Home » Latest » कांशीराम को अखिलेश की गजब श्रद्धांजलि, बसपा के चार नेता तोड़े, पंडित ने बताया 22 में अखिलेश 350 सीटें जीतेंगे !
Akhilesh Yadav KanshiRam

कांशीराम को अखिलेश की गजब श्रद्धांजलि, बसपा के चार नेता तोड़े, पंडित ने बताया 22 में अखिलेश 350 सीटें जीतेंगे !

कांशीराम को अखिलेश की गजब श्रद्धांजलि : BSP के 4 नेता SP में शामिल, पंडित ने बताया 22 में अखिलेश 350 सीटें जीतेंगे !

लखनऊ 15 मार्च। कभी मायावती को चिढ़ाने के लिए कांशीराम जयंती के दिन 15 मार्च को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले अखिलेश यादव ने एक बार फिर कांशीराम जयंती पर अजब तरीके से मायावती को चिढ़ाते हुए कांशीराम को अपनी श्रद्धांजलि दी है। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की स्थापना करने वाले कांशीराम की जयंती के मौके पर रविवार को बुंदेलखंड में बसपा के चार कद्दावर नेताओं ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के प्रति आस्था व्यक्त करते हुये समाजवादी पार्टी (सपा) की सदस्यता ग्रहण की।

शाहनवाज आलम ने बोला अखिलेश यादव पर हल्ला, कहा सपा का मुस्लिम विरोधी चेहरा एक बार फिर उजागर

पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में आयोजित एक कार्यक्रम में बसपा के पूर्व सांसद बलिहारी बाबू, पूर्व विधान परिषद सदस्य एवं समन्वयक तिलक चंद अहिरवार,पूर्व विधायक फेरनलाल अहरवार और पूर्व विधायक अनिल अहिरवार ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता हासिल की।

इस मौके पर तिलक चंद अहिरवार ने कहा कि बसपा प्रमुख मायावती ने बाबा साहब डा भीमराव अंबेडकर और श्री कांशीराम के आदर्शो से भटक गयी है। पार्टी में दलितों की आवाज नहीं सुनी जा रही है जिससे त्रस्त होकर उन्होंने सपा में शामिल होने का फैसला किया।

उन्होंने कहा कि वह सपा अध्यक्ष को विश्वास दिलाते हैं कि वे बुंदेलखंड की सभी 19 सीटों को सपा के पक्ष में करने के लिये दिन रात एक कर देंगे।

अखिलेश को आजमगढ़ जाने से कौन रोक रहा है : शाहनावज आलम

उन्होंने कहा कि श्री कांशीराम के सपनों को पूरा करने में समाजवादी पार्टी अहम भूमिका निभा सकती है।

आरोप लग रहे हैं कि अखिलेश यादव अब सॉफ्ट हिंदुत्व की राह पर हैं और आजमगढ़ में बिलरियागंज में सीएए विरोधी प्रदर्शनकारी महिलाओं पर पुलिस जुल्म के बाद उनके मखारविंद से अभी तक एक शब्द भी नहीं निकला है, जबकि आजमगढ़ उनका संसदीय क्षेत्र है। अब अखिलेश यादव ने बताया है कि वह 2022 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में 351 सीटें जीतेंगे क्योंकि एक पंडित ने उन्हें बताया है कि वे 250 सीटें जीतेंगे।

Lucknow, Bahujan Samaj Party, BSP, Kanshi Ram Jayanti, Akhilesh Yadav, Samajwadi Party, SP,लखनऊ,बहुजन समाज पार्टी,बसपा,कांशीराम जयंती, अखिलेश यादव, समाजवादी पार्टी,सपा

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

नरभक्षियों के महाभोज का चरमोत्कर्ष है यह

पलाश विश्वास वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं। आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की …