Breaking News
Home / Tag Archives: Vinoba literature

Tag Archives: Vinoba literature

अभिधेयं परम् साम्यम् : विनोबा भावे के शब्दों में

acharya vinoba bhave आचार्य विनोबा भावे

मनुष्य जीवन का ध्येय क्या है? परम् साम्य की प्राप्ति। ‘अभिधेयं परम् साम्यम्’।.. अभिधेय कुल जीवन के चिंतन का विषय है। जिस दिशा में जीवन के समूचे चिंतन को ले …

Read More »