Advance Search

Keywords
Search In
All Heading Full Story Author
From Date
To Date
उल्टा पड़ा मायावती का दांव तो जीवन भर पछताएंगी
यह क्रूरता के अद्भुत साधारणीकरण का समय है -  प्रो पुरुषोत्तम अग्रवाल
राफेल विमान सौदा  अम्बानी को फायदा पहुंचाने की सच्चाई फिर उजागर
एससी-एसटी एक्ट का गला तो मायावती ने ही घोंट दिया था
क्या भारत का संविधान जमीन पर काम कर भी रहा है
‘शहरी नक्सलियों’ की गिरफ्तारियां क्यों
झारखंड की रघुवर सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ 24 अक्टूबर को पदयात्रा
बसपा और जोगी के गठबंधन का कांग्रेस ने किया स्वागत कहा इस गठबंधन में भाजपा साइलेंट पार्टनर
मप्र- छत्तीसगढ़  मायावती ने कांग्रेस से अलग जाने का फैसला किया है जबकि उसकी यूपी में ही जमीन खिसक चुकी है
भाजपा का चाल चरित्र और चेहरा एक बार फिर से हुआ उजागर - डॉ चरण दास महंत
गटर में दिखता ‘विकास’  हर पांचवे दिन गटर में मर रहा है एक सफाईकर्मी
वो चाहते हैं एक आवाज हो जो उन्हीं की हो- भारत भूषण
क्रमशः विकृत होती जाती लोकतांत्रिक व्यवस्था
एबीवीपी की खुलेआम गुंडागर्दी जेएनयू की विचार-विमर्श और बहस की लोकतांत्रिक शैक्षिक संस्कृति पर हमला
चोरी कर रहा देश का चौकीदार  राहुल गांधी
बाटला हाउस की दसवीं बरसी  टेरर पालिटिक्स पर रिहाई मंच जारी करेगा रिपोर्ट
गौतम नवलखा  दूरगामी सोच पर राजसत्ता का हमला
‘आह’ से ‘आहा’ तक का सफर
‘आह’ से ‘आहा’ तक का सफर
अतिथि लेखक
2018-09-16 22:05:30
जम्मू-कश्मीर के कुछ राजनीतिज्ञों की सार्वजनिक मंच से अनुच्छेद 35ए पर सुनवाई की मांग अदालत की अवमानना-भीमसिंह
धर्म की निंदा करना ईशनिंदा नहीं है। ईशनिंदा है अन्याय के विरूद्ध आवाज न उठाना
राफेल डील  मोदी हैं अपराधी उन्होंने सेना के हर नियम की धज्जियां उड़ाते हुए देश की राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया
नागरिक अधिकारों के पक्ष में उठती आवाज़ों को कुचलना बंद करो
गौतम नवलखा के नाम पीयूडीआर के साथी का एक खुला खत
मुगल नहीं असल में अंग्रेज़ ही लुटेरे थे और आज हम अंग्रेज़ियत के ही ग़ुलाम हैं
अब मान ही लीजिएमोदी सरकार अर्थव्यवस्था संभालने में विफल है
"औरंगज़ेब" बनने पर उतारू "टीपू" को “मुलायम” झटका- चुनाव बाद तय होगा मुख्यमंत्री
नवसाम्राज्यवादी जुए के नीचे राष्ट्र-भक्ति और राष्ट्र-द्रोह की फर्जी जंग
उप्र  अति-पिछड़ी जातियों को अनुसूचित-जातियों की सूची में शामिल करने की घोषणा केवल चुनावी भुलावा
जो 70 साल में नहीं हुआ सचमुच मोदीजी ने कर दिखाया पेट्रोल 80 के पार – राहुल गांधी
जानिए इस वक्त भागवत बुरी तरह घबराए हुए क्यों हैं
संयुक्त विपक्ष भाजपा का सिर दर्द लेकिन क्या विपक्ष जीतना भी चाहता है
एससी-एसटी एक्ट का तीसरा पक्ष जिसे जानना बहुत जरूरी
गांधी गांधी और गांधी की महत्ता
ओशो से अमरीकी जीवनशैली और ईसाइयत को खतरा नज़र आने लगा था
बहुत खतरनाक हैं ये -‘अर्बन नक्सल’ क्योंकि ये सरकार की नाकामियों और संघ के एजेंडे को जनता के सामने ला रहे
समीर अमीन  मार्क्सवाद के एक योद्धा का निधन
एससी-एसटी कानून का विरोध करने वाले संविधान की जगह मनुस्मृति लाना चाहते हैं  माले
आपातकाल को कोसने वाले लोकनायक के संगठन पीयूसीएल से जुड़े मानवाधिकार कार्यकर्ताओं को नक्सली बता रहे
किस-किस को कैद करोगे
किस-किस को कैद करोगे ??
हस्तक्षेप डेस्क
2018-09-05 21:59:02
शिवराज को दिग्विजय सिंह पसंद हैं
शिक्षक और लोकतांत्रिक मूल्य  ज्ञान के कब्रिस्तान हैं विश्वविद्यालय
आखिर सुप्रीम कोर्ट को संविधान का अंतिम रखवाला यूं ही नहीं कहा जाता
राजा नारायण सिंह  ब्रिटिश राज के प्रथम विद्रोही
पांच वामपंथी कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी पर शिवसेना ने सवाल उठाया कहा मोदी इंदिरा और राजीव जैसे साहसी नहीं
रासुका और मुठभेड़ों के नाम पर दलितों-पिछड़ों-अल्पसंख्यकों को निशाना बना रही सरकार
सत्ता ने लोकतंत्र को कुचलने का खुला अभियान छेड़ रखा है
मोदी को हटाने की कवायद और विकल्पहीनता का संकट
अटल बिहारी एक बेहतरीन वक्ता थे परंतु क्या वे अच्छे आदमी भी थे
विफल ‘मोदीनोमिक्स’ ने किया अर्थव्यवस्था को तार-तार
हमें उन लोगों के साथ खड़े होने की जरूरत है क्योंकि वे हमारे साथ खड़े रहते हैं
इस मोदीवादी फासीवाद को 1975-77 के समय की इमरजेंसी की तरह नहीं हरा सकते
मोदी सरकार इंदिरा आपातकाल को दुहरा रही है  माले
दिवंगत अटल बिहारी भाजपा के लिये अब ‘वोट बिहारी’ बन कर रह गये हैं
पँखुड़ी पाठक ने छोड़ा सपा का साथ लगाए गंभीर आरोप - सपा में महिलाओं के साथ अभद्रता करना आम यही नयी सपा का चरित्र है
पत्रकारिता कब और कैसे मीडिया बन गई  दो दशकों में हमने पत्रकारिता को कमाई के धंधे में बदल डाला
कांग्रेस का आरोप मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को घोर तंगहाली में धकेल दिया