Home » Search Results for: Media

Search Results for: Media

#FakeJournalismOfMedia : क्या हिन्दपीढ़ी (रांची) के लोगों ने सफाईकर्मियों व इंफोर्समेंट टीम पर थूका ?

The people of Hindpeedhi Ranchi spit on the scavengers and the Enforcement Team

10 अप्रैल को झारखंड के कई प्रमुख समाचारपत्रों में प्रमुखता से यह खबर छपी कि रांची के हिन्दपीढ़ी में सैनिटाइज करने गये सफाईकर्मियों और इंफोर्समेंट टीम पर लोगों ने अपने छतों पर से थूका (People spit on their roofs on the sanitation workers and the enforcement team who went to sanitize Ranchi’s Hindpiri) और 10-10 रूपये के नोट पर भी …

Read More »

मोदी सरकार की श्रमिक ट्रेनें बनी मजदूरों की अर्थी, रेल मंत्री पर दर्ज हो तत्काल मुकदमा – रिहाई मंच

Maut ki train

ट्रेनों में मजदूरों की मौत के लिए रेल मंत्री जिम्मेदार दर्ज हो तत्काल मुकदमा- रिहाई मंच Railway Minister responsible for the death of laborers in trains, should be immediately registered – Rihai Manch मृतक मजदूरों को पांच-पांच करोड़ रुपया मुआवजा दे सरकार मृतक प्रवासी मजदूरों के परिजनों से मिलेगा रिहाई मंच लखनऊ 27 मई 2020। रिहाई मंच ने श्रमिक ट्रेनों …

Read More »

क्या भारतीय राज्य हिन्दुओं के सैन्यीकरण की ख़तरनाक हिन्दुत्ववादी योजना का मार्ग प्रशस्त कर रहा है?

Recruitement in Force

वर्तमान समय में, भारतीय सुरक्षा बलों को संयुक्त राज्य अमेरिका, रूस और चीन के बाद दुनिया की चौथी सबसे शक्‍तिशाली सेना के रूप में स्थान हासिल है, जिसमें जापान पाँचवें स्थान पर है। इसमें लगभग 3,544,000 फ़ौजी हैं, जिनमें रिज़र्व कर्मियों के रूप में काम करनेवाले 2,100,000 के साथ 1,444,000 सक्रिय ड्यूटी पर हैं।[1] इसे बांग्लादेश युद्ध 1971, कारगिल युद्ध …

Read More »

अमेरिका बन रहे देश के लिए जरूरी सूचना – एक बार फिर महाशक्ति अमेरिका वियतनाम से हार गया

Namaste Trump

अमेरिका बन रहे देश के लिए जरूरी सूचना एक बार फिर महाशक्ति अमेरिका वियतनाम से हार गया विडम्बना देखें, इतिहास का खेल। अमेरिका में कोरोना से एक लाख लोग मारे गए (One Lakh people died in America from Corona)। लेकिन वियतनाम में एक भी मृत्यु कोरोना से नहीं हुई। एक बार फिर महाशक्ति अमेरिका वियतनाम से हार गया। डॉ पार्थ …

Read More »

कृपया इस महाआपदा पर राजनीति न करें, क्या मनुष्य विलुप्त हो जाएगा? इस सवाल पर गौर जरूर कीजियेगा

super cyclone Amphan

Please do not do politics on this great disaster, will man become extinct? Definitely consider this question अच्छी खबर यह है कि अम्फान तूफान से दीघा और ओडिशा को ज्यादा नुकसान नहीं हुआ। अच्छी खबर यह भी है कि प्रधानमंत्री बंगाल की मुख्यमंत्री का अनुरोध मानकर बंगाल और ओडिशा के तूफान पीड़ित इलाकों का दौरा कर रहे हैं। कृपया इस …

Read More »

विश्व मेट्रोलॉजी दिवस : विज्ञान, उद्योग और जीवन के लिए जरूरी सटीक एवं शुद्ध मापन

D K Aswal Director CSIR-National Physical Laboratory (NPL-India)

World Metrology Day in Hindi नई दिल्ली, 20 मई (उमाशंकर मिश्र) : “विज्ञान, उद्योग एवं जीवन की गुणवत्ता के लिए सटीक एवं शुद्ध मापन जरूरी है। इससे न केवल व्यवस्थित तंत्र स्थापित होता है, बल्कि आविष्कारों को भी प्रोत्साहन मिलता है। सटीक मापन पद्धति हो तो जीवन की रक्षा के साथ-साथ संसाधनों एवं समय की भी बचत होती है।” बुधवार …

Read More »

अजय बिष्ट की सरकार घटिया राजनीति की चरमसीमा पर पहुंची देश थूक रहा है : डॉ. अभिषेक मनु सिंघवी

डॉ. अभिषेक मनु सिंघवी Dr. Abhishek Manu Singhvi, Spokesperson, AICC

Dr. Abhishek Manu Singhvi, Spokesperson, AICC addressed the media via video conferencing today. नई दिल्ली, 20 मई 2020. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता डॉ. अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा है कि अजय बिष्ट सरकार जो कर रही है, वो घटिया राजनीति की चरमसीमा है। डॉ. अभिषेक मनु सिंघवी आज वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पत्रकारों से बात कर रहे थे। …

Read More »

कोरोना से मरने वाले तीन लाख लोगों के चेहरे को पहचानें। अपना चेहरा देखना न भूलें

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

कोरोना से हो रही मौतें कुछ भी नही है जो यह नई नरसंहारी ग्लोबल आर्डर भूख, बेरोजगारी के जरिये करने वाला है। कोरोना से मरने वाले तीन लाख लोगों के चेहरे को पहचानें। अपना चेहरा देखना न भूलें। करोड़ों औऱ मारे जाएंगे। पलाश विश्वास न्यूयार्क से डॉ पार्थ बनर्जी का ताजा अपडेट। Lockdown = Loss of jobs (of the poor). …

Read More »

डॉ. राम पुनियानी से समझिए जिहाद का असली अर्थ

डॉ. राम पुनियानी (Dr. Ram Puniyani) लेखक आईआईटी, मुंबई में पढ़ाते थे और सन्  2007 के नेशनल कम्यूनल हार्मोनी एवार्ड से सम्मानित हैं

जिहाद के असली अर्थ को समझने की ज़रूरत Jihad and Jihadi : ARTICLE BY DR RAM PUNIYANI IN HINDI – JIHAD जिहाद और जिहादी – इन दोनों शब्दों का पिछले दो दशकों से नकारात्मक अर्थों और सन्दर्भों में जम कर प्रयोग हो रहा है. इन दोनों शब्दों को आतंकवाद और हिंसा (Terrorism and violence) से जोड़ दिया गया है. 9/11 …

Read More »

अमेरिका के हालात से अपने हालात की तुलना कर लें, वहां जो हो रहा है,हू-ब-हू भारत में वही हो रहा है

Donald Trump

Compare your situation with the situation in America, what is happening there is happening exactly in India. अमेरिका के हालात से अपने हालात की तुलना कर लें। वहां जो हो रहा है,हू-ब-हू भारत में वही हो रहा है। सिर्फ मृतकों की संख्या वहां 81 हजार पार है। बेरोज़गार दस करोड़। हमारे यहां आंकड़े सच बोल रहे हैं? वहां भी गरीब …

Read More »