जब अमेरिका डरता है तो शुरू होती है विचारों पर निगरानी

जब अमेरिका डरता है,  किसी भी घर की शांति गुम हो जाती है. जब अमेरिका डरता है, अँधेरे में बहती हवा संदिग्ध बन जाती है. ...

अतिथि लेखक
जब अमेरिका डरता है तो शुरू होती है विचारों पर निगरानी

मनोज बोगटी

डरपोक अमेरिका

डरता है अमेरिका

बाँस के जंगलों  में लगी आग से डरता है अमेरिका

किसी उत्सव में अम्बर को चीरते  

फटने वाले राकेट पटाखे से डरता है अमेरिका

एकटुक अंधेरा से डरता है अमेरिका.

 

जब किसी मजदूर का टिफिनबॉक्स खुलता है

और निकलती हैं जली हुई रोटी

अमेरिका के होशोहवास उड़ जाते हैं.

 

रोटी का रंग क्यों काला?

रोटी का आकार क्यों है गोल?

पूछता है अमेरिका

पूछ पूछ कर परेशान करता है अमेरिका.

 

स्कूल जाने से पहले बच्चों का बैग खंगालता हैं

एक एक पन्ना पलटता रहता है

और उनके द्वारा सीखे जाने रहे टेढे-मेढ़े वर्णों को ध्यान से देखता है

अपनी बीवी को इमेल भेजकर

कैफे से जब निकलता है एक युवक

उसकी भाषा के पीछे पड़ती है खुफिया पुलिस

’क्या लिखा उसने?’

पूछता है अमेरिका.

 

कहीं जोरों से कुत्ते के भौकने से सो नहीं पायेगा अमेरिका

कहीं सुनसान होने पर सो नहीं पायेगा अमेरिका

डरता है अमेरिका.

जब अमेरिका डरता है तो शुरु होती है विचारों पर निगरानी

गानों के पीछे लग जाता है

कविता की भाषा का विश्लेषण करता है.

 

मनोज बोगटी bogati1979(at)gmail.comऔर घंटों तक इसी में खोया रहता है.

जब अमेरिका डरता है,  किसी भी घर की शांति गुम हो जाती है.

जब अमेरिका डरता है, अँधेरे में बहती हवा संदिग्ध बन जाती है.

जब अमेरिका डरता है अपनी ही बेटी के अन्तःवस्त्रों को टटोलता है.

चुल्हे में आग की सुगबुगाहट से अमेरिका का दिमाग घूमने लगता है.

आंगन से सूरज के धीरे धीरे चलने से अमेरिका को कपड़े चुभने लगते हैं.

 

कहीँ जोर से बच्चे के रोने पर

अमेरिका अपना हाथ जेब में ले जाता है.

सही जगह है या नहीं पिस्तौल?

चित्रकार के कैनवास में क्यों अधिक है लाल रंग?

कविता सुनाते वक्त कवि क्यों बांध लेता है अपनी मुठ्ठी?

क्यों गायक के संगीत में ककर्शता ज्यादा है?

बीवी की क्लिप में केमरा जैसा क्या है वह?

बेटी का ब्वायफ्रेंड क्यों जलाता है

बिना ब्रेंड की कम्पनी का लाइटर

डरता है अमेरिका

 

अमेरिका जब डरता है पृथ्वी का साया खो जाता है.

डरपोक अमेरिका

दिमाग से डरता हैं

मरने  से डरता हैं

या जीने से डरता हैं?

बस, डरता है अमेरिका.

अनुवादक- राजा पुनियानी

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
क्या महिलाओं को शांति से जीने का अधिकार नहीं