तकनीक व विज्ञानदुनियासमाचारसामान्य ज्ञान/ जानकारी

जब चली गई खुद की आवाज तो बना डाला टेक्स्ट टू स्पीच ऐप

Talk For Me Text to Speech

आवश्यकता आविष्कार की जननी है, यह खूब सुना जाता है। ऐसा ही एक आविष्कार है एप्पल का टॉक फॉर मी – टेक्स्ट टू स्पीच (Talk For Me – Text to Speech) जिसे डैरिन ऑल्टमैन (Darrin Altman) ने बनाया है।

डैरिन ऑल्टमैन में वर्ष 2009 में एएलएस (Amyotrophic lateral sclerosis) पाया गया। इससे पहले डैरिन एक स्पेनिश कोर्ट में दुभाषिया के रूप में काम करते थे और उन्होंने स्पेनिश भाषाविज्ञान में मास्टर डिग्री प्राप्त की थी। अपने एएलएस निदान के बाद एक साल के भीतर, डैरिन को अपने बोलने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ा और उन्होंने संवाद करने में मदद करने के लिए एक ऐप की खोज शुरू की। दुर्भाग्यवश उपलब्ध अधिकांश एप्लिकेशन न केवल अप्रभावी थे, बल्कि महंगे भी थे। काम करने में अक्षम होने, एक निश्चित निर्धारित आय पर निर्भर होने और संचार के लिए एक किफ़ायती समाधान की खोज करते करते डैरिन ने न सिर्फ अपने जैसी स्थिति के लोगों बल्कि हर किसी की सहायता के लिए एक टेक्स्ट-टू-स्पीच ऐप (text-to-speech app) बनाने के लिए अपना अनुसंधान शुरू कर दिया।

प्रोग्रामिंग में कोई प्राथमिक अनुभव भी न रखने वाले डैरिन ने कई मुफ्त ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के लिए जैसे परिचय कम्प्यूटिंग प्रिंसिपल (Introduction to Computing Principals), प्रोग्रामिंग पद्धति (Programming Methodology), प्रोग्रामिंग सार (Programming Abstractions) और निश्चित रूप से, आईओएस प्रोग्रामिंग (iOS Programming) के लिए पंजीकरण किया।

लगभग दो वर्षों के समर्पण और अध्ययन के बाद, और अपने बच्चों की सहायता से, डैरिन ने एक दृष्टि शब्द ऐप ( Sight Words app) बनाया। 2015 में, ऐप्पल ने टॉक फॉर मी – टेक्स्ट टू स्पीच (Talk For Me – Text to Speech) के पहले संस्करण को मंजूरी दे दी, और अब वह ऐप के दसवें संस्करण पर है, जो ऐप स्टोर में सभी के लिए निःशुल्क उपलब्ध है।

डैरिन कहते हैं, “एएलएस की सबसे बुरी चीजों में से है कि आपकी स्वतंत्रता खो जाती है।“

वह कहते हैं कि उन्होंने अपने iPad और अपने फोन पर इस ऐप का उपयोग किया है और कंपनियों और बैंकों को सभी प्रकार के फोन कॉल किए हैं। यह मुझे अपने दम पर बहुत कुछ करने की अनुमति देता है।

वर्तमान में यह ऐप अंग्रेजी (यूएस) (एयू) (यूके)-English (US) (AU) (UK), स्पेनिश (एमएक्स) (ईएस)-Spanish (MX) (ES), जर्मन(German), फ्रेंच (एफआर)-French (FR), डच (बीई) (एनएल)-Dutch (BE) (NL), चीनी (सीएन) (एचके) (TW)- Chinese (CN) (HK) (TW), कोरियाई (Korean)और जापानी (Japanese) भाषाओं में उपलब्ध है।

अगले समाचार में आपको बताएंगे ALS क्या है?

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: