Tag Archives: न्यायपालिका

‘गांधी’ को ठेंगा दिखा रहा मॉब लिंचिंग के खिलाफ पीएम को पत्र लिखने वालों पर देशद्रोह का मुकदमा

Law and Justice

‘गांधी’ को ठेंगा दिखा रहा मॉब लिंचिंग के खिलाफ पीएम को पत्र लिखने वाली शख्सियतों पर देशद्रोह का मुकदमा कटघरे में न्यायपालिका Judiciary in the dock गजब खेल चल रहा है देश में एक ओर देश गांधी जी की 150वीं जयंती (150th birth anniversary of Gandhiji) मनाकर अहिंसा का संदेश () दे रहा है वहीं दूसMessage of non-violenceरी ओर जो …

Read More »

सत्ता की सूली : न्यायपालिका में हमेशा न्याय नहीं होता! कभी-कभी सिर्फ जजमेंट होता है!

Satta Ki Suli सत्ता की सूली, लोया की गाटेगांव यात्रा

सत्ता की सूली : अनसुलझी हत्याओं और अन्याय की कड़वी यादों को हमारे जेहन में जीवित रखती है बाम्बे हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश बी जी कोलसे पाटिल (B.J. Kolse Patil, former Judge of the Bombay High Court) कहते हैं: ”न्यायपालिका में हमेशा न्याय नहीं होता! कभी-कभी सिर्फ जजमेंट होता है!‘ विख्यात न्यायविद पाटिल ने यह टिप्पणी ‘सत्ता की सूली’ शीर्षक …

Read More »

यह जिम्मेदारी न्यायाधीशों की है कि न्यायपालिका पर खतरे को स्पष्ट करे

Supreme Court Chief Justice Ranjan Gogoi

न्यायपालिका (Judiciary,) एक स्त्री वाचक शब्द है। न्याय की विश्व प्रसिद्ध मूर्ति भी एक महिला की है। जिसे न्याय की देवी कहा जाता है। उसके एक हाथ में तराजू है आंखों पर पट्टी है। न्याय की मूर्ति वाली महिला लगता है अपनी आंखों से पट्टी नीचे उतार कर खुद ही तराजू के पलड़ों में अपने लिए न्याय तलाश कर रही …

Read More »

न्यायपालिका : ये खंभा भी गया तो समझिये संविधान बस एक 450 ग्राम के कागजों का पुलिंदा भर रह जायेगा

The Supreme Court of India. (File Photo: IANS)

बादल सरोज समय निकालकर इसे सुनिये । यह असाधारण संकट की पदचाप है । अब तक, थोड़ी बहुत विश्वसनीय बची, न्यायपालिका के पराभव की भूमिका है । ● एक चीफ जस्टिस अपने ही जज के एक आदेश कि “मामला बहुत गम्भीर है । इस की सुनवाई के लिए 5 वरिष्ठ जजों की संविधानपीठ गठित की जानी चाहिये ।” से इतना …

Read More »