन गंगाजल की तरह पवित्र
बनारस में तोते की जान दांव पर है और कालाधन गंगाजल की तरह पवित्र

उद्योग कारोबार के संकट के हल के लिए हिंदुत्व सुनामी काफी नहीं है! आगे बेहद खतरनाक मोड़ है! कालाधन से वोट खरीदे जा सकते हैं लेकिन इससे न अर्थ व्य...

पलाश विश्वास
2017-03-08 11:39:33
सीनाजोरी का जलवा - अब नोटबंदी के बाद जुबां पर तालाबंदी की तैयारी
सीनाजोरी का जलवा - अब नोटबंदी के बाद जुबां पर तालाबंदी की तैयारी!

सहिष्णुता की बात करने पर अंजाम कलबुर्गी, पानेसर, दाभोलकर, रोहित वेमुला या नजीब का है या शहीद की इक्कीस साल की बेटी को रेप की धमकी है या राष्ट्रद्...

पलाश विश्वास
2017-03-02 22:46:00