Home » Latest » अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस पर जानिए चाय के फायदे और नुकसान
healthy lifestyle

अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस पर जानिए चाय के फायदे और नुकसान

आज 21 मई 2021 को अंतर्राष्ट्रीय चाय दिवस (International Tea Day in Hindi) मनाया जा रहा है। चाय एक सुगंधित पेय है जिसे कैमेलिया साइनेंसिस की सूखी या ताजी पत्तियों पर गर्म या उबलते पानी डालकर तैयार किया जाता है, जो चीन और पूर्वी एशिया के एक सदाबहार झाड़ी का मूल निवासी है। पानी के बाद, यह दुनिया में सबसे ज्यादा पिया जाने वाला पेय है। इस अवसर पर देशबन्धु में कुछ वर्ष पूर्व प्रकाशित विनीता झा के लेख में चाय के फायदे और नुकसान, नींबू की चाय के फायदे, दूध की चाय पीने के फायदे और नुकसान, खाली पेट चाय पीने के फायदे, बच्चों को चाय पीने के नुकसान, काली चाय पीने के फायदे, Facts Related To Tea और Side Effects Of Tea के बारे में बताया गया है। उक्त लेख का संपादित रूप साभार

सर्द मौसम में कितनी और कैसी हो चाय | what kind of tea and how much quantity is good in winters

आम भारतीय घरों में लोगों की सुबह चाय के प्याले के साथ होती है, लेकिन क्या आप चाय पीने के फायदे और नुकसान के बारे में जानते हैं इस मौसम में कितनी और कैसी चाय पीनी चाहिए, क्या ये भी आपको पता है

मौसम चाहे कोई भी हो, एक दिन में दो बार चाय पी जाए तो इससे हमें कई तरह के लाभ होते हैं। चाय में एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, जो हमारी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। इतना ही नहीं, यह कैंसर से लडऩे में भी सहायक होता है। लेकिन चाय पीने का फायदा हमें तब मिलता है, जब हम चाय को सही तरीके से बना कर पीते हैं और सीमित मात्रा में इसका इस्तेमाल करते हैं। अदरक, तुलसी, पुदीने, शहद या नीबू की चाय या कम लीकर वाली सामान्य चाय पीना लाभदायक होता है। सर्दियों में अदरक के साथ दालचीनी डाल कर चाय पीने से अधिक लाभ होता है।

चाय के अलग-अलग फायदे

एक कप गर्म चाय ठंडी रात में आपको गर्मी देती है या गले के दर्द से राहत दिलाती है। उसी तरह यह वजन को घटाने में भी बहुत अहम भूमिका निभाती है। सर्दियों में अदरक वाली चाय का मजा ही कुछ और है। दिन भर में एक कप अदरक की चाय का इस्तेमाल न सिर्फ स्वाद के लिए अच्छा है, बल्कि सेहत की नजर से भी इसकी चुस्की के फायदे हैं।

सीमित हो मात्रा | सर्दी के बहाने न पिएं ज्यादा चाय! जानें दिन भर में कितने कप पीना है फायदेमंद

आमतौर पर लोग सर्दियों में ज्यादा चाय पीते हैं और गर्मियों में कम, लेकिन मौसम चाहे सर्दी का हो या गर्मी का, रोज दो कप से ज्यादा चाय का इस्तेमाल हानिकारक होता है। दो कप चाय का मतलब है 300 एमएल। एक सामान्य व्यक्ति को एक दिन में 300 एमएल चाय ही पीनी चाहिए। भले ही आप इसे दो बार में पिएं या तीन बार में, लेकिन इससे ज्यादा मात्रा में चाय हर हाल में नुकसान ही पहुंचाएगी। एक बार में 150 एमएल से ज्यादा चाय नहीं पीनी चाहिए। इस बात का भी ध्यान रखना चाहिए कि आपके शरीर की स्थिति क्या है। अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं तो आपके लिए एक बार में ज्यादा चाय पीना परेशानी का कारण बन सकता है। इसलिए एक डायबिटीज के मरीज को एक बार में 50 एमएल से ज्यादा चाय नहीं पीनी चाहिए। अगर आप चाय पीने के ज्यादा ही शौकीन हैं तो दूध की बजाय नीबू वाली चाय आपके लिए ज्यादा बेहतर रहेगी।

अधिक चाय पीने से हो सकता है नुकसान | Loss Of Tea, How Much Tea To Drink In Winter, How Much Tea To Drink Throughout The Day

बहुत ज्यादा चाय पीना हमारे लिए नुकसानदेह साबित होता है। चाय में बहुत ज्यादा मात्रा में टैनिन पाया जाता है। ऐसे में जब हम ज्यादा चाय पीते हैं तो अधिक मात्रा में टैनिन हमारे शरीर में पहुंचता है। इस कारण हमें अनेक समस्याएं हो सकती हैं। खासकर अगर आप पहले से कोई दवा ले रहे हैं तो इससे उन दवाओं का लाभ कम होता है। अगर आप थाइरॉएड के मरीज हैं और चाय का ज्यादा इस्तेमाल करते हैं तो दवाएं आपके शरीर में एब्जॉर्ब नहीं होंगी और आपकी समस्या बढ़ाती जाएगी। ज्यादा चाय पीने से एसिडिटी होती है, इससे आप वाकिफ हैं ही।

अदरक वाली चाय

ठंड में जिन लोगों को कफ, सर्दी-जुकाम जैसी समस्याएं ज्यादा होती हैं, उनके लिए अदरक की चाय बहुत फायदेमंद होती है। अदरक की तासीर गर्म होती है और यह बेहतरीन प्राकृतिक एंटीबायोटिक है, इसलिए ठंड लगने पर एक कप अदरक वाली चाय बहुत ही फायदेमंद साबित होती है।

रोज एक कप अदरक की चाय के सेवन से शरीर की प्रतिरोधी क्षमता बढ़ जाती है, जिससे शरीर को विभिन्न प्रकार के संक्रमणों से लडऩे में आसानी होती है। अदरक में एंटीऑक्सीडेंट्स भरपूर मात्रा में होते हैं।

ठंड में प्रतिदिन एक कप अदरक वाली चाय का सेवन दिल के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है। इसमें अमीनो एसिड होता है, जो शरीर में रक्त के प्रवाह को ठीक रखता है। इससे दिल के दौरे, कार्डियोवस्कुलर बीमारियों, स्ट्रोक और बैड कोलेस्ट्रॉल की आशंका कम होती है।

अदरक वाली चाय की एक प्याली दिन भर ऑफिस में काम, भागदौड़ और व्यस्तता से होने वाली थकान गायब कर सकती है। अदरक वाली चाय का अरोमा यानी महक दिमाग के तनाव को कम करता है और आपको तरोताजा महसूस कराता है। इससे आपकी थकान दूर होती है और आप तरोताजा महसूस करते हैं।

ग्रीन टी

सिर्फ दो कप चाय 70-80 कैलरी तक बर्न करती है। ग्रीन टी तंत्रिका तंत्र को उत्तेजित करके फैट को बर्न करने की प्रक्रिया को तेज करती है। यह मूलत: पेट की चर्बी को कम करती है। ग्रीन टी में कैटचीन नाम का एंटीऑक्सीडेंट और एपीगैलोकैटचीन नाम का यौगिक पाया जाता है, जो मेटाबॉलिज्म की गति बढम कर फैट को बर्न करने में मदद करता है और भूख भी कम करता है।

लौंग वाली चाय

ग्रीन टी की तुलना में लौंग चाय इस काम को ज्यादा प्रभावकारी रूप से करती है। यह सेमी फर्मेन्टेड टी होती है और इसमें जो पॉलिफिनॉल होता है, वह शरीर की चयापचय दर को बढ़ाने में मदद करता है। यह कोलेस्ट्रॉल को कम करने के साथ-साथ फैट को बर्न करता है।

पुदीना चाय

पुदीना चाय पाचन शक्ति बढ़ाकर वजन घटाने की प्रक्रिया बढ़ाने में मदद करती है। यह शरीर में शुगर लेवल को संतुलित रखते हुए मीठा खाने की इच्छा को कम करती है। इसकी गंध ज्यादा खाने की इच्छा को मारती है।

दालचीनी की चाय

यह चाय थोड़ी मसालेदार जरूर होती है, लेकिन खाने को जल्द हजम करवाने में बहुत मदद करती है। यह ब्लड शुगर के स्तर को संतुलित करने के साथ कैलरी को बर्न करती है। इसमें अधिक मात्रा में पॉलिफिनॉल होने के कारण यह चयापचय दर को भी बढ़ाती है।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

news

एमएसपी कानून बनवाकर ही स्थगित हो आंदोलन

Movement should be postponed only after making MSP law मजदूर किसान मंच ने संयुक्त किसान …

Leave a Reply