देश भर में थाली पिटवाने, ताली बजवाने के बाद मोदी बोले लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं

After beating the plate, clapping all over the country, Modi said that many people are still not taking the lockdown seriously.

नई दिल्ली, 23 मार्च 2020. जनता कर्फ्यू का आह्वान करने के बाद थाली पीटने और ताली बजाने का आव्हान कर पहले तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसे अपनी अति विराट उपलब्धि मान रहे थे, लेकिन कल जिस तरह देश भर में लोगों ने थाली पीटकर और इकट्ठे होकर जनता कर्फ्यू का मजाक बना डाला, उससे शायद प्रधानमंत्री को अपनी गलती का एहसास हो गया है, इसी लिए उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

आज प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया,

“लॉकडाउन को अभी भी कई लोग गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कृपया करके अपने आप को बचाएं, अपने परिवार को बचाएं, निर्देशों का गंभीरता से पालन करें। राज्य सरकारों से मेरा अनुरोध है कि वो नियमों और कानूनों का पालन करवाएं।“

 

मोदीजी ! जुमले नहीं बल्कि प्रबन्ध और संसाधन चाहिए.

ये मूर्खता का स्वर्णिम काल है। थाली पिटवाने और शंख बजवाने के लिए बिग थैंक्यू मोदी जी !

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations