Home » समाचार » दुनिया » क्या सर्दी, जुखाम में कारगर हैं ये नुस्खे, जानिए क्या कहता है विज्ञान
Health news

क्या सर्दी, जुखाम में कारगर हैं ये नुस्खे, जानिए क्या कहता है विज्ञान

ठंड के संबंध में सामान्य और पूरक स्वास्थ्य दृष्टिकोण

The Common Cold and Complementary Health Approaches : What the Science Says

नई दिल्ली, 16 दिसंबर 2019. समूचे उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड जारी है। ऐसे में सर्दी, जुखाम की शिकायतें आम हैं। सर्दी लगना, डॉक्टर कीशरण में पहुंचने और स्कूल या काम से छुट्टी लेने का एक प्रमुख कारण है। सर्दी जुखाम को रोकने के लिए या इसके इलाज के लिए लोग पूरक स्वास्थ्य दृष्टिकोण जैसे कि जड़ी-बूटियों, विटामिन और खनिजों की ओर रुख करते हैं।

यू.एस. के स्वास्थ्य और मानव सेवा विभाग के पूरक और एकीकृत स्वास्थ्य के लिए राष्ट्रीय केंद्र पर उपलब्ध दस्तावेजो में जिंक, विटामिन सी, इचिनेशिया, प्रोबायोटिक्स, नाक की नमकीन सिंचाई, एक प्रकार का अनाज शहद, जीरियम अर्क, और लहसुन सहित आम ठंड के लिए इन प्रथाओं में से कुछ के बारे में “विज्ञान क्या कहता है” पर जानकारी दी गई है।

“विज्ञान क्या कहता है” पर जानकारी के मुताबिक

जस्ता (Zinc in Hindi)

सर्दी जुखाम शुरू होने के 24 घंटे के भीतर शुरू करने और 2 सप्ताह से कम समय की अवधि के लिए लेने पर ओरल जिंक लोजेंजेस (Oral zinc lozenges) आम सर्दी की अवधि को कम कर सकता है। इंट्रानासल ज़िंक (Intranasal zin) से घ्राणशक्ति को गंभीर और स्थायी नुकसान हो सकता है और इसका उपयोग नहीं किया जाना चाहिए।

ओरल जिंक मतली और अन्य गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल लक्षण पैदा कर सकता है।

लंबे समय तक, विशेष रूप से उच्च खुराक में जिंक का उपयोग, कॉपर डेफिशिएंसी (copper deficiency) पैदा कर सकता है और मूत्र पथ की समस्याओं के जोखिम (risk of urinary tract problems) को बढ़ा सकता है, प्रतिरक्षा प्रणाली को कम कर सकता है, और अन्य दुष्प्रभावों का कारण बन सकता है।

विटामिन सी (Vitamin C in Hindi)

ज्यादातर लोगों में, विटामिन सी सर्दी से बचाव नहीं करता है और केवल सर्दी की लंबाई और गंभीरता को मामूली कम करता है। विटामिन सी आमतौर पर उच्च खुराक में लेने के अलावा सुरक्षित माना जाता है।

ज्यादातर लोगों में, विटामिन सी सर्दी से बचाव नहीं करता है और केवल सर्दी की लंबाई और गंभीरता को मामूली कम करता है। विटामिन सी आमतौर पर उच्च खुराक में लेने के अलावा सुरक्षित माना जाता है।

आमतौर पर विटामिन सी को सुरक्षित माना जाता है; हालाँकि, उच्च खुराक पाचन संबंधी गड़बड़ी जैसे कि दस्त, मतली और पेट में ऐंठन पैदा कर सकती है।

इचिनेशिया Echinacea

यद्यपि इस बात की संभावना है कि सर्दी के इलाज के लिए प्लेसबो की तुलना में इचिनेशिया की कुछ तैयारी अधिक प्रभावी है, लेकिन इस बात के कम ही वैज्ञानिक सबूत उपलब्ध हैं कि इचिनेशिया नैदानिक रूप से प्रासंगिक उपचार के लिए प्रभावी है।

इचिनेशिया के नैदानिक परीक्षणों (clinical trials of echinacea) में कुछ दुष्प्रभाव (side effects of echinacea) ही सामने आए हैं; हालाँकि, कुछ लोगों को एलर्जी हो सकती है।

प्रोबायोटिक सप्लीमेंट्स Probiotic Supplementation

वर्तमान में, यह निर्धारित करने के लिए पर्याप्त शोध नहीं किया गया है कि प्रोबायोटिक्स सर्दी को रोक सकता है या नहीं, और उनकी दीर्घकालिक सुरक्षा के बारे में बहुत कम जानकारी उपलब्ध है।

प्रोबायोटिक्स का उपयोग गंभीर अंतर्निहित स्वास्थ्य समस्याओं वाले लोगों द्वारा नहीं किया जाना चाहिए।

नाक की सलाई सिंचाई Nasal Saline Irrigation

साइनस संक्रमण में नाक की सिंचाई करना अत्यधिक फायदेमंद होता है, क्यूंकि इससे साइनस से बलगम और अन्य मलबा साफ हो जाता है।

इससे बच्चों और वयस्कों में सामान्य सर्दी के लक्षणों से राहत के लिए लाभ हो सकता है, और तीव्र ऊपरी श्वसन संक्रमण के कुछ लक्षणों से राहत (symptoms of acute upper respiratory infection) के लिए संभावित लाभ हो सकते हैं।

नाक की सिंचाई आमतौर पर सुरक्षित है; हालाँकि, नेति पॉट्स और अन्य रिंसिंग डिवाइसों का उपयोग करते समय उन्हें ठीक से साफ किया जाना चाहिए।

इसमें सबसे महत्वपूर्ण पानी का स्रोत है जो नाक रिंसिंग उपकरणों के साथ उपयोग किया जाता है। अमेरिकी खाद्य एवं औषधि प्रशासन के अनुसार, नल का पानी जिसे विशिष्ट तरीकों से फ़िल्टर्ड, उपचारित या संसाधित नहीं किया जाता है, नाक कुल्ला के रूप में उपयोग करने के लिए सुरक्षित नहीं है।

हनी (बकव्हीट) Honey (Buckwheat)

शोध बताते हैं कि आम सर्दी के साथ बच्चों के लिए खांसी की आवृत्ति कम करने, खांसी को कम करने और नींद की गुणवत्ता में सुधार के लिए एक प्रकार का अनाज शहद बेहतर है। बोटुलिज़्म के जोखिम (risk of botulism) के कारण 1 वर्ष से कम उम्र के बच्चों में शहद का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए।

जेरियम अर्क (पेलार्गोनियम सिदोइड्स) Geranium extract (Pelargonium sidoides)

गेरियम अर्क (पेलार्गोनियम सिदोइड्स) तीव्र ब्रोंकाइटिस, तीव्र साइनसाइटिस और बच्चों और वयस्कों में आम सर्दी के लक्षणों से राहत देने में मददगार हो सकता है, लेकिन इस संबंध में गुणवत्तापूर्ण सबूत बहुत कम उपलब्ध हैं।

शोध बताते हैं कि जेरियम अर्क आमतौर पर ज्यादातर लोगों में अच्छी तरह से सहन किया जाता है।

लहसुन

हाल ही में एक समीक्षा में निष्कर्ष निकाला गया कि आम सर्दी को रोकने या इलाज में लहसुन के प्रभावों के बारे में नैदानिक परीक्षण साक्ष्य अपर्याप्त हैं।

लहसुन आमतौर पर ज्यादातर लोगों के लिए सुरक्षित है जो आमतौर पर खाद्य पदार्थों में खाए जाते हैं, लेकिन लहसुन की खुराक लेने से रक्तस्राव का खतरा बढ़ सकता है। जो मरीज एंटीकोआगुलंट्स (anticoagulants) पर हों उनको लहसुन की खुराक (garlic supplements) पर विचार करने से पहले सावधानी बरतनी चाहिए।

नोट – यह समाचार किसी भी हालत में चिकित्सकीय परामर्श नहीं है। यह समाचारों में उपलब्ध सामग्री के अध्ययन के आधार पर जागरूकता के उद्देश्य से तैयार की गई अव्यावसायिक रिपोर्ट मात्र है। आप इस समाचार के आधार पर कोई निर्णय कतई नहीं ले सकते। स्वयं डॉक्टर न बनें किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लें।)

स्रोत – (National Center for Complementary and Integrative Health a body of U.S. Department of Health & Human Services)

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

#CoronavirusLockdown, #21daylockdown , coronavirus lockdown, coronavirus lockdown india news, coronavirus lockdown india news in Hindi, #कोरोनोवायरसलॉकडाउन, # 21दिनलॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार, कोरोनावायरस लॉकडाउन भारत समाचार हिंदी में, भारत समाचार हिंदी में,

कोरोना से लड़ने को प्रधानमंत्री ने कोष बनाया, नागरिकों से की दान की अपील

Prime Minister made fund to fight Corona, appealed to citizens for donations नई दिल्ली, 28 …

Leave a Reply