अक्टूबर 2020

जानिए क्या है बिल्ली की सफाई का रहस्य

आप रोज़ नहाते हैं और बिल्लियाँ कभी भी नहीं नहातीं, फिर भी वे इतनी साफ़… Read More

वैश्विक रवैये में बदलाव लाए बिना महामारियों के युग से बचना मुश्किल : विशेषज्ञ

दुनिया के 22 शीर्ष विशेषज्ञों का दावा है कि अगरसंक्रामक बीमारियों से लड़ने के लिये… Read More

लाइव डोनर लिवर ट्रांसप्लांट एक सुरक्षित प्रक्रिया : डॉक्टर विवेक विज

हालिया आंकड़ों के अनुसार, भारत में लाइव डोनर लिवर ट्रांसप्लान्ट से गुज़रने वाले 15% मरीज… Read More

चार्ली हेब्डो कार्टून और समकालीन विश्व में ईशनिंदा कानून

चार्ली हेब्डो के कार्टूनिस्टों की 2015 में हुई हत्या का मुकदमा अदालत में प्रारंभ होने… Read More

बिहार के पिछड़ेपन के लिए जिम्मेदार : लालू, मोदी या कोई और!

भारी अफसोस की बात है कि लॉकडाउन के अविवेकपूर्ण फैसले से जो दो बड़ी बातें… Read More

बिहार विधानसभा चुनाव : अब बदलने लगे हैं चुनावी मुद्दे

बिहार की राजनीति में यह अहम चुनाव इसलिए भी हैं क्योंकि युवाओं को लेकर जिस… Read More

अभिनंदन का वंदन तो ठीक, पर पुलवामा में हमारे 40 जवान क्यों शहीद हुए ?

पुलवामा हमले में 40 सीआरपीएफ के जवान शहीद हुए थे। पूरी कन्वॉय में आरडीएक्स से… Read More

गुलामी से मुक्ति : बिहार विधानसभा चुनाव में सबसे बड़े मुद्दे की अनदेखी!

Freedom from slavery: Biggest issue ignored in Bihar assembly elections! बिहार विधानसभा चुनाव के पहले… Read More

गुर्दे की पथरी के उपचार के लिए भारतीय वैज्ञानिकों ने बनाई हर्बल दवा

पथरी छोटी हो तो यह प्रायः मूत्रमार्ग से होकर शरीर से बाहर निकल जाती है।… Read More

बिहार की चुनावलीला | Bihar Election 2020 | Mehbooba Mufti |

बिहार चुनाव से पहले भाजपा के तरकश में अभी और ऐसे कितने तीर छिपे हैं,… Read More

विश्व की पहली साइंटून आधारित पुस्तक “बाय-बाय कोरोना” का लोकार्पण

साइंटून्स के क्षेत्र में, डॉ प्रदीप श्रीवास्तव की 'बाय-बाय कोरोना', अपने प्रासंगिक विषय के रूप… Read More

कार्बोहाइड्रेड की अधिक मात्रा से हो सकता है दोबारा कैंसर का कारण : शोध

शोध में पाया गया है कि कैंसर का इलाज (से पहले के साल में जिन्होंने… Read More

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations