Home » Latest » रूटीन चेकअप के लिए बुजुर्गो को अस्पताल नहीं जाने की सलाह
Health News in Hindi

रूटीन चेकअप के लिए बुजुर्गो को अस्पताल नहीं जाने की सलाह

Advice to the elderly not to go to the hospital for routine checkup

नई दिल्ली, 29 मार्च 2020 : सरकार ने एक स्वास्थ्य सलाह जारी कर बुजुर्गों से कोविड-19 के मद्देनजर रूटीन चेकअप के लिए अस्पताल (Hospital for routine checkup) नहीं जाने को कहा है। सरकारी एडवाइजरी में कहा गया है,

“रूटीन चेक अप या फॉलो अप के लिए अस्पताल न जाएं। जहां तक संभव हो, अपने चिकित्सक से फोन पर सलाह लें।”

यह भी सलाह दी गई है कि बुजुर्ग कैटरैक्ट और घुटना प्रत्यारोपण जैसी सर्जरी को भी अभी टाल दें।

सरकार ने इस बात का उल्लेख किया है कि उम्र संबंधी बीमारियों और प्रतिरोधक क्षमता की कमी के कारण अधिक आयु के लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमण की आशंकाएं अधिक हैं। ऐसे में इन्हें विशेष एहतियात बरतने की जरूरत है।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! 10 वर्ष से सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 
 भारत से बाहर के साथी पे पल के माध्यम से मदद कर सकते हैं। (Friends from outside India can help through PayPal.) https://www.paypal.me/AmalenduUpadhyaya

एडवाइजरी में बुजर्गो को घर में पके ताजा भोजन, पर्याप्त पानी पीने और प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए ताजा जूस लेने की सलाह दी गई है।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

Arun Maheshwari - अरुण माहेश्वरी, लेखक सुप्रसिद्ध मार्क्सवादी आलोचक, सामाजिक-आर्थिक विषयों के टिप्पणीकार एवं पत्रकार हैं। छात्र जीवन से ही मार्क्सवादी राजनीति और साहित्य-आन्दोलन से जुड़ाव और सी.पी.आई.(एम.) के मुखपत्र ‘स्वाधीनता’ से सम्बद्ध। साहित्यिक पत्रिका ‘कलम’ का सम्पादन। जनवादी लेखक संघ के केन्द्रीय सचिव एवं पश्चिम बंगाल के राज्य सचिव। वह हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं।

अवसाद और मनोविश्लेषण की सैद्धांतिकता

अवसाद और मनोविश्लेषण की सैद्धांतिकता (Theoreticity of Psychoanalysis or Structure of ideology of psychoanalysis and …