Breaking News
Home / #BhimaKoregaonViolence : 60 घंटे बाद भी हिन्दुत्ववादी अपराधी बाहर, वागले ने फडनवीस से पूछा कौन बचा रहा है

#BhimaKoregaonViolence : 60 घंटे बाद भी हिन्दुत्ववादी अपराधी बाहर, वागले ने फडनवीस से पूछा कौन बचा रहा है

#BhimaKoregaonViolence : 60 घंटे बाद भी हिन्दुत्ववादी अपराधी बाहर, वागले ने फडनवीस से पूछा कौन बचा रहा है

नई दिल्ली 04 जनवरी। सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ महाराष्ट्र में बुलन्द आवाज़ वरिष्ठ पत्रकार निखिल वागले ने भीमा कोरेगांव हिंसा के अपराधियों को सरकारी संरक्षण प्राप्त होने का आरोप लगाया है।

निखिल वागले ने आज सुबह- सुबह माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा –

60 घंटे से अधिक का समय बीत चुका है, लेकिन #BhimaKoregaonViolence के अपराधियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। अतिवादी हिंदुत्ववादी नेता संभाजी उर्फ मनोहर भिडे और मिलिंद एकबोटे पर दंगे और उत्पीड़न को उकसाने का आरोप है। वे स्वतंत्र क्यों घूम रहे हैं? प्रिय, देवेंद्र फडनवीस, उनकी रक्षा कौन कर रहा है?

<blockquote class="twitter-tweet" data-lang="en"><p lang="en" dir="ltr">More than 60 hour passed, but <a href="https://twitter.com/hashtag/BhimaKoregaonViolence?src=hash&amp;ref_src=twsrc%5Etfw">#BhimaKoregaonViolence</a> culprits not arrested. Extremist Hindutva leaders Sambhaji alias Manohar Bhide and Milind Ekbote are accused of instigating riots and atrocity. Why are they roaming free? Dear <a href="https://twitter.com/Dev_Fadnavis?ref_src=twsrc%5Etfw">@Dev_Fadnavis</a>, who is protecting them?</p>&mdash; nikhil wagle (@waglenikhil) <a href="https://twitter.com/waglenikhil/status/948739399000485888?ref_src=twsrc%5Etfw">January 4, 2018</a></blockquote>

<script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>

निखिल वागले के इस ट्वीट पर हिन्दुत्ववादी झुण्ड टूट पड़ा और उन्हें ट्रोल किया जाने लगा। एक व्यक्ति ने लिखा –

“निखिल तुम जैसे पत्रकार की खाल में छिपे वामपंथी+ कांग्रेसी टट्टू के ट्वीट पढ़कर हंसी आती है| यह सार्वभौम है कि दंगे के गद्दार खालिद और मानसिक कुण्ठित दिव्यांग, जिग्नेश के हिन्दू विरोधी बयानों के कारण हुए|

    पत्रकार का मुखौटा पहने हो कभी तो सच लिखा करो……”

<blockquote class="twitter-tweet" data-conversation="none" data-lang="en"><p lang="hi" dir="ltr">निखिल तुम जैसे पत्रकार की खाल में छिपे वामपंथी+ कांग्रेसी टट्टू के ट्वीट पढ़कर हंसी आती है| यह सार्वभौम है कि दंगे के गद्दार खालिद और मानसिक कुण्ठित दिव्यांग, जिग्नेश के हिन्दू विरोधी बयानों के कारण हुए| <br>    पत्रकार का मुखौटा पहने हो कभी तो सच लिखा करो……</p>&mdash; जितेन्द्र (@JeetS72) <a href="https://twitter.com/JeetS72/status/948754838430539776?ref_src=twsrc%5Etfw">January 4, 2018</a></blockquote>

<script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>

इसके बाद निखिल वागले ने एक और ट्वीट करके भक्तों से कहा,

"प्रिय भक्तों, पिछले 4 दिनों सेआपने मुझे जी भरके गालियां दीं। मेरे विरुद्ध पुलिस कार्रवाई की धमकी दी। आप जो चाहें करने के लिए स्वतंत्र हैं। अंततः यह आपकी सरकार है। लिकिन आप मुझे जेल में भी डाल देंगे तब भी मैं अपना काम करता रहूँगा।

Not to mention: without fear or favour"

<blockquote class="twitter-tweet" data-lang="en"><p lang="en" dir="ltr">Dear Bhakts, last 4 days you have abused me a lot. Also threatened police action against me. You are free to do whatever you want. Finally its your government. But even if you put me in jail I will continue my work. Not to mention: without fear or favour.</p>&mdash; nikhil wagle (@waglenikhil) <a href="https://twitter.com/waglenikhil/status/948770432471130113?ref_src=twsrc%5Etfw">January 4, 2018</a></blockquote>
<script async src="https://platform.twitter.com/widgets.js" charset="utf-8"></script>
 

About हस्तक्षेप

Check Also

Top 10 morning headlines

आज सुबह की बड़ी खबरें : रामराज्य (!) में इकबाल का गीत गाने पर प्रधानाध्यापक निलंबित

Live News : संसद का शीतकालीन सत्र 18 नवंबर से 13 दिसंबर तक संसद का …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: