Tag Archives: Kashmir problem

हिन्दू राष्ट्रवाद के कैदखाने में बंद कश्मीर : जरूरत राष्ट्रवाद की नहीं बल्कि लोकतांत्रिक नजरिए की है

Jagadishwar Chaturvedi

संसद ने हिन्दू राष्ट्रवाद के परिप्रेक्ष्य में अनुच्छेद 370 (Article 370) को खत्म करके नया संवैधानिक संकट पैदा किया है, वहीं दूसरी ओर कश्मीर की जनता के सामने अस्तित्व का संकट (The existence crisis in front of the people of Kashmir) पैदा किया है। कश्मीर की 70 लाख आबादी 50 दिनों से घरों में कैद है। उनका धंधा चौपट हो …

Read More »

सुनो मोदीजी, यदि कश्मीर मामले में नेहरू दिलचस्पी न लेते तो कश्मीर पाकिस्तान का हिस्सा बन जाता

Sardar Patel Baba Saheb Ambedkar Jawahar Lal nehru on Kashmir issue

कश्मीर मुद्दे पर नेहरू-पटेल के बीच बुनियादी मतभेद नहीं थे There were no fundamental differences between Nehru and Patel on the Kashmir issue. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) और संघ परिवार कश्मीर समस्या (Kashmir problem) के लिए मुख्य रूप से जवाहरलाल नेहरू को दोषी मानते हैं और बार-बार यह दावा करते हैं कि यदि कश्मीर का मसला सरदार …

Read More »

कश्मीर के प्रश्न पर हमें अमेरिका और ब्रिटेन ने लगातार ब्लैकमेल किया

L. S. Hardenia

अभी हाल में लोकसभा में भाषण देते हुए केन्द्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा अध्यक्ष श्री अमित शाह (Speech by Shri Amit Shah, Union Home Minister and BJP President in Lok Sabha) ने कश्मीर समस्या (Kashmir problem) के लिए पंडित जवाहरलाल नेहरू (Pandit jawaharlal nehru) को दोषी ठहराया -विशेषकर उस स्थिति के लिए जिसमें एक तिहाई कश्मीर हमारे हाथ से निकल गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister …

Read More »

हरेन पंडया को आशंका थी उनकी हत्या करवाई जा सकती है

mujhe kaashee hindoo vishvavidyaalay se kyon nikaala gaya aur satta kee soolee pustak

‘मुझे काशी हिन्दू विश्वविद्यालय से क्यों निकाला गया’ और ‘सत्ता की सूली’ पुस्तक का राजधानी में हुआ विमोचन लखनऊ, 23 अप्रैल 2019। गांधी भवन (Gandhi Bhawan) लखनऊ (Lucknow) में प्रसिद्ध गांधीवादी कार्यकर्ता (Gandhian worker) और मैगसेसे पुरस्कार (magsaysay award) से सम्मानित डॉ. संदीप पांडेय (Dr. Sandeep Pandey) की किताब ’मुझे काशी हिन्दू विश्वविद्यालय से क्यों निकाला गया’ और वरिष्ठ पत्रकार …

Read More »