सजी एक शाम तालिब सुल्तानी के नाम

Adorned one evening in the name of Talib Sultani

बदायूँ, 29 नवंबर 2020. उस्ताद तालिब सुल्तानी म्यूजिक एकैडमी द्वारा “एक शाम तालिब सुल्तानी के नाम” से राज महल गार्डन में बीती 27 नवंबर को एक प्रोग्राम आयोजित हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में जिलाधिकारी और विशिष्ट अतिथि के रूप में मुख्य विकास अधिकारी महोदया मौजूद रहे। इसके अलावा विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ नेता फखरे अहमद शोबी और फिल्मी अभिनेता खालिद परवेज मौजूद रहे।

कार्यक्रम में विश्व प्रसिद्ध सारंगी वादक कमाल साबरी ने सभी श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसके बाद दानिश हुसैन बदायूंनी ने अपनी कव्वाली पेश की और दिल्ली से तशरीफ लाए जाफर साबरी ने भी कव्वाली से लोगों का दिल मोह लिया।

दर्शकों की तालियां इस बात का गवाह हैं कि कार्यक्रम बहुत ही सफल रहा। पूरे कार्यक्रम में कोविड-19 के नियमों का पालन होता दिखाई दिया।

मुख्य अतिथि जिलाधिकारी कुमार प्रशांत ने कहा कि बदायूं सूफी संतों की जमीन है और ऐसे कार्यक्रम का होना बदायूं की तहजीब और इसकी विरासत को दर्शाता है। ऐसे कार्यक्रम से लोगों को एक मंच में मिलता है।

    विशेष अतिथि मुख्य विकास अधिकारी निशा अनंत ने कहा कि संगीत का ऐसा कार्यक्रम होना बहुत ही काबिले तारीफ है और मैं आयोजकों को मुबारकबाद देती हूं कि ऐसे कार्यक्रम को करा कर उन्होंने बदायूं की संगीत की विरासत को आगे बढ़ाया है। प्रशासन ऐसे लोगों का सहयोग करने के लिए तत्पर है।

इसके अलावा फखरे अहमद शोबी एवं खालिद परवेज ने भी अपने विचार रखे।

इस मौके पर विकास माहेश्वरी, अक्षत अशेष, डॉ कविता अरोरा, नूरसबा नकवी, सौरभ त्यागी, डॉ मंजू, अशफाक गाजी, सलीमुद्दीन एडवोकेट, सैयद सरवर अली, अंबर शब्बीर, सलीम अहमद, मजहर उद्दीन एडवोकेट, फरहत अली, आरिफ अली, आरिफ फरीदी, भारत शर्मा. समीर खान, सैयद ओवैस ऐसन, जमील सिद्दीकी, फैजुल साकिब, नितिन गुप्ता, जमीर शाहबाज हुसैन, डॉक्टर सलमान कुतुब, राहुल गुप्ता, दीपा, हसीब आदि मौजूद रहे।

संचालन जोएब असलम ने किया

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations