Ajay Kumar Lallu with Priyanka Gandhi

ऊर्जा मंत्री हों बर्खास्त, एमडी और सीएमडी उर्जा के विरूद्ध हो एफआईआर : कांग्रेस

ऊर्जा मंत्री हों बर्खास्त, एमडी और सीएमडी उर्जा के विरूद्ध हो एफआईआर : कांग्रेस

डीएचएफएल ने बीजेपी को बीस करोड़ रुपये से अधिक चंदे के रूप में दिए

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू का बयान Congress state president Ajay Kumar Lallu’s statement

राज्य मुख्यालय लखनऊ 03 नवंबर 2019 (तौसीफ कुरैशी)। ऊर्जा विभाग के यूपीपीसीएल घोटाले को लेकर ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा के जवाब के बाद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार सिंह लल्लू ने जवाब दिया।

लल्लू ने कहा कि मुख्यमंत्री कहते रहे कि बीजेपी सरकार भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेन्स पर काम कर रही है। जहां DHFL कम्पनी में 2600 करोड़ रुपए की भविष्य निधि बिजली कर्मचारियों का बड़ा हिस्सा लूटने का काम किया गया। प्रियंका गांधी के TWEET के बाद सरकार कुम्भकरणी नींद से जागी। सीएम बतायें कि 2600 करोड़ रुपए का काम बिना कैबिनेट के कैसे किया गया। इस पूरे मामले में चेयरमैन, मंत्री और एमडी की क्या भूमिका है। इस पूरे मामले में चीफ इंजीनियर को निलम्बित करके जेल भिजवा देना क्या काफी है?

Immediate dismissal of energy minister in UPPCL scam

कांग्रेस अध्यक्ष ने मांग की कि ऊर्जा मंत्री को तत्काल बर्खास्त किया जाए। अधिकारियों के खिलाफ तुरन्त मुकदमा दर्ज हो चुनाव में 20 करोड़ से अधिक की धनराशि चंदे के रूप में DHFL ने दी। DHFL कम्पनी के लोगों का मंत्री के शक्ति भवन ऑफिस, यहां के आवास और मथुरा में घर आना जाना रहा है। दस्तावेजों को तत्काल सीबीआई सीज करे, पिछली सरकार ने डील किया और इस सरकार ने उसपर मुहर लगाई। कांग्रेस पार्टी इस लड़ाई को सड़क से सदन तक लड़ने का काम करेगी।

श्री लल्लू ने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार और बीजेपी की सरकार आने के बाद कई महीनों तक ये खेल चलता रहा। ये सरकार छोटे कर्मचारियों पर कार्रवाई करके खानापूर्ति करना चाहती है। बिजली विभाग के भविष्य निधि का मामला है मुख्यमंत्री में थोड़ी भी नैतिकता बची हो तो श्रीकांत शर्मा को तुरन्त बर्खास्त करें एमडी और सीएमडी पर मुकदमा दर्ज कराए।

21 महीनों तक सरकार ने आंख बंद क्यों रखी? Why did the government keep its eyes closed for 21 months?

कांग्रेसकहा कि   अध्यक्ष ने प्रियंका गांधी ट्वीट नहीं करतीं तो मामला जस का तस बना रहता।समाजवादी पार्टी के समझौते को जारी रखना, अखिलेश यादव के तमाम मामलों की जांच कराई गई इस मामले की क्यों नहीं जांच कराई क्योंकि बहुत बड़े लोग इसमें मिले हुए हैं।

DHLF gave to BJP as donations in excess of twenty crores rupees

http://www.hastakshep.com/oldminister-tried-to-spin-the-case-on-scam-in-uppcl/

 

About हस्तक्षेप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.