Home » Latest » भाजपा की कैद से कांग्रेस के विधायकों को मुक्त कराने के लिए कांग्रेस विधायकों का राजभवन मार्च
Jyotiraditya Scindia, MP, Madhya Pradesh, Congress news, BJP news, news breaking, news hindi, news portal politics, current affairs news, live news, today news7, news india, news aaj tak hindi, newspaper video, hindi news, live india tv, MP news video, live hindi, news bulletin, latest news todays, top news, din bhar ki badi khabar, latest news in hindi, india news in hindi,

भाजपा की कैद से कांग्रेस के विधायकों को मुक्त कराने के लिए कांग्रेस विधायकों का राजभवन मार्च

Congress MLAs on Wednesday met Governor Lalji Tandon amidst the political turmoil in Madhya Pradesh

भोपाल, 18 मार्च 2020. मध्य प्रदेश में जारी सियासी घमासान के बीच कांग्रेस के विधायकों ने बुधवार को राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात की। कांग्रेस ने राज्यपाल टंडन को ज्ञापन देकर बेंगलुरू में बंधक बनाए गए कांग्रेस के विधायकों को मुक्त कराने की मांग की।

MLA reached Raj Bhavan by bus

राजधानी के एमपी नगर स्थित होटल मैरियट में कांग्रेस के विधायक ठहरे हुए हैं। बुधवार को ये विधायक बस से राजभवन पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल टंडन से मुलाकात की।

राज्यपाल को सौंपे गए ज्ञापन में कहा गया है, “16 विधायकों को बेंगलुरू में भाजपा ने बंधक बनाया है। इन विधायकों को मुक्त कराने के लिए मुख्यमंत्री कमलनाथ आप से निवेदन कर चुके हैं।”

बेंगलुरू के घटनाक्रम का जिक्र करते हुए कांग्रेस विधायकों के पत्र में कहा गया है,

“बुधवार सुबह पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और अन्य विधायकों ने बेंगलुरू पहुंचकर विधायकों से मिलने का प्रयास किया, क्योंकि दिग्विजय सिंह राज्यसभा के उम्मीदवार हैं और अपने मतदाता विधायकों से मिलकर अपना पक्ष रखना चाहते थे। पुलिस और प्रशासन ने उन्हें मिलने नहीं दिया। इतना ही नहीं पूर्व मुख्यमंत्री सहित विधायकों को हिरासत में ले लिया गया।”

कांग्रेस विधायकों के दल ने राज्यपाल से अपने संवैधानिक प्रभाव का इस्तेमाल कर विधायकों को मुक्त कराने का अनुरोध किया है।

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

नरभक्षियों के महाभोज का चरमोत्कर्ष है यह

पलाश विश्वास वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं। आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की …