Home » Latest » आचार्य ने सरकार से कहा- बिना सोचे समझे देश को मौत के मुँह में झोंकना ठीक नहीं.
Acharya Pramod Krishnam.jpg

आचार्य ने सरकार से कहा- बिना सोचे समझे देश को मौत के मुँह में झोंकना ठीक नहीं.

Acharya Pramod Krishnam told the government – It is not right to put the country in the face of death without thinking.

नई दिल्ली, 24 मई 2020. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र सरकार न केवल घरेलू हवाई उड़ानों, बल्कि अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों को भी शुरू करने जा रही है। केंद्र सरकार की इस योजना पर कांग्रेस नेता आचार्य प्रमोद कृष्णम् ने सवाल उठाए हैं।

आचार्य प्रमोद कृष्णम् ने नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप पुरी (Hardeep Singh Puri, India’s Union Minister for Housing & Urban Affairs (I/C); Civil Aviation (I/C); & MoS Commerce & Industry) व प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए ट्वीट किया –

“मौत का दूसरा नाम है कोरोंना,इस लिये मैं

@HardeepSPuri

से गुज़ारिश करता हूँ कि हवाई यात्रा शुरू करने के फ़ैसले पर पुनःविचार करें,

बिना सोचे समझे देश को मौत के मुँह में झोंकना ठीक नहीं.

@PMOIndia”

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

ऑल इंडिया पीपुल्स फ्रंट के राष्ट्रीय प्रवक्ता और अवकाशप्राप्त आईपीएस एस आर दारापुरी (National spokesperson of All India People’s Front and retired IPS SR Darapuri)

प्रयागराज का गोहरी दलित हत्याकांड दूसरा खैरलांजी- दारापुरी

दलितों पर अत्याचार की जड़ भूमि प्रश्न को हल करे सरकार- आईपीएफ लखनऊ 28 नवंबर, …