कांग्रेस का युवाओं के लिए अलग घोषणा पत्र

कांग्रेस ने दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए अपना चुनावी घोषणापत्र जारी करते हुए सभी वर्गों को अपनी ओर आकर्षित करने का प्रयास किया है।...

हाइलाइट्स
  • गंदगी मुक्त दिल्ली में मजदूर, घरेलू कामगारों को बीमा, बेरोजगार मजदूरों को मिलेगा बेरोजगारी भत्ता
  • मूलभूत ढांचा विस्तार पर आज बोलेंगे कांग्रेस नेता

नई दिल्ली, 17 अप्रैल। कांग्रेस ने दिल्ली नगर निगम चुनाव के लिए अपना चुनावी घोषणापत्र जारी करते हुए सभी वर्गों को अपनी ओर आकर्षित करने का प्रयास किया है। गंदगी मुक्त दिल्ली, मजदूरों को बीमा, युवाओं के लिए अलग योजनाएं, अनधिकृत कालोनियों को नियमित करने, झुग्गी-झोपड़ीवासियों को पक्के मकान, पांच लाख रेहड़ी पटरी वालों को बीमा व उन्हें नियमित स्थान पर लाइसेंस देने के वादे के साथ कांग्रेस ने सत्ता में आने पर शहरी गरीबी उन्मूलन आयोग बनाने की बात कही है। घरेलू कामगारों के लिए हेल्पलाइन, शिकायत प्रकोष्ठ  व कोष बनाने, बेरोजगार मजदूरों को बेरोजगारी भत्ता देने का ऐलान किया है।

         प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन ने घोषणा पत्र जारी करते हुए कहा कि रिक्शा चालकों को दुर्घटना बीमा और सफाई कर्मचारी को नियमित वेतन दिया जाएगा और सत्ता में आने के छह महीने के अंदर पूरा बकाया वेतन मिलेगा। अस्थाई सफाई कर्मियों को पक्का किया जाएगा, अनधिकृत कालोनियों के लिए अलग से दो हजार करोड़ रुपए का फंड होगा, जिससे इलाके का विकास होगा। पार्षद और विकास कोष बनाकर काम किया जाएगा। निगम की जमीन पर बनी झुग्गियों को वहीं पर मकान बनाकर देंगे, ताकि झुग्गीमुक्त शहर के लक्ष्य को हासिल किया जा सके। लोगों को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाएंगे। इसके लिए 5200 करोड़ रुपए के अतिरिक्त आय का रास्ता तैयार किया गया है। अभी 3-4 हजार करोड़ रुपए आता है। इन पैसों से विकास कार्य कर लोगों को आत्मनिर्भर बनाएंगे। दिल्ली से कूड़ा-कचरा हटाएंगे। साथ ही शिक्षा और स्वास्थ्य पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा। शिक्षा के स्तर को इतना बेहतर करेंगे कि स्कूलों में छात्रों की संख्या बढ़ सके।

       माकन ने बताया कि घोषणा पत्र चार चरण में लाएंगे इसमें आज पहले चरण में दिल्ली के निर्माताओं का ध्यान रखती एमसीडी, आत्म निर्भर एमसीडी, गंदगी एवं बीमारी विहिन दिल्ली, विश्वस्तरीय प्राथमिक शिक्षा एवं चिकित्सा प्रदान करती एमसीडी पर चार घोषणा पत्र जारी किए। उन्होने कहा कि मंगलवार को दिल्ली कांग्रेस अर्बन इन्फ्रास्ट्रक्चर जिसमें हाउस टैक्स इत्यादि को लेकर घोषणा पत्र जारी करेगी और 19 अप्रैल 2017 को दिल्ली विश्वविद्यालय के पास निगम के द्वारा युवा के लिए क्या-क्या कार्य किए जाऐंगे इसको लेकर एक युवा घोषणा पत्र जारी करेंगे जिसमें मेरे साथ पूर्व मंत्री आरपीएन सिंह व जितिन प्रसाद तथा सासंद सुष्मिता देव होंगी।

     श्री माकन ने कहा कि कांग्रेस पार्टी निगम की सत्ता में आने के बाद प्लम्बर का कार्य करने वाले मजदूरों, रेहड़ी पटरीवालों, निर्माण कार्य तथा घरों में कार्य करने वाले मजूदरों को स्वास्थ्य बीमा प्रदान करेगी।

उन्होंने कहा कि निर्माण कार्यो जैसे खतरनाक व्यवसाय में काम करने वाले मजदूरों से न्यूनतम योगदान लेकर उनको दुर्घटना बीमा के दायरे में लिया जायेगा।

श्री माकन ने कहा कि निर्माण कार्य व घरेलू मजदूरों के लिए एक कोष बनाया जाएगा तथा इनसे ली गई मासिक राशि की तीन गुना राशि निगम कोष में जमा करा कराऐगी जिससे इनको लाभ मिलेगा। यदि किसी मजदूर की नौकरी आकस्मिक चली जाती है तो उसको तीन महीने का वेतन इस कोष से दिया जायेगा। सफाई कर्मियों को नियमित वेतन व छह माह में के बकाए का भुगतान होगा। ठेके पर काम कर रहे सफाई कर्मचारियों को दो साल बाद नियमित किया जाएगा। महिला कर्मचारियों को प्रतिदिन एक घंटे का अवकाश उनको अपने बच्चों को स्कूल छोडऩे व लाने के लिए दिया जाएगा। सफाई कर्मचारियों को दुर्घटना बीमा तथा दुर्घटना के कारण हुई कर्मचारी की मृत्यु के बाद उसके परिवार को रोजगार दिया जाएगा।

     उन्होने कहा कि दिल्ली की 1639 अनाधिकृत कालोनियों में तकरीबन 40 लाख लोग रहते है ओर कांग्रेस की दिल्ली सरकार ने 42000 करोड़ रुपया अनाधिकृत कालोनियों के विकास के लिए खर्च किया था तथा 895 को नियमित भी किया था। हम अनाधिकृत कालोनियों के विकास के लिए दो हजार करोड़ का विकास कोष अलग से बनाऐंगे और निगम की सत्ता में आने 6 महीने में अनाधिकृत कालोनियों के ले-आउट प्लान को मंजूरी मिलेगी व सफाई भी सुधारी जाएगी। इन कालोनियों में खाली पड़ी जमीन पर स्कूल, डिस्पेन्सरी, सामुदायिक केन्द्र तथा पार्क इत्यादि बनाऐ जाऐंगे। श्री माकन ने कहा कि गांव के बड़े हुए लाल डोरे को नियमित किया जाएगा तथा गांव का विकास किया जाएगा।

उन्होने कहा कि आत्मनिर्भर निगम बनाएंगे तो वहीं गंदगी एवं बीमारी विहीन दिल्ली,  विश्वस्तरीय प्राथमिक शिक्षा एवं चिकित्सा प्रदान करती नगर निगम बनाने पर जोर दिया जाएगा।

      श्री माकन ने कहा कि हम डायग्नोस्टिक सेन्टर ऑन व्हील की शुरुआत करेंगे जो लोगों को उनके घरों के पास विभिन्न जांच की सुविधाऐं प्रदान करेंगी।  दिल्लीवासियों को डेंगू व चिकनगुनिया के कारण अपनी जान गंवानी पड़ी है क्योंकि निगम की भाजपा सरकार और दिल्ली की आम पाटी की सरकार पूरी तरह से इन बीमारियों पर लगाम लगाने में असफल रही है।

श्री माकन ने कहा कि हम मच्छरों की समस्या से निपटने के लिए एक विशेष टास्क फोर्स बनाऐगे जो 10 वार्डो में 27 टास्क फोर्स बनेगी। हर मेट्रो स्टेशन पर चिकित्सा केन्द्र, कम दामों में उचित मूल्य, फार्मेसी में दवाऐं मिलेंगी तथा वृद्धों के लिए डे-केयर सेन्टर बनाए जाएंगे।





हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
क्या मौजूदा किसान आंदोलन राजनीति से प्रेरित है ?