हस्तक्षेप > स्तम्भ > समय संवाद
तुलसी के राम और संघ के राम
तुलसी के राम और संघ के राम

तुलसी के राम शत्रुहंता नहीं हैं... तुलसी के राम लोगों के मन-मंदिर में ही बसते हैं... ‘राम-राम’ या ‘सिया-राम’ में जो सहजता और आत्मीयता होती है, वह...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-12-09 13:29:00
सरकार जमीन लेंगे  और जान भी
सरकार जमीन लेंगे ... और जान भी !

खेत, जंगल, नदी-घाटी, पठार, पहाड़, समुद्र के गहरे किनारे - हर जगह जमीन की अंतहीन जंग छिड़ी है। जमीन हथियाने वालों में छोटे-बड़े बिल्डिरों से लेकर देश...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-12-01 15:39:28
मुसलमान गठबंधन की गांठों की जकड़ अपने को बाहर रखते हुए लोकसभा 2019 के चुनाव की सविनय अवज्ञा कर दें
मुसलमान गठबंधन की गांठों की जकड़ अपने को बाहर रखते हुए लोकसभा 2019 के चुनाव की सविनय अवज्ञा कर दें

एक बार फिर बुरी गत बननी है मुसलमानों की... सत्ता से जुड़े नेताओं, चाहे वे किसी भी राजनैतिक पार्टी के हों, को उस फासीवादी संकट की परवाह नहीं

डॉ. प्रेम सिंह
2018-10-09 22:32:32
नवसाम्राज्यवादी जुए के नीचे राष्ट्र-भक्ति और राष्ट्र-द्रोह की फर्जी जंग
नवसाम्राज्यवादी जुए के नीचे राष्ट्र-भक्ति और राष्ट्र-द्रोह की फर्जी जंग

उग्र- पूंजीवाद को चाहिए उग्र-राष्ट्रवाद... गंभीर वैचारिक अंतर्वस्तु नहीं राष्ट्र-भक्ति बनाम राष्ट्र-द्रोह की जंग में...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-09-10 20:05:50
कुलदीप नैयर का निधन  बुझ गई अंधेरे में जलती मशाल
कुलदीप नैयर का निधन : बुझ गई अंधेरे में जलती मशाल

कुलदीप नैयर ने 2011 में सोशलिस्ट पार्टी की पुनर्स्थापना के समय कहा था कि आज़ादी के बाद भारत की राजनीति में यह सबसे कठिन दौर है.

डॉ. प्रेम सिंह
2018-08-23 11:57:11
धर्मनिरपेक्ष बुद्धिजीवी देश को और ज्यादा गहरे संकट की तरफ धकेल रहे
धर्मनिरपेक्ष बुद्धिजीवी देश को और ज्यादा गहरे संकट की तरफ धकेल रहे

धर्मनिरपेक्ष बुद्धिजीवी देश को और ज्यादा गहरे संकट की तरफ धकेल रहे हैं। अपने तात्कालिक स्वार्थों की पूर्ति के लिए वे भाजपा के समानांतर एक अन्य फा...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-08-16 22:03:15
असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर  भाजपा की बदनीयती से राष्ट्रीय सुरक्षा पर खतरा
असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर : भाजपा की बदनीयती से राष्ट्रीय सुरक्षा पर खतरा

सत्तारूढ़ पार्टी और उसके अध्यक्ष को समझना चाहिए कि राष्ट्रीय सुरक्षा पर खतरा असम में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के नाम पर पूरे देश में साम्प्रदायिक ...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-08-02 08:20:36
दिल्ली में भूखी बच्चियों की मौत  कौन जिम्मेदार भारत माता की बच्चियों के लिए न्याय की आशा नहीं
दिल्ली में भूखी बच्चियों की मौत : कौन जिम्मेदार?, भारत माता की बच्चियों के लिए न्याय की आशा नहीं

आप और उसके CM और DYCM सीधे नवउदारवाद की कोख से पैदा हुए हैं. नेता बनने के पहले वे यूरोप अमेरिका की संस्थाओं से मोटा धन लेकर NGO चलाते थे और कभी म...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-07-31 13:49:28
आरएसएस पहले गांधी को लात मार कर नीचे गिराएगा या अम्बेडकर को
आरएसएस पहले गांधी को लात मार कर नीचे गिराएगा या अम्बेडकर को?

बाज़ार की गली में गांधी-अम्बेडकर पर बहस.... भारत के लोग क्यों गाँधी की एक बार हत्या से संतुष्ट नहीं हैं? क्यों उसे बार-बार मारते हैं?

डॉ. प्रेम सिंह
2018-07-23 22:52:20
सबक सिखाने के दौर में  आरएसएस का हिंदुत्व और उसका गर्व पराजित मानसिकता की कुंठा से पैदा होता है
सबक सिखाने के दौर में : आरएसएस का हिंदुत्व और उसका गर्व पराजित मानसिकता की कुंठा से पैदा होता है

कुंठित आक्रोश की पुकार... कारपोरेट पूंजीवाद देश के नेताओं को ही नहीं, बुद्धिजीवियों को भी नचा रहा है...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-07-19 16:23:16
केजरीवाल का समर्थन मोदी का ही समर्थन है
केजरीवाल का समर्थन मोदी का ही समर्थन है

मध्‍यवर्ग के स्‍वार्थ की राजनीति का नया नायक केजरीवाल है। एनजीओ सरगना अरविंद केजरीवाल सीधे कारपोरेट की कोख से पैदा हुए हैं। वे विदेशी धन लेकर एनज...

डॉ. प्रेम सिंह
2018-09-10 20:37:22