Home » 2020 » February (page 2)

Monthly Archives: February 2020

नमस्ते ट्रंप : मोदीजी के दोस्त ने की भरी सभा में पाकिस्तान की तारीफ,  पाकिस्तानी मीडिया में छाया ट्रंप का भाषण

Namaste Trump

ट्रंप के भाषण में पाकिस्तान का उल्लेख Pakistan mentioned in Trump’s speech नई दिल्ली, 24 फरवरी 2020. भारत के दो दिवसीय दौरे पर आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने भाषण में पाकिस्तान का उल्लेख जिस अंदाज में किया, उसे पाकिस्तानी मीडिया ने हाथों हाथ लिया है। पाकिस्तानी मीडिया ने अपनी सुर्खियों में कहा है कि ‘ट्रंप ने भारत में …

Read More »

सीएए, एनपीआर और एनआरसी की क्रोनोलाजी का पर्दाफाश, भाजपा सरकार के झूठ हुए बेनकाब – त्रिवेदी

Amit Shah Narendtra Modi

नोटबंदी की ही तरह पूरे देश को नागरिकता के लिये कतार में खड़ा करना चाहती है मोदी सरकार रायपुर/24 फरवरी 2020। सीएए, एनपीआर और एनआरसी की क्रोनोलाजी का पर्दाफाश करते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं संचार विभाग के अध्यक्ष शैलेश नितिन त्रिवेदी ने मोदी सरकार की नीति और मंशा पर सवाल खड़ा किये  हैं। यह सही है कि अभी …

Read More »

आओ हम सब मिलकर भारत के अंहिसा, शांति और प्रेम के संदेश का प्रदर्शन करें

Prof. Bhim Singh

Come, let us all together demonstrate India’s message of harmony, peace and love. नई दिल्ली, 24 फरवरी, 2020. नेशनल पैंथर्स पार्टी के मुख्य संरक्षक, विश्व शांति परिषद के चेयरमैन एवं वरिष्ठ अधिवक्ता प्रो. भीम सिंह ने भारतीय संमाज के सभी वर्गों और राजनीतिक दलों से भारत के शांति से प्रेम, अहिंसा और सद्भाव का, जिसका भारत सदियों से पालन कर …

Read More »

29 फरवरी को लखनऊ में होगा “लोकतंत्र बचाओ सम्मेलन” – दारापुरी

S.R. Darapuri

Save democracy conference लखनऊ 24 फरवरी, 2020: “29 फरवरी को लखनऊ में होगा लोकतंत्र बचाओ सम्मेलन”- यह बात आज एस आर दारापुरी पूर्व आई जी एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता, आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट ने प्रेस को जारी ब्यान में कही है. उन्होंने आगे कहा है कि आज पूरा उत्तर प्रदेश पुलिस राज में तब्दील हो गया है. धारा 144 लगातार लगा …

Read More »

मुस्लिम महिलाएं और खेल

Muslim women and sports भारत एक विकासशील राष्ट्र है एवं किसी भी देश के लिए लोकशक्ति व समानता का विशेष महत्व रहता है, इसमें स्त्री एवं पुरुष दोनों सम्मिलित हैं क्योंकि ये दोनों समाज के अपरिहार्य अंग हैं। यदि किसी भी देश को विकसित करना है तो सबसे पहले महिलाओं का विकास करना होगा, क्योंकि महिला ही समाज की जननी …

Read More »

जानिए कैसे बनें नेत्र सहायक (ऑप्थैल्मिक टेक्नीशियन) और क्या हैं रोजगार की संभावनाएं

eyes

How to become an ophthalmic assistant   एक समय था जब लोग रोजगार के लिए परेशान हुआ करते थे। लेकिन आज का दौर है कि यहां पर रोजगार तो है लेकिन उस रोजगार के लिए जरूरी योग्यता वाले लोग नहीं हैं। इस वजह से गुणवत्ता  के साथ प्रोडक्टिविटी भी प्रभावित हो रही है। आइए आपको इस आलेख में एक ऐसे प्रोफेशनल …

Read More »

जानिए फूलों से फल कैसे बनते हैं?

Things you should know

Do you know how flowers turn into fruit? हम सभी जानते हैं कि पौधों पर फूल लगते हैं और फूल ही फल बन जाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि फूल फल में कैसे परिवर्तित हो जाते है? आइए, जानते हैं। फूल, पौधे का प्रजनन अंग (Reproductive organ of plant) है जिससे पौधों में लैंगिक प्रजनन की क्रिया (Sexual …

Read More »

बेहद काम की चीज है सब्जियों का राजा आलू

National News

आलू में पाए जाते हैं प्रोटीन, विटामिन सी और कार्बोहाईड्रेट नई दिल्ली 24 फरवरी 2020. भविष्य में देश में खाद्य सुरक्षा की गारंटी दिलाने में अहम भूमिका निभाने वाला सदाबहार आलू न केवल पोषक तत्वों से भरपूर है बल्कि यह कोलेस्ट्रोल के स्तर को कम करने, कैंसर तथा स्कर्वी रोग से बचाव में मदद करता है। इसमें वसा काफी कम मात्रा …

Read More »

बायोचर क्या है?

Forests

बायोचर क्या है? What is biochar? सेन्टर फॉर एप्लाइड जियोसाइंस यूनिवर्सिटी ऑफ टयूबिनजेन के पर्यावरण विशेषज्ञों {Environmental experts from the Center for Applied Geoscience University of Tubingen (The Center for Applied Geoscience (ZAG) at Eberhard Karls Universität Tübingen)} के मुताबिक कि पारंपरिक तरीके से की जाने वाली खेती से ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन (Greenhouse gases emissions) को पर्याप्त मात्रा में …

Read More »

जानिए उपनिवेशवाद क्या है?

Things you should know

What is colonialism in Hindi उपनिवेशवाद (Colonialism) का अभिप्राय उस स्थिति से हैं, जिसमें कोई राष्ट्र अपनी राजनीतिक शक्ति का विस्तार अन्य राष्ट्रों पर कर नियंत्रण स्थापित कर वहां के संसाधनों का अपने हित में शोषण करता है। उपनिवेशीकरण की प्रक्रिया में, उपनिवेशवादी या उपनिवेश बसाने वाले अपने धर्म, अर्थशास्त्र और अन्य सांस्कृतिक प्रथाओं को स्वदेशी लोगों पर थोपते हैं। …

Read More »