Home » 2020 » January (page 5)

Monthly Archives: January 2020

सीएए का विरोध करने वालों की सबसे अधिक मौतें यूपी में, योगी सरकार इस्तीफा दे

Campaign to save democracy

‘योगी सरकार हटाओ-लोकतंत्र बचाओ’ अभियान 29 फरवरी को लखनऊ में होगा लोकतंत्र बचाओ सम्मेलन मार्च से प्रदेशभर में होगी आमसभाएं, रैलियां और जनसम्पर्क लखनऊ 27 जनवरी 2020, योगी सरकार ने पूरे प्रदेश को जेलखाने में तब्दील कर दिया है और पूरे प्रदेश में पुलिस राज चल रहा है। धारा 144 लगाकर धरना, प्रदर्शन, सम्मेलन व आमसभाए जैसी सामान्य लोकतांत्रिक कार्यवाही …

Read More »

रांची का ‘शाहीन बाग’ बनता कडरू

Kadru becomes the Shaheen Bagh of Ranchi

Kadru becomes the Shaheen Bagh of Ranchi 26 जनवरी 2020 को जब हमारा ‘गणतंत्र’ 71 साल का हो रहा था, ठीक उसी दिन लगभग 3:30 बजे शाम में मैं रांची के कडरू के हज हाउस (Haj House of Kadru, Ranchi) के सामने पहुंचा। जहां 20 जनवरी से ही केन्द्र सरकार की जनविरोधी-संविधानविरोधी सीएए (Central government’S anti-people, anti-constitutional CAA), एनआरसी व …

Read More »

56″ मोदी सरकार के लिए बड़ी चुनौती बना शाहीन बाग आंदोलन!

rAVISHANKAR PRASAD

देश में अपनी बात रखने और विभिन्न मुद्दों पर विरोध-प्रदर्शन करने के लिए भले ही जंतर-मंतर को जाना जाता हो पर आज की तारीख में सीएए के विरोध में शाहीन बाग में हो रहे आंदोलन (Movements are being held in Shaheen Bagh against the CAA) ने जो मुकाम हासिल किया है वह जंतर-मंतर को पीछे छोड़ता प्रतीत हो रहा है। …

Read More »

कोरोनावायरस : चीन में बढ़कर 80 हुई मृतकों की संख्या, 2,744 में पुष्टि

Flu

694 new cases have been reported to date :  corona virus latest update नई दिल्ली, 27 जनवरी 2020. चीन के स्वास्थ्य प्रशासन (Health Administration of China) ने सोमवार को घोषणा करते हुए कहा कि रविवार रात तक देश में नोवल कोरोनावायरस (2019-एनसीओवी) जनित निमोनिया के 2,744 मामलों की पुष्टि हो चुकी है, जिनमें 461 लोगों की हालत गंभीर है। इससे …

Read More »

शाहीन बाग़ नेहरू को भूल गया, हम भले ही भूल जाएं, आरएसएस न भूला है, न भूलेगा

Jawaharlal Nehru

Shaheen Bagh forgot Nehru, even if we forget, the RSS has not forgotten, nor will it forget. शाहीन बाग़ के धरने में नेहरू की तस्वीर न होने पर कुछ ही देर पहले ट्वीटर पर Ritambhara Agrawal और फेसबुक पर Ashok Kumar Pandey की चिंता देखी, कुछ कमेंट्स भी। बहुत पहले से कहता आया हूँ कि स्मृति एक नैतिक जिम्मेवारी है, …

Read More »

एससी के पूर्व जज बोले, शरजील इमाम ने कोई अपराध नहीं किया, उसके खिलाफ एफआईआर को उच्च न्यायालय को खारिज कर देना चाहिए

Justice Markandey Katju

Sharjeel Imam did not commit any crime, dismiss FIR against him in High Court : Former SC judge नई दिल्ली, 27 जनवरी 2020. केंद्र की मौजूदा सरकार द्वारा शाहीन बाग आंदोलन में जेएनयू छात्र शरजील इमाम को दूसरा कन्हैया कुमार तैयार किए जाने के प्रयास के बीच सर्वोच्च न्यायालय के अवकाश प्राप्त न्यायाधीश जस्टिस मार्कंडेय काटजू  (Justice Markandey Katju, retired judge …

Read More »

सत्य और संघर्ष से बनी व्यास की आत्मकथा

Kya Kahun Aaj डॉ सत्यनारायण व्यास की आत्मकथा 'क्या कहूं आज'

Non-fiction writing is now the mainstream of Indian literature जयपुर में हुआ डॉ सत्यनारायण व्यास की आत्मकथा ‘क्या कहूं आज‘ विमोचन जयपुर। कथेतर लेखन अब भारतीय साहित्य की मुख्य धारा है जिसमें हमारे युग की सच्चाई बोल रही है। कवि-लेखक डॉ सत्यनारायण व्यास की आत्मकथा ‘क्या कहूं आज’ केवल साधारण मनुष्य की सच्चाई और संघर्ष की दास्तान नहीं है बल्कि …

Read More »

लाइलाज नहीं है कैंसर, जरूरी है उसे सही समय पर पकड़ना : डॉ अभिषेक यादव

Health news

कैंसर से डरने की जरूरत नहीं, कैंसर से लड़ने की जरूरत है : डॉ अभिषेक यादव गाजियाबाद, 26 जनवरी 2020. यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी गाजियाबाद में रविवार को एक निशुल्क कैंसर स्क्रीनिंग एवं जांच शिविर लगाया गया. इस शिविर का उद्घाटन हॉस्पिटल के मैनेजिंग डायरेक्टर डॉ पीएन अरोड़ा ने किया। इस शिविर में कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अभिषेक यादव …

Read More »

हैदराबाद में भीम आर्मी प्रमुख आजाद गिरफ्तार, ओवैसी के समर्थन से चल रही है तेलंगाना सरकार

Chandrashekhar Azad

Bhim Army chief Azad arrested in Hyderabad, Telangana government is running with the support of Owaisi नई दिल्ली, 26 जनवरी 2020. भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर आजाद (Bhim Army chief Chandrashekhar Azad) को पुलिस ने रविवार को उस वक्त गिरफ्तार कर लिया जब वह यहां जनसभा को संबोधित करने के लिए जा रहे थे। इस बात की जानकारी स्वयं चंद्रशेखर आजाद …

Read More »

गणतंत्र को सत्ता वर्ग ने सबसे बड़ा मजाक बना दिया है। आम लोगों के लिए न कानून का राज है, न संविधान कहीं लागू है

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

The RULING CLASS has made the Republic the biggest joke. Neither the rule of law nor the constitution is applicable to common people. आज गणतंत्र दिवस है। अपने बचपन में 15 अगस्त और 26 जनवरी साठ के दशक में जिस जोश से मनाया करते थे हम, जिस तरह कागज पर रंग से तिरंगा बनाकर डंडे पर टांगकर जुलूस में शामिल …

Read More »