सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद एयरटेल ने जमा कराए 10 हजार करोड़ रुपये

After Supreme Court rebuke, Airtel deposited 10 thousand crores

नई दिल्ली, 17 फरवरी 2020. सरकार को पहले एजीआर (एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू – Adjusted gross revenue) का भुगतान सोमवार को एयरटेल ने किया है। कंपनी ने दूरसंचार विभाग (डीओटी) को 10 हजार करोड़ रुपये का भुगतान किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि कंपनी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए उसने 10 हजार करोड़ रुपये का भुगतान किया है।

इसने भारती एयरटेल और टेलीनॉर की ओर से 9500 करोड़ रुपये का भुगतान किया है। टेलीनॉर का मूल कंपनी के साथ विलय हो गया है। साथ ही इसकी सहायक कंपनी भारती हेक्साकोम के लिए 500 करोड़ रुपये का भुगतान किया गया है।

एयरटेल ने कहा कि वह खातों के स्व-मूल्यांकन की प्रक्रिया में है और सुनवाई की अगली तारीख (17 मार्च) से पहले शेष राशि का भुगतान कर दिया जाएगा।

दूरसंचार विभाग के अनुसार, भारती एयरटेल उसे 35,500 करोड़ रुपये का भुगतान करेगी।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations