‘पिंक’ से ‘रश्मि रॉकेट’ की तुलना न करें तो देखने लायक है

Entertainment News In Hindi | Movie Reviews In Hindi | Rashmi Rocket Movie Review In Hindi.

Entertainment News In Hindi | Movie Reviews In Hindi | Rashmi Rocket Movie Review In Hindi. ‘रश्मि रॉकेट’ क्यों देखी जाए? ‘सूर्यवंशम’ जैसी फ़िल्म की शुरुआत में एक महिला के लिए जिस तरह के शब्दों का इस्तेमाल किया गया वह अमर्यादित थे। संचार के साधनों में महिलाओं को उत्पाद की तरह पेश किया जाता रहा है और इस पर नियंत्रण …

Read More »

‘सरदार उधम सिंह’ : जानदार भी शानदार भी

udham singh film

‘सरदार उधम सिंह’ रिव्यू ‘आदमी को मारा जा सकता है। उसके विचारों को नहीं और जिस विचार का वक़्त आया हो उसे वक़्त भी नहीं टाल सकता।’ आइडियोलॉजी अच्छी और सच्ची होनी चाहिए।’ हमें किसी इंसान के खून के प्यासे नहीं हैं हमें किसी आदमी या देश से नफ़रत नहीं है।’ सचमुच जब इतने अच्छे विचारों और आइडियोलॉजी वाले डायलॉग्स …

Read More »

राजनाथ सिंह का गाँधी जी को अपमानित करने का एक शर्मनाक प्रयास

Mahatma Gandhi महात्मा गांधी

वरिष्ठ आरएसएस नेता/रक्षा-मंत्री राजनाथ सिंह का गाँधी जी को अपमानित करने का एक शर्मनाक प्रयास A shameful attempt by senior RSS leader/Defence-Minister Rajnath Singh to humiliate Gandhiji हिन्दुत्वादी विशेषकर आरएसएस से जुड़े लोग गाँधी जी को अपमानित और ज़लील करने के लिए कोई भी अवसर नहीं गंवाते हैं। आरएसएस का जितना क़द्दावर नेता होता है उतनी ही ज़्यादा बदतमीज़ी से …

Read More »

विश्व खाद्य दिवस : संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने चेताया लगातार बढ़ रही है भुखमरी

एंटोनियो गुटेरेस संयुक्त राष्ट्र के महासचिव, António Guterres Secretary-General of the United Nations

विश्व खाद्य दिवस पर संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस का संदेश Message from UN Secretary-General Antonio Guterres on World Food Day in Hindi 15 अक्टूबर 2021. संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस (António Guterres) ने ‘विश्व खाद्य दिवस’ 16 अक्तूबर (World Food Day) पर जारी अपने सन्देश में, टिकाऊ विकास लक्ष्यों की प्राप्ति के लिये, खाद्य प्रणालियों में परिवर्तनशील कार्रवाई की …

Read More »

चीन समाजवादी ही रहेगा या पूंजीवाद के लिए रास्ता छोड़ देगा? देंग श्याओ पिंग को परखने का वक्त आ गया है ?

Arun Maheshwari - अरुण माहेश्वरी, लेखक सुप्रसिद्ध मार्क्सवादी आलोचक, सामाजिक-आर्थिक विषयों के टिप्पणीकार एवं पत्रकार हैं। छात्र जीवन से ही मार्क्सवादी राजनीति और साहित्य-आन्दोलन से जुड़ाव और सी.पी.आई.(एम.) के मुखपत्र ‘स्वाधीनता’ से सम्बद्ध। साहित्यिक पत्रिका ‘कलम’ का सम्पादन। जनवादी लेखक संघ के केन्द्रीय सचिव एवं पश्चिम बंगाल के राज्य सचिव। वह हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं।

पूंजीवादी बाजारवाद बनाम समाजवादी ‘प्रकृतिवाद’ चीन में कथित ‘विचारधारात्मक संघर्ष’ का तात्पर्य Arun Maheshwari on ideological struggle in China. चीन में वैचारिक संघर्ष पर अरुण माहेश्वरी का मत चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (Chinese President Xi Jinping) ने चीन में कुछ बड़ी टेक कंपनियों से शुरू करके इजारेदार पूंजी पर लगाम की दिशा में जो कार्रवाइयां शुरू की हैं, वे …

Read More »

नकली राष्ट्रवाद : क्या मिर्ज़ा ग़ालिब ने मोदी के लिए ही कहा था कि; “हुए तुम दोस्त जिसके दुश्मन उसका आसमां क्यूँ हो।”

badal saroj narendra modi

नकली राष्ट्रवाद, सरकारी आयुध निर्माणियों की सेल को राष्ट्र के नाम समर्पण बताने की धूर्तता और देश की कमर तोड़ने पर गर्व का गरबा करते मोदी मोदी और आरएसएस के लिए राष्ट्र का मतलब क्या है ? प्रचलन में यह है कि दशहरे के दिन अस्त्र-शस्त्रों की पूजा होती है। मगर जैसा कि विश्वामित्र कह गए हैं; “कलियुग में सब …

Read More »

लखीमपुर खीरी नरसंहार के निहितार्थ : आखिरकार, फासीवाद का यही रास्ता है

Rajendra Sharma राजेंद्र शर्मा, लेखक वरिष्ठ पत्रकार व हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं। वह लोकलहर के संपादक हैं।

Implications of Lakhimpur Kheri Massacre: After all, this is the path of Fascism प्रधानमंत्री जब संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने पिछले संबोधन में भारत के दुनिया भर में लोकतंत्र की ‘‘मां’’ होने की शेखी बघार रहे थे, शायद उन्हें भी अंदाजा नहीं होगा कि उनकी सरकार का वास्तविक आचरण, मुश्किल से एक पखवाड़े में सारी दुनिया के सामने उनके राज …

Read More »

दवा प्रतिरोधकता : टीबी, एचआईवी की दवाएं कारगर न रहीं तो क्या होगा?

World Antimicrobial Awareness Week (WAAW)

दवा प्रतिरोधकता क्या है ? What is drug resistance in Hindi? लगभग 2 साल पहले जब चीन के वुहान से पहला कोरोना वाइरस रिपोर्ट हुआ था, तो दुनिया में अमीर देश तक अत्यंत चिंतित हुए क्योंकि इस रोग की कोई कारगर दवा नहीं थी। महामारी के दौरान हम सबने देखा कि यह चिन्ता वाजिब थी क्योंकि हृदय विदारक त्रासदी (heart …

Read More »

जानिए मुंबई समेत दुनिया के यह 50 देश हो जायेंगे ग़ायब, अगर…

Climate change Environment Nature

How Sea Level Rise Will Transform 50 Cities Our Underwater Future: What Sea Level Rise Will Look Like Around The Globe? Including Mumbai roughly 50 major coastal cities will need to implement “unprecedented” adaptation measures to prevent rising seas from swallowing their most populated areas, The latest research from Climate Central reveals. क्लाइमेट सेंट्रल नाम के एक गैर-लाभकारी समाचार संगठन …

Read More »

वर्ल्ड एनर्जी आउटलुक 2021 : उभरती ऊर्जा अर्थव्यवस्था 2050 तक नेट ज़ीरो के लिए नाकाफ़ी

energy power

World Energy Outlook 2021 shows a new energy economy is emerging – but not yet quickly enough to reach net zero by 2050 With emissions, climate disasters and energy market volatility all rising, governments need to send an unmistakeable signal of clean energy ambition and action at COP26 to accelerate the transition नई दिल्ली, 13 अक्तूबर 2021 : जिस रफ्तार …

Read More »

डॉ राम मनोहर लोहिया और वर्तमान किसान आंदोलन

Dr. Ram Manohar Lohia and the current farmers’ movement : Vijay Shankar Singh यदि आज डॉ लोहिया जीवित होते? कल्पना कीजिए, यदि आज डॉ लोहिया जीवित रहते तो, साल भर से हो रहे किसान आंदोलन में, उनकी क्या भूमिका रहती। लोहिया को जानने वाले और उस कुजात गांधीवादी के लेखों, भाषणों का अध्ययन करने वाले एकमत से यही कहते कि, …

Read More »

जीवाश्म ईंधन का जलना प्रति मिनट 13 मौतों का बनता है कारण, वायु प्रदूषण के साथ दहका रहा है जलवायु परिवर्तन की आग

Climate change Environment Nature

Burning of fossil fuels causes 13 deaths per minute कोविड से उबरने के लिए WHO ने किये जलवायु कार्रवाई के दस आह्वान, बड़ी स्वास्थ्य आपदा को टालने के लिए वैश्विक स्वास्थ्य कार्यबल ने किया वैश्विक कार्रवाई का आग्रह नई दिल्ली, 12 अक्तूबर 2021. यदि देशों को COVID-19 महामारी (COVID-19 pandemic) से स्वस्थ और पर्यावरण अनुकूल रूप से उबरना है, तो …

Read More »

कोल को जनजाति का दर्जा दिए बगैर उत्तर प्रदेश में सामाजिक न्याय का एजेंडा पूरा नहीं होगा- आइपीएफ

Social justice agenda will not be complete in Uttar Pradesh without giving tribal status to Kol – IPF लखनऊ, 12 अगस्त 2021, इस समय जाति आधारित जनगणना पर बहस (debate on caste based census) बढ़ती जा रही है। लेकिन उत्तर प्रदेश में कोल को अनुसूचित जनजाति का दर्जा मिले उस पर आम तौर पर मुख्यधारा के राजनीतिक दल चुप है। …

Read More »

कोरोना का कहर : जेएनयू, यूजीसी नेट, पीएचडी, नीट, टीटीई समेत कई प्रवेश परीक्षाएं स्थगित

Corona’s havoc: JNU, UGC NET, PhD, NEET, TTE and many entrance examinations postponed नई दिल्ली, 6 अप्रैल 2020. मानव संसाधन विकास मंत्रालय (human resource development ministry ) ने लॉकडाउन को ध्यान में रखते हुए जेएनयूए, यूजीसी नेट और इग्नू पीएचडी समेत कई अन्य प्रवेश परीक्षाओं को स्थगित करने का निर्णय लिया है। मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने …

Read More »

अपने रोज़ों की हिफ़ाज़त करें !!!

नाम :- मोहम्मद खुर्शीद अकरम तख़ल्लुस : सोज़ / सोज़ मुशीरी वल्दियत :- मौलाना अब्दुस्समद ( मरहूम ) जन्म तिथि :- 01/03/1965 जन्म स्थान : - बिहार शरीफ़, ज़िला :- नालंदा (बिहार) शिक्षा :- 1) बी.ए.             2) डिप. इन माइनिंग इंजीनियरिंग     उस्ताद-ए-सुख़न :-( स्व) हज़रत मुशीर झिन्झानवी देहलवी काव्य संकलन : - सोज़-ए-दिल सम्मान :- 1. आदर्श कवि सम्मान, और साहित्य श्री सम्मान संप्रति :- कोल इंडिया की वेस्टर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड में कार्यरत संपर्क :- बी-22, कैलाश नगर, पोस्ट :- साखरा(कोलगाँव), तहसील :- वणी ज़िला :- यवतमाल , पिन:- 445307 (महाराष्ट्र)

रमज़ान का मुबारक महीना (Happy Ramadan month,) शुरू हो चुका है . इस महीना में मुसलमानों पर रोज़ा रखना फ़र्ज़ है . क़ुरआन में सूरह बक़रा की आयत 183 में अल्लाह पाक का फ़रमान है , “ ऐ ईमान लाने वालो! तुम पर रोज़े फर्ज़ किए गए, जिस प्रकार तुम से पहले के लोगों पर किए गए थे, ताकि तुम …

Read More »

साहित्यिक, सामाजिक और राजनैतिक प्रतिरोध का संग्रह: ‘फिर एक दुर्योधन ऐंठा है’

63 कविताओं का संग्रह ‘फिर एक दुर्योधन ऐंठा है’ इन दिनों पढ़ने को मिला। संजीव ‘मजदूर’ झा का यह पहला काव्य संग्रह है। कवि को मैं वर्धा से जानता हूँ। मैंने उसे जब-जब देखा, एक गहन बौद्धिक चिंतन में डूबे, किसी मौजू सवालों का उत्तर ढूँढते और अपने साथी-मित्रों से घंटों बातचीत करते देखा। मुझे याद आते हैं जयशंकर प्रसाद …

Read More »

भेदभाव का शिकार डिप्रेशन!

healthy lifestyle

Discrimination victim depression! आजकल डिप्रेशन शब्द काफी प्रचलन में है। हर कोई मेंटल हेल्थ (mental health) की बात कर रहा है। तरह-तरह की थेरेपी भी मार्केट में उपलब्ध है। इसका पूरा श्रेय कोरोना को देना गलत नहीं होगा। डिप्रेशन को लेकर हर किसी के अपने अनुभव हो सकते हैं। खैर, यहाँ मैं आपको डिप्रेशन की परिभाषा (definition of depression) नहीं, …

Read More »

जिम कॉर्बेट का नाम मिटाने की कोशिश ठीक नहीं है

जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क को भारत-आयरलैंड मैत्री के एक खूबसूरत स्मारक के तौर पर विकसित किया जा सकता है Jim Corbett National Park can be developed as a beautiful monument of Indo-Ireland friendship केंद्रीय वन और पर्यावरण मंत्री अश्विनी कुमार चौबे के अनुसार उत्तराखंड के नैनीताल, अल्मोड़ा, गढ़वाल तथा उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिलों में फैले जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क …

Read More »

आगामी 11 अक्टूबर 2021 से चीन में वर्चुअल रूप से शुरू होगा जैव विविधता महासम्मेलन (CBD)

Convention on Biological Diversity

लिविंग इन हार्मनी विद नेचर’ के 2050 के लक्ष्य लेकर बढ़ेगा जैव विविधता महासम्मेलन ( CBD) The Convention on Biodiversity (CBD) will grow with the goal of ‘Living in Harmony with Nature’ by 2050 हम मानव इतिहास में किसी भी और वक़्त की तुलना में आज के समय में सबसे तेज़ी से जैव विविधता खो रहे हैं, और इसे उलटने …

Read More »

हिंदी कंप्यूटर लेखन की समस्याएं और समाधान

Mobile and gadgets

Hindi computer writing problems and solutions तकनीकी विकास ने हमारा काम लगातार आसान किया है। हाथ से लिखने के बजाय टाइपराइटर से लिखना अधिक सुविधाजनक हुआ और टाइपराइटर की तुलना में कंप्यूटर पर लिखना। फिर भी हर दौर की कुछ समस्याएं रही हैं जिनके समाधान के लगातार प्रयास भी किए जा रहे हैं। इस आलेख में मैं कंप्यूटर पर हिंदी …

Read More »

कहीं बाल अधिकारों का हनन ना करने लगे नई शिक्षा नीति 2020 !

New education policy 2020 should not start violating child rights somewhere! हर बच्चे की विशिष्ट क्षमता, पहचान के साथ उनके विकास को ध्यान में रखते हुए बुनियादी साक्षरता और अवधारणात्मक समझ विकसित करने का लक्ष्य लिए मौजूदा सरकार ने पिछले वर्ष नई शिक्षा नीति को लागू करने का निर्णय लिया था। दरअसल यह कार्य योजना 2015 में अपनाए गए सतत …

Read More »