Home » Latest » किसानों के भारत बंद को एआईपीएफ ने दिया समर्थन
AIPF and Mazdoor Kisan Manch demonstrated in support of agitated farmers

किसानों के भारत बंद को एआईपीएफ ने दिया समर्थन

किसान विरोधी कानूनों की वापसी के लिए कल होगा प्रतिवाद

 AIPF supports farmers’ Bharat bandh

लखनऊ, 8 दिसम्बर 2020, किसान विरोधी तीन कानूनों की वापसी, एमएसपी के लिए कानून बनाने, विद्युत संशोधन कानून को रद्द करने की मांग पर कल आयोजित भारत बंद का सक्रिय समर्थन आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट की राष्ट्रीय कार्यसमिति ने किया है।

भारत बंद में एआईपीएफ और मजदूर किसान मंच के कार्यकर्ता किसानों की मांगों के पक्ष में प्रतिवाद दर्ज करायेंगे।

इस आशय का प्रस्ताव एआईपीएफ की हुई वर्चुअल बैठक में लिया गया।

बैठक में लिए प्रस्ताव में कहा गया कि अम्बानी-अडानी की मोदी सरकार को देश की अर्थव्यवस्था की बेहतरी के लिए स्वामीनाथन कमीशन की संस्तुतियों के अनुसार किसानों को फसलों के लागत मूल्यों के डेढ़ गुना ज्यादा दाम पर भुगतान करना चाहिए, सरकारी तंत्र द्वारा किए जा रहे भ्रष्टाचार को रोकने के लिए किसान व नागरिक प्रतिनिधियों को लेकर बड़े पैमाने पर सहकारी समितियों के निर्माण करना चाहिए और इसके जरिए गांव व कस्बा स्तर पर फसलों की खरीद और स्टोरेज की व्यवस्था कर सार्वजनिक वितरण प्रणाली को मजबूत करना चाहिए।

प्रस्ताव में कहा गया कि आरएसएस और उसकी मोदी सरकार को देश हित में जारी किसानों आंदोलन का दमन करने, उसे बदनाम करने और उसके खिलाफ षडयंत्र करने के बजाए किसानों की मांग माननी चाहिए। यह जानकारी एआईपीएफ के राष्ट्रीय प्रवक्ता व पूर्व आईजी एस. आर. दारापुरी ने प्रेस को जारी विज्ञप्ति में दी।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

paulo freire

पाओलो फ्रेयरे ने उत्पीड़ियों की मुक्ति के लिए शिक्षा में बदलाव वकालत की थी

Paulo Freire advocated a change in education for the emancipation of the oppressed. “Paulo Freire: …

Leave a Reply