Home » Latest » आज ही पैदा हुआ था तैमूर लंग और आज ही है बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय की पुण्य तिथि
इतिहास में आज का दिन, Today’s History, Today’s day in history,आज का इतिहास,

आज ही पैदा हुआ था तैमूर लंग और आज ही है बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय की पुण्य तिथि

8 अप्रैल – इतिहास में आज का दिन

8 April | Taarikh Gawah Hai

इतिहास में आज का दिन | Today’s History | Today’s day in history | आज का इतिहास

8 अप्रैल सन् 1836 में तैमूर लंग का जन्म हुआ था। तैमूर गज़ब के सैन्य अगुवा थे, जिन्होंने मध्य और दक्षिण-पश्चिम एशिया के अधिकतर हिस्सों को जीत लिया था।

तैमूर के शासन को बर्बरता और सांस्कृतिक उपलब्धि, दोनों के संबंध में ही याद किया जाता है।

8 अप्रैल सन् 1857 में ब्रिटिश भारत की बैरकपुर रेजीमेंट के सिपाही मंगल पांडे को फ़ौजी अनुशासन भंग करने और हत्या करने के अपराध में फांसी पर चढ़ाया गया था।

ब्रिटिश अफ़सरों के ख़िलाफ़ मंगल पांडे की बग़ावत ने सन् 1857 में हुए पहले स्वतंत्रता संग्राम की नींव रखी।

8 अप्रैल सन् 1894 में राष्ट्रीय गीत तैयार करने वाले महान कवि बंकिम चंद्र चट्टोपाध्याय का निधन (Bankim Chandra Chattopadhyay death anniversary) हुआ था।

बंकिम चंद्र 19वीं शताब्दी के बंगाल के प्रकाण्ड विद्वान तथा महान कवि और उपन्यासकार थे। इनकी प्रमुख रचनाएं आनंदमठ, कपाल कुण्डली और मृणालिनी हैं।

8 अप्रैल सन् 1929 में भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन (Indian independence movement) के दौरान दिल्ली सेंट्रल असेम्बली में बम फेंकने के जुर्म में भगत सिंह और बटुकेश्वर को गिरफ़्तार किया गया था। बम फेंककर इन्होंने ख़ुद को गिरफ़्तार कराया और अपनी आवाज़ जनता तक पहुंचाने के लिए अपने मुक़दमे की पैरवी भगत सिंह ने ख़ुद ही की।

इस मामले में भगत सिंह और बटुकेश्र्वर दत्त को आजीवन कारावास मिला।

8 अप्रैल सन् 1950 में भारत-पाकिस्तान विभाजन के बाद दोनों देशों ने अपने- अपने देशों में रह रहे अल्पसंख्यकों के अधिकारों को सुरक्षित करने और भविष्य में दोनों देशों के बीच युद्ध की संभावनाओं को ख़त्म करने के मक़सद से समझौता किया था।

नई दिल्ली में छह दिनों तक चली बातचीत के बाद भारत की ओर से तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु और पाकिस्तान की ओर से प्रधानमंत्री लियाक़त अली ख़ान ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय प्रवक्ता और अवकाशप्राप्त आईपीएस एस आर दारापुरी (National spokesperson of All India People’s Front and retired IPS SR Darapuri)

प्रयागराज का गोहरी दलित हत्याकांड दूसरा खैरलांजी- दारापुरी

दलितों पर अत्याचार की जड़ भूमि प्रश्न को हल करे सरकार- आईपीएफ लखनऊ 28 नवंबर, …

Leave a Reply