Home » Latest » सभी पैसेंजर, एक्सप्रेस ट्रेनें 31 मार्च तक रद्द, केवल मालगाड़ी चलेंगी : रेलवे
Tejas Train

सभी पैसेंजर, एक्सप्रेस ट्रेनें 31 मार्च तक रद्द, केवल मालगाड़ी चलेंगी : रेलवे

All passenger, express trains canceled till 31 March, only freight trains will run: Railways

नई दिल्ली, 22 मार्च 2020 : देश में कोरोनोवायरस से संक्रमित रोगियों की बढ़ती संख्या के मद्देनजर राष्ट्रीय परिवहन रेलवे ने रविवार को मालगाड़ियों को छोड़कर सभी ट्रेनों को 31 मार्च तक रद्द करने की घोषणा की।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रेलवे मंत्रालय के कार्यकारी निदेशक राजेश दत्त बाजपेयी (Rajesh Dutt Bajpai, Executive Director, Ministry of Railways) ने अपने बयान में कहा,

“31 मार्च की मध्यरात्रि तक मालगाड़ी को छोड़कर कोई भी ट्रेन नहीं चलाई जाएगी।”

बाजपेयी ने कहा कि कम से कम उपनगरीय सेवाएं और कोलकाता मेट्रो रेल सेवा 22 मार्च की आधी रात तक चलती रहेगी।

उन्होंने आगे कहा,

“इसके बाद यह सेवाएं 31 मार्च की मध्यरात्रि तक रोक दी जाएंगी।”

महाराष्ट्र और बिहार में कोविड -19 की दो ताजा मौतों की खबरों के बीच राष्ट्रीय परिवहन ने यह फैसला लिया है।

रविवार को कोविड -19 रोगियों की कुल संख्या 300 का आंकड़ा पार कर गई।

‘जनता कर्फ्यू’ के मद्देनजर, भारतीय रेलवे ने पहले ही शाम 4 बजे से 10 बजे के बीच लंबी दूरी की ट्रेनों को रद्द करने का फैसला किया था। रेलवे ने देशभर की सभी यात्री ट्रेनों को भी रद्द कर दिया है।

इससे पहले रेलवे ने देश भर में 245 जोड़ी ट्रेनों को रद्द कर दिया था और वातानुकूलित डिब्बों में कंबल देना भी बंद कर दिया था।

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

पलाश विश्वास जन्म 18 मई 1958 एम ए अंग्रेजी साहित्य, डीएसबी कालेज नैनीताल, कुमाऊं विश्वविद्यालय दैनिक आवाज, प्रभात खबर, अमर उजाला, जागरण के बाद जनसत्ता में 1991 से 2016 तक सम्पादकीय में सेवारत रहने के उपरांत रिटायर होकर उत्तराखण्ड के उधमसिंह नगर में अपने गांव में बस गए और फिलहाल मासिक साहित्यिक पत्रिका प्रेरणा अंशु के कार्यकारी संपादक। उपन्यास अमेरिका से सावधान कहानी संग्रह- अंडे सेंते लोग, ईश्वर की गलती। सम्पादन- अनसुनी आवाज - मास्टर प्रताप सिंह चाहे तो परिचय में यह भी जोड़ सकते हैं- फीचर फिल्मों वसीयत और इमेजिनरी लाइन के लिए संवाद लेखन मणिपुर डायरी और लालगढ़ डायरी हिन्दी के अलावा अंग्रेजी औऱ बंगला में भी नियमित लेखन अंग्रेजी में विश्वभर के अखबारों में लेख प्रकाशित। 2003 से तीनों भाषाओं में ब्लॉग

नरभक्षियों के महाभोज का चरमोत्कर्ष है यह

पलाश विश्वास वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं। आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की …