National News

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बना एक और कीर्तिमान

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में बना एक और कीर्तिमान

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections) में एक और कीर्तिमान बना है। नवनिर्वाचित महाराष्ट्र विधानसभा को भाइयों की एक जोड़ी मिलेगी जो दो बार कांग्रेस के मुख्यमंत्री रहे स्वर्गीय विलासराव देशमुख की विरासत को आगे बढ़ाएंगे। पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय विलासराव देशमुख के दो बेटों ने लातूर से महाराष्ट्र विधानसभा में प्रवेश के लिए अपनी सीटें जीत ली हैं।

कौन थे विलासराव देशमुख who is Vilasrao Deshmukh

विलासराव देशमुख, 1999-2003 और 2004-2008 के बीच  मुख्यमंत्री रहे (Vilasrao Deshmukh was the Chief Minister of Maharashtra between 1999-2003 and 2004-2008). उन्होंने अपने दशकों लंबे राजनीतिक जीवन के दौरान मध्य महाराष्ट्र में अपने गृह जिले लातूर का विकास किया।

विलासराव देशमुख के बेटे, धीरज देशमुख, एक डेब्यूटेंट और अमित देशमुख, एक साथ विधानसभा में भाग लेंगे।

लातूर में जिला परिषद सदस्य के रूप में अपने राजनीतिक कैरियर को शुरू करने वाले धीरज देशमुख ने लातूर ग्रामीण विधानसभा सीट (Latur Rural assembly seat) को 1.21 लाख वोटों के सुंदर अंतर से जीता।

यह धीरज देशमुख का पहला विधानसभा चुनाव था और पहले ही चुनाव में उन्होंने शानदार जीत हासिल की।

उनके बड़े भाई अमित देशमुख लगातार तीसरी बार अपनी लातूर सिटी सीट को बरकरार रखने के लिए तैयार हैं क्योंकि वे गुरुवार की देर शाम तक अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी पर 40,000 से अधिक वोटों के आरामदायक अंतर से आगे थे।

उनके दूसरे भाई रितेश देशमुख बॉलीवुड अभिनेता हैं, जिन्होंने अपने भाईयों के लिए प्रचार किया।

Sons of Former Chief Minister Vilasrao Deshmukh Win Their Seats from Latur to Enter Maharashtra Assembly

About हस्तक्षेप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.