cpi barabanki

बलात्कारी स्वामी चिन्मयानंद को गिरफ्तार करो

बाराबंकी 11 सितंबर 2019। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने आरोप लगाया है कि योगी सरकार बलात्कारियों को खुला संरक्षण दे रही है, इसका जीता जागता उदाहरण भाजपा नेता स्वामी चिन्मयानन्द की गिरफ्तारी न होना है। इसके पूर्व चिन्मयानन्द का बलात्कार का मुकदमा इसी सरकार द्वारा वापस लिया जा चुका है।

स्वामी चिन्मयानंद की गिरफ्तारी की मांग को लेकर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी द्वारा आयोजित प्रदर्शन के बाद प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए भाकपा की राज्य परिषद के सदस्य रणधीर सिंह सुमन ने कहा कि सरकार दिवालिया हो चुकी है और बिजली जैसे आवश्यक जरूरत के दाम 15 गुना बढ़ा दिया है इस तरह से जनता को लूटा जा रहा है।

पार्टी के जिला सचिव बृजमोहन वर्मा ने कहा कि दिल्ली में 200 यूनिट बिजली उपभोक्ताओं को निःशुल्क है, वहीं उत्तर प्रदेश में लगभग एक यूनिट बिजली का दाम 8 रूपये कर दिया गया है।

पार्टी के सह सचिव डॉ. कौसर हुसैन ने कहा कि बस स्टेशन को बन्द करके जिला प्रशासन भूमाफियाओं से मिलकर बस अड्डा खाली करा रही है जो जनहित में नहीं है।

पार्टी के दूसरे सहसचिव शिवदर्शन वर्मा ने कहा कि आवारा पशुओं की वजह से किसानों की फसलें नष्ट हो गई हैं, सरकार तुरन्त उसका मुआवजा दे।

किसान सभा के जिलाध्यक्ष विनय कुमार सिंह ने कहा कि गांवों में बिजली दे नहीं रहे है और बिल 24 घण्टे का वसूलते हैं। वहीं किसान सभा के उपाध्यक्ष प्रवीण कुमार ने कहा कि बलात्कारी चिन्मयानन्द को अविलम्ब गिरफ्तार करके सरकार अपनी निष्पक्षता का परिचय दे।

प्रदर्शन गांधी भवन से प्रारम्भ होकर जिलाधिकारी कार्यायल पर गगन भेदी नारों के बीच में एक छह सूत्रीय ज्ञापन गिरीश कुमार द्विवेदी व अंकित वर्मा उपजिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा गया।

प्रदर्शनकारियों में गिरीश चन्द्र, मुनेश्वर बक्श, सन्तराम प्रधान, अमर सिंह प्रधान, कल्लूराम पूर्व प्रधान, रामनरेश वर्मा, श्याम सिंह, अंकुर वर्मा, सरदार भूपिन्दर पाल सिंह उर्फ शैन्की, अवधेश, सुरेश चन्द्र, रमेश, महेन्द्र यादव, जियालाल, दल सिंगार आदि सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

About हस्तक्षेप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.